लाइव टीवी

बंदूक की नोंक पर मुंहबोले चाचा ने किया नाबालिग का रेप, आरोपी अबतक फरार
Ranchi News in Hindi

ओम प्रकाश | News18 Jharkhand
Updated: January 4, 2020, 5:46 PM IST
बंदूक की नोंक पर मुंहबोले चाचा ने किया नाबालिग का रेप, आरोपी अबतक फरार
राजधानी रांची के जगन्नाथपुर इलाके में एक 17 वर्षीय नाबालिग से दुष्कर्म का मामला सामने आया है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

राजधानी रांची (ranchi) के जगन्नाथपुर इलाके में एक 17 वर्षीय बालिका से दुष्कर्म (Rape With Minor Girl) का मामला सामने आया है. पीड़िता को मेडिकल जांच (Medical test) के लिए भेजा गया है. नाबालिग इस घटना से इस कदर टूट गई और फंदे से लटक जान देने की कोशिश भी की थी.

  • Share this:
रांची. झारखंड की राजधानी रांची (ranchi) के जगन्नाथपुर इलाके में एक 17 वर्षीय बालिका से दुष्कर्म (Rape With Minor Girl) का मामला सामने आया है. पीड़िता को मेडिकल जांच (Medical test) के लिए भेजा गया है. दुष्कर्म की घटना बीते शनिवार की शाम की है. नाबालिग इस घटना से इस कदर टूट गई और फंदे से लटक जान देने की कोशिश भी की थी. हालांकि परिजनों और स्थानीय लोगों ने पीड़िता की जान बचा ली. वहीं इस मामले के संज्ञान में आने के बाद से ही पुलिस आरोपी की तलाश में उसके संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है.

पिकनिक मनाकर लौट रही थी नाबालिग लड़की

जानकारी के अनुसार जगन्नाथपुर इलाके की रहने वाली नाबालिग अपने कुछ सहेलियों के साथ शनिवार को पिकनिक मनाने खूंटी गई थी. वहां से लौटने के दौरान उसके परिचित जिसे वो चाचा कहती थी, उसने लिफ्ट देने के बहाने अपने बाइक में बिठा लिया और उसे एक फ्लैट में ले गए. वहां मुंहबोले चाचा ने नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया. पीड़िता के शोर मचाने पर आरोपी ने उसे पिस्टल दिखाकर जान से मारने की धमकी भी दी. पीड़िता उसके चंगुल से किसी तरह बच कर वहां से निकलकर अपने घर पहुंची और फंदे से लटक कर जान देने की कोशिश की लेकिन घरवालों ने उसे बचा लिया.

पीड़िता ने घटना के बाद आत्महत्या की कोशिश

परिजनों के द्वारा पूछने पर पीड़िता ने उन्हें अपनी आपबीती सुनाई. नाबालिग की बात सुनने के बाद परिजनों के साथ पीड़िता थाने पहुंची और मामला दर्ज कराया. इसके बाद से पुलिस आरोपी की गिरफ्तारी का प्रयास कर रही है. वहीं पीड़िता के बयान के आधार पर पुलिस साक्ष्य इकट्ठा करने की कवायद में जुटी है. हालांकि मामले पर पुलिस की तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है. पुलिस फिलहाल मेडिकल रिपोर्ट का इंतज़ार कर रही है.

महिला संगठनों ने आरोपी को गिरफ्तार करने की मांग की

इस घटना से आहत महिला संगठन की सदस्याएं भी थाने पहुंची और इस मामले को लेकर पुलिस से जल्द कार्रवाई की मांग भी की. महिलाओं का कहना है कि इस तरह की घटनाएं ये बताती हैं कि वर्तमान समय मे किसी पर भी भरोसा करना जायज नहीं है.ह्यूमन ट्रैफिकिंग से बचाई जा चुकी है पहले ही पीड़िता

पिता के कर्ज की वजह से पीड़िता एक बार पहले ही ह्यूमन ट्रैफिकिंग की शिकार होने से बाल—बाल बची थी. तत्कालीन हटिया डीएसपी की त्वरित कार्रवाई की वजह से पीड़िता के साथ किसी तरह की अनहोनी होने से पहले ही उसे बचा लिया गया था. ये घटना वर्ष मार्च 2018 में जगन्नाथपुर इलाके में रहने वाले एक प्रोफेसर ने पीड़िता के पिता द्वारा एक लाख रुपये कर्ज चुकता नहीं किए जाने पर नाबालिग को अगवा कर दिल्ली ले जा रहा था. उसने कहा कि जबतक कर्ज नहीं चुका देते लड़की दिल्ली में काम करेगी. इसके बाद नाबालिग के पिता पुलिस के पास पहुंचे और पूरी घटना की जानकारी दी थी. इसके बाद पुलिस ने गाजियाबाद से लड़की का रेस्क्यू कर लिया था. इसके साथ ही आरोपित प्रोफेसर राकेश सिंह को गिरफ्तार भी किया गया था.

यह भी पढ़ें: 6 जनवरी से झारखंड विधानसभा का विशेष सत्र, स्पीकर को लेकर इन नामों पर मंथन

अवैध संबंध में सनकी शख्स ने खेला खूनी खेल, भाई-भाभी की कर दी हत्या 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए रांची से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 4, 2020, 5:34 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर