नवनिर्वाचित कांग्रेस विधायक विक्सल कोंगाड़ी ने ली विधानसभा सदस्यता की शपथ

विक्सल कोंगाड़ी ने ली शपथ

विक्सल कोंगाड़ी ने ली शपथ

विक्सल कोंगाड़ी की जीत से कांग्रेस कोलेबिरा में 18 साल बाद वापसी कर पाई. उन्होंने बीजेपी के बसंत सोरेंग को 9658 वोटों से हराया.

  • Share this:
झारखंड के कोलेबिरा विधानसभा क्षेत्र से नवनिर्वाचित कांग्रेस विधायक नमन विक्सल कोंगाड़ी ने विधानसभा सदस्यता की शपथ ली. झारखंड विधानसभा में स्पीकर दिनेश उरांव ने उन्होंने शपथ दिलाई. इस दौरान नेता प्रतिपक्ष हेमंत सोरेन, कांग्रेस विधायक दल के नेता आलमगीर आलम, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार समेत जेवीएम और कांग्रेस के विधायक मौजूद रहे.



झारखंड विधानसभा का शीतसत्र चल रहा है. सोमवार को सत्र का पहला दिन था. 27 दिसम्बर तक ये सत्र चलेगा. ऐसे में बाकी बचे दो दिन कोंगाड़ी विधानसभा की कार्यवाही में हिस्सा ले पाएंगे. इससे पहले रविवार को कोलेबिरा विधानसभा उपचुनाव संपन्न हुआ. कोंगाड़ी कोलेबिरा से विधायक चुने गये. उन्होंने बीजेपी के बसंत सोरेंग को 9658 वोटों से हराया है. कोंगाड़ी को 40343, जबकि बसंत सोरेंग को 30685 वोट मिले.



कोंगाड़ी की इस जीत से कांग्रेस कोलेबिरा में 18 साल बाद वापसी कर पाई. इस बीच में तीन बार एनोस एक्का यहां के विधायक रहे. लेकिन इस उपचुनाव में जनता ने उनकी पत्नी मेनन एक्का को ठुकरा दिया. नतीजे में वह चौथे स्थान पर रहीं. मेनन की हार की वजह एनोस के जेल में रहने से कार्यकर्ता और जनता से दूरी बन जाना, बताया जा रहा है. पारा शिक्षक हत्याकांड में एनोस को उम्रकैद की सजा हुई और वे सिमडेगा जेल में सजा काट रहे हैं. उनको सजा होने के कारण कोलेबिरा में उपचुनाव हुआ. कोंगाड़ी ईसाई समुदाय से आते हैं. उपचुनाव में उन्हें अपने समुदाय का भरपूर साथ मिला. इससे उनकी जीत सुनिश्चित हो पाई. बतौर सामाजिक कार्यकर्ता कोंगाड़ी ने कोलेबिरा में काफी काम किए. इससे उनकी क्षेत्र में काफी अच्छी छवि है.





ये भी पढ़ें- कोलेबिरा उपचुनाव: कांग्रेस की जीत के ये हैं दस बड़े कारण
कोलेबिरा की जीत पर बोले कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष- देश में राहुल गांधी की लहर



 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज