• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • केन्द्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी का झारखंड दौरा, बोले- बिजली संयंत्रों को नहीं होने दी जाएगी कोयले की कमी

केन्द्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी का झारखंड दौरा, बोले- बिजली संयंत्रों को नहीं होने दी जाएगी कोयले की कमी

केन्द्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने चतरा में अशोक कोल परियोजना  का जायजा लिया.

केन्द्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने चतरा में अशोक कोल परियोजना का जायजा लिया.

Prahlad Joshi in Jharkhand: केंद्रीय कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि कोयले की कमी पर मुझे राजनीति नहीं करनी है. हमें यह सुनिश्चित करना है कि देश के बिजली संयंत्रों को कोयले की जितनी आवश्यकता है, इतनी आपूर्ति की जा रही है.

  • Share this:

रांची. केंद्रीय कोयला खान एवं संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी (Prahlad Joshi) ने चतरा के सीसीएल की अशोक कोल परियोजना का निरीक्षण किया. और कोयला उत्पादन का जायजा लिया. उन्होंने कहा कि देश में कोयले (Coal) की वजह से बिजली संयंत्रों (Power Plants) को परेशानी नहीं होने दी जाएगी.

देश में कोयले की कमी से आए बिजली संकट की खबरों के बीच भारत सरकार के कोयला, खान एवं संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी आज अपने एक दिवसीय झारखंड दौरे के क्रम में चतरा जिले के पिपरवार कोयलांचल क्षेत्र पहुंचे. इस क्रम में हेलीपैड पर सीसीएल के सीएमडी पीएम प्रसाद, चतरा उपायुक्त अंजली यादव, एसपी राकेश रंजन व सिमरिया विधायक किशुन दास समेत अन्य अधिकारियों ने बुके देकर कोयला मंत्री का स्वागत किया.

दूसरी ओर अपने दौरे के क्रम में मंत्री ने अधिकारियों के साथ सेंट्रल कोलफील्ड्स लिमिटेड की “अशोक कोल परियोजना” का निरीक्षण करते हुए माइंस में की जा रही कोयला उत्पादन व ढुलाई की गतिविधियों की जानकारी ली तथा अधिक से अधिक कोयला उत्पादन में और भी तेजी लाने पर बल देते हुए अधिकारियों के संग विस्तार से विचार-विमर्श भी किया. वहीं कोयले का उत्पादन बढ़ाने को लेकर अधिकारियों को कई दिशा निर्देश भी दिए गए.

इस मौके पर केंद्रीय कोयला मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा कि कोयले की कमी पर मुझे राजनीति नहीं करनी है. कहा कि अभी हमें यह सुनिश्चित करना है कि देश के बिजली संयंत्रों को कोयले की जितनी आवश्यकता है इतनी आपूर्ति की जा रही है. कोयला मंत्री ने कहा कि मैं आश्वस्त करता हूं कि देश के बिजली संयंत्रों द्वारा बिजली उत्पादन के लिए की जा रही कोयले की आपूर्ति करने में कोई समस्या आड़े नहीं आएगी.

कोयला मंत्री ने कहा कि उत्पादन में तेजी लाने के लिए मेरे द्वारा माइंस वगैरह का विजिट कर वस्तुस्थिति की समीक्षा की जा रही है. उन्होंने कहा कि पावर मंत्रालय से जो दो मिलियन टन का रिक्वायरमेंट अथवा जो डिमांड थी, वह कल से स्टेबल हो गई है. उत्पादन व सप्लाई बढ़ाने की दिशा में हम अच्छा काम कर रहे हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज