धूमधाम से मना करमा पर्व, राज्यपाल ने कहा- आदिवासियों की घटती आबादी चिंताजनक

इस मौके पर करम वृक्ष की पूजा-अर्चना की गई. साथ ही मांदर और ढोल की थाप पर आदिवासी युवक-युवतियों ने नृत्य पेश किये.

News18 Jharkhand
Updated: September 9, 2019, 5:24 PM IST
धूमधाम से मना करमा पर्व, राज्यपाल ने कहा- आदिवासियों की घटती आबादी चिंताजनक
रांची में धूमधाम से मना करमा पर्व
News18 Jharkhand
Updated: September 9, 2019, 5:24 PM IST
रांची. राजधानी में प्रकृति पर्व करमा धूमधाम से मनाया गया. इस मौके पर जगह- जगह अखड़ा सजाया गया, जहां ढोल- नगाड़े की थाप पर आदिवासी युवक- युवतियां नृत्य करते नजर आए. राज्यपाल द्रौपदी मुर्मू ने रांची और श्यामा प्रसाद मुखर्जी विश्वविद्यालय में आयोजित समारोह में शिरकत की. इस दौरान उन्होंने कम बारिश, पेड़-पौधों की कटाई, कुपोषण, आदिम जनजातियों की घटती आबादी और अंधविश्वास पर चिंता जाहिर की. समारोह में पद्मश्री मुकुंद नायक समेत बड़ी संख्या में शिक्षक, छात्र और आमलोगों ने भाग लिया.

 गांवों को गोद लें विश्वविद्यालय व महाविद्यालय

राज्यपाल ने कुलपतियों से आग्रह किया कि विश्वविद्यालय और महाविद्यालय गांवों को गोद लें और वहां के निवासियों के बीच फैले
अंधविश्वास को खत्म कराने के लिए जागरूकता फैलाएं. कुपोषण को मिटाने के भी उपाय बताएं.

karma festival
रांची यूनिवर्सिटी में करमा पर्व की धूम


इस मौके पर करम वृक्ष की पूजा-अर्चना की गई. साथ ही मांदर और ढोल की थाप पर नृत्य पेश किये गये. पद्मश्री मुकुंद नायक ने कहा कि अच्छे कर्म से ही अच्छे धर्म का लाभ मिलता है.

केन्द्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने भी प्रकृति पर्व करमा को लेकर बधाई दी. उन्होंने कहा कि जनजातीय क्षेत्रों में इसे बड़े ही हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है. इसके माध्यम से प्रकृति और कर्म की प्रधानता का संदेश दिया जाता है.
Loading...

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने भी करमा पर्व की बधाई दी.

रिपोर्ट- उपेन्द्र कुमार व भुवन किशोर

ये भी पढे़ं- Analysis: न तीर न कमान, जेडीयू के सामने झारखंड का मुश्किल मैदान

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 9, 2019, 5:22 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...