फर्जी मरीज के नाम पर लेते थे डोनर कार्ड, खून लेकर बेचते थे ब्लैक में

पुलिस के अनुसार इनका ये धंधा रिम्स और आलम नर्सिंग होम में चल रहा था.

News18 Jharkhand
Updated: September 11, 2018, 11:43 AM IST
फर्जी मरीज के नाम पर लेते थे डोनर कार्ड, खून लेकर बेचते थे ब्लैक में
खून की कालाबाजारी का पर्दापाश
News18 Jharkhand
Updated: September 11, 2018, 11:43 AM IST
राजधानी रांची में खून की कालाबाजारी का मामला सामने आया है. रिम्स में अवैध रूप से चल रहे इस धंधे का एक स्टिंग के द्वारा पर्दाफाश हुआ है. स्टिंग के सामने आने के बाद पुलिस ने एक नाबालिग लड़की समेत तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. इनसे पूछताछ की जा रही है.

गिरोह का सरगना किशन मिश्रा फरार हो गया है. पुलिस के अनुसार इनका ये धंधा रिम्स और आलम नर्सिंग होम में चल रहा था. हालांकि पूछताछ में ये बात भी सामने आई है कि शहर के अन्य अस्पतालों में भी इनकी पैठ थी. पुलिस मामले की जांच के साथ-साथ सरगना की गिरफ्तारी की कोशिश में जुटी है.

पुलिस के मुताबिक गिरफ्तार आरोपी सामाजिक संस्था से फर्जी मरीज के नाम पर ब्लड डोनर कार्ड लेते थे. उसी कार्ड से खून लेकर रिम्स समेत अन्य अस्पतालों में 3500 रुपया प्रति यूनिट खून बेचते थे. पकड़ाए आरोपियों में से एक नाबालिग लड़की है. जबकि मो. गुड्डू लोअर बाजार और मदन कुमार इंद्रप्रस्थ का रहने वाला है. इनके खिलाफ बरियातू थाने में केस दर्ज हुआ है.

(ओमप्रकाश की रिपोर्ट)

 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर