'प्रधानमंत्री के कौशल विकास कार्यक्रम का लाभ उठाए आदिवासी समाज'

आदिवासी समाज को शिक्षित करने और उन्हें स्वरोजगार से जोड़ने के लिए आदिवासी समाज के लोग अब आगे आ रहे हैं. आदिवासी बहुउद्देशीय उत्थान सहकारी समिति कुछ इसी तर्ज पर अब समाज के लोगों के उत्थान में जुटी है.

0m Prakash | News18 Jharkhand
Updated: September 16, 2018, 4:54 PM IST
'प्रधानमंत्री के कौशल विकास कार्यक्रम का लाभ उठाए आदिवासी समाज'
रांची - आदिवासी बहुउद्देशीय उत्थान सहकारी समिति समाज के लोगों के उत्थान में जुटी.
0m Prakash | News18 Jharkhand
Updated: September 16, 2018, 4:54 PM IST
प्रधानमंत्री के कौशल विकास के सपने से प्रेरित होकर अब आदिवासी समाज के लोग भी बदलते समय के साथ समाज के साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने की जरूरत महसूस करने लगे हैं. इस बात को समझते हुए ही आदिवासी समाज को शिक्षित करने और उन्हें स्वरोजगार से जोड़ने के लिए आदिवासी समाज के लोग अब आगे आ रहे हैं. आदिवासी बहुउद्देशीय उत्थान सहकारी समिति कुछ इसी तर्ज पर अब समाज के लोगों के उत्थान में जुटी है.

यह रांची के हरमू मैदान में समिति द्वारा आयोजित कार्यक्रम में देखने को मिली जहां रांची के आस पास के जिलों से आये आदिवासी समाज के हजारों लोग इस कार्यक्रम में शामिल हुए. समिति के संस्थापक और अध्यक्ष ने कहा कि समाज लंबे समय तक उपेक्षित रहा है. अशिक्षा और बेरोजगारी की समस्या समाज में काफी ज्यादा है. इसे देखते हुए और प्रधानमंत्री के कौशल विकास कार्यक्रम से प्रेरित होकर समाज को कुशल बनाने का प्रयास किया जा रहा है.

आदिवासी बहुउद्देशीय उत्थान सहकारी समिति के अध्यक्ष रमेश कच्छप ने बताया कि प्रदेश में शिक्षा का अलख जगाना तो अहम है ही. साथ ही समाज को रोजगार के अवसर प्रदान करना भी इस समिति का मुख्य उद्देश्य है. उन्होंने कहा कि जैविक कृषि की तकनीक से भी समाज के किसानों की स्थिति को सुधारने की कोशिश की जा रही है.

 
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर