अपना शहर चुनें

States

सुषमा बड़ाइक यौन शोषण मामले में फैसला 23 दिसंबर को

अविनाश कुमार
अधिवक्ता, बचाव पक्ष
अविनाश कुमार अधिवक्ता, बचाव पक्ष

सुषमा बड़ाइक यौन शोषण मामले में फंसे पूर्व आईजी पी.एस. नटराजन की किस्मत का फैसला 23 दिसंबर को होगा. रांची सिविल कोर्ट में इस केस में 23 दिसंबर को फैसला आएगा.

  • Share this:
सुषमा बड़ाइक यौन शोषण मामले में फंसे पूर्व आईजी पी.एस. नटराजन की किस्मत का फैसला 23 दिसंबर को होगा. रांची सिविल कोर्ट में इस केस में 23 दिसंबर को फैसला आएगा. न्यायाधीश शिवपाल सिंह की अदालत ने इस केस की सुनवाई पुरी करते हुए इस केस के फैसले की तारीख मुकर्रर कर दी है.

12 वर्ष तक चले इस केस में अभियोजन पक्ष की ओर से 73 गवाहों को कोर्ट में लाया गया. वहीं आरोपी आईजी ने बचाव के लिए 14 गवाह अदालत में उपस्थित कराकर अपने को निर्दोष साबित करने की कोशिश की है. अदालत के समक्ष यौन शोषण का वीडियो रिकार्डिंग सीडी और कई दस्तावेज भी साक्ष्य के रूप में अभियोजन पक्ष की ओर से सुपुर्द किया गया है.

आरोपी पूर्व आईजी पी. एस. नटराजन पर एससी एसटी एक्ट के तहत 2005 में मामला दर्ज किया गया था. अगस्त 2005 में हुई यह घटना काफी चर्चा में थी जिसके बाद तत्कालीन आईजी पी. एस. नटराजन को सरकार ने लंबे समय तक निलंबित करके रखा था. बाद में उन्हें सेवा से बर्खास्त कर दिया गया.



बचाव पक्ष के अधिवक्ता अविनाश कुमार ने कहा कि न्यायालय द्वारा फैसला पारित करते हुए इस केस का फैसला करने की तिथि इसी दिसंबर महीने के 23 तारीख को निर्धारित किया गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज