• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • RANCHI TIGER DIES IN RANCHI S BIRSA MUNDA ZOO FEAR OF DEATH DUE TO CORONA JHNJ

रांची के बिरसा मुंडा जू में बाघ की मौत से सनसनी, कोरोना होने की आशंका

बाघ के किडनी और लीवर में इंफेक्शन पाया गया.

बिरसा जैविक उद्यान (Birsa Munda Biological Park) के डॉक्टर ओम प्रकाश साहु ने मौत की पुष्टि करते हुए बताया कि बाघ का RTPCR टेस्ट करवाया गया. साथ ही कोरोना जांच के लिए नमूने को आईवीआरआई (IVRI) बरेली भी भेजा जा रहा है.

  • Share this:
रांची. पिछले चार दिनों से बीमार चल रहे शिवा नामक बाघ (Tiger) की शुक्रवार को मौत हो गई. बाघ की मौत से रांची के ओरमांझी में स्थित बिरसा मुंडा जैविक उद्यान (Birsa Munda Biological Park) में उदासी छा गई. बाघ को 4 दिनों से बुखार आ रहा था. मेडिकल टीम उसके इलाज में लगी हुई थी, लेकिन तमाम कोशिशों के बाद भी उसे बचाया नहीं जा सका.

जैविक उद्यान के डॉक्टर ओम प्रकाश साहु ने मौत की पुष्टि करते हुए बताया कि बाघ का रैपिड एंटीजन टेस्ट कराया गया था. हालांकि उसकी रिपोर्ट निगेटिव आयी थी. इसके बाद RTPCR टेस्ट के लिए सैंपल भेजा गया. अब कोविड जांच के लिए बाघ के नमूने को आईवीआरआई (IVRI) बरेली भेजा जा रहा है.

बेंगलुरु से लाया गया था रांची

बाघ को 3 साल की उम्र में बेंगलुरु से बिरसा जैविक उद्यान लाया गया था. 11 मई 2011 को बेंगलुरु के चिड़ियाघर में उसका जन्म हुआ था. 24 नवंबर, 2014 को उसे वहां से रांची उद्यान लाया गया था.

जानकारी के मुताबिक शिवा को पिछले चार दिनों से बुखार आ रहा था. वेटनरी कॉलेज के डॉक्टर प्रवीण कुमार और बिरसा मुंडा जू के डॉक्टर ओमप्रकाश साहु के साथ टाटा जू के डॉ माणिक पालिक लगातार उसका इलाज कर रहे थे. रांची वेटनरी कॉलेज के पैथोलॉजी विभाग के हेड डॉ. एमके गुप्ता ने शिवा के ब्लड की जांच की थी, जिसमें किडनी और लीवर में इंफेक्शन पाया गया था.

कोरोना को लेकर बरती जा रही सतर्कता
अगर शिवा की मौत के पीछे की वजह कोरोना वायरस सामने आती है, तो ये उद्यान में मौजूद बाकि जानवरों के लिए बड़ा खतरा हो सकता है. हालांकि, लॉकडाउन की वजह से उद्यान आमलोगों के लिए बंद है. फिर भी प्रबंधन पूरी तरह से सतर्क है. कोरोना संक्रमण को लेकर तमाम उपाय किए जा रहे हैं.