झारखंड बजट सत्र: पेयजल संकट पर सदन में हंगामा, विपक्ष ने पानी के सवाल पर सरकार को घेरा

झारखंड विधानसभा में विपक्ष ने पानी के सवाल पर सोरेन सरकार को जमकर घेरा.

झारखंड विधानसभा में विपक्ष ने पानी के सवाल पर सोरेन सरकार को जमकर घेरा.

झारखंड बजट सत्र में बुधवार को पानी के सवाल पर सदन में कई विधायकों ने सरकार को घेरा. इस दौरान विधायकों ने चापानल की वर्तमान स्थिति से लेकर जल छाजन की लंबित योजना पर सरकार की मंशा पर सवाल उठाया. वही लाइट हाउस परियोजना में लाभुकों की हिस्सेदारी पर भी सदन में सवाल खड़े किए गए.

  • Last Updated: March 10, 2021, 3:35 PM IST
  • Share this:
रांची. झारखंड में बढ़ते तापमान का असर बुधवार को बजट सत्र के दौरान देखने को मिला. जब प्रश्नकाल के दौरान कई विधायकों ने चापानल की वर्तमान स्थिति, सरकार की तैयारी, लंबित जलछाजन योजना, बाघमारा के BCCL क्षेत्र में पेय जल की समस्या को लेकर काफी देर तक सवाल-जवाब होता रहा. सदन में मुख्य विपक्षी दल बीजेपी के विधायकों ने पानी के संकट पर जमकर हंगामा किया. उनके सवालों पर कई बार सरकार घिरती हुई नजर आई. सदन में पेयजल एवं जलछाजन की लंबित योजना पर विभागीय मंत्री ने जवाब दिया.

पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री ने चापानल की वर्तमान स्थिति से सदन को अवगत कराते हुए वहां के आंकड़े भी दिए. इसके तहत 8 हजार 848 चापानल की विशेष मरम्मती, 12 हजार 464 का वाटर लेबल की समस्या, 1 हजार 634 में पाइप ठीक कराना, 1 लाख 10 हजार में सामान्य मरम्मती का कार्य पूर्ण करने का दावा किया गया. वहीं हर पंचायत में 5 नये चापानल लगाने की बात कही गई है. जबकि संसदीय कार्य मंत्री ने लंबित जलछाजन योजना को चालू कराने का भरोसा दिलाया है.

लाइट हाउस परियोजना पर सवाल

लाइट हाउस परियोजना को लेकर प्रदीप यादव ने अपने अल्प सूचित प्रश्न के तहत इसे गरीब परिवारों के अनुकूल नहीं बताया है. लाइट हाउस परियोजना में लाभुक की हिस्सेदारी 6 लाख 79 हजार को बहुत ज्यादा बताते हुये इस योजना पर विचार करने की बात कही गई. हालांकि इस पर सदन में सरकार कुछ स्पष्ट तौर पर नहीं बोल पाई.
बजट सत्र में ये पहला मौका था, जब सदन के अंदर प्रश्नकाल सुचारू रूप से संचालित हो पाए. हालांकि सरकार और विभाग के जवाब से विधायक बहुत ज्यादा संतुष्ट नहीं दिखे, पर सदन के संचालन से अब जनता से जुड़े सवाल जरूर उठने शुरू हो गए है, जो अब तक हंगामे की भेंट चढ़ रहे थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज