Weather alert : झारखंड में भी दिख सकता है YAAS का असर, मौसम विभाग ने किया सतर्क

चंक्रवाती तूफान यास का असर 26 और 27 मई को झारखंड में भी पड़ सकता है.

चंक्रवाती तूफान यास का असर 26 और 27 मई को झारखंड में भी पड़ सकता है.

बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना गहरा दबाव सोमवार सुबह चक्रवात ‘यास’ के रूप में बदल गया है. रांची के मौसम विभाग ने कहा है कि संथाल के साहिबगंज, दुमका, गोड्डा और पाकुड़ सहित सिंहभूम के कुछ जिलों में बारिश और वज्रपात हो सकते हैं.

  • Share this:

रांची. बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना गहरा दबाव सोमवार सुबह चक्रवात ‘यास’ (Yaas Cyclone) के रूप में बदल गया है. अगले 24 घंटे में यह तेज होकर भीषण चक्रवाती तूफान में बदल सकता है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) का अनुमान है कि यास 26 मई को भीषण चक्रवाती तूफान का रूप ले सकता है. 26 मई की दोपहर के आसपास यह पारादीप और सागर द्वीप के बीच उत्तर ओडिशा-पश्चिम बंगाल के तटों को पार कर सकता है. मौसम विभाग का कहना है कि इस दौरान 155 से 165 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है.

संथाल परगना के लोग सतर्क रहें

चक्रवाती तूफान यास को देखते हुए रांची के मौसम विज्ञान केंद्र ने तात्कालिक चेतावनी जारी की है. मौसम विभाग ने कहा है कि संथाल के साहिबगंज, दुमका, गोड्डा और पाकुड़ सहित सिंहभूम के कुछ जिलों में बारिश और वज्रपात हो सकते हैं. मौसम विभाग ने चेतावनी जारी करते हुए इन इलाकों में लोगों से अपील की है कि वे घरों से बाहर न निकलें. साथ ही मौसम विभाग ने सभी लोगों को सुरक्षित स्थान पर चले जाने की सलाह दी है.

26 और 27 मई को झारखंड में हो सकती है भारी बारिश
मौसम विभाग ने 25 मई को जहां राज्य के कुछ जिलों में बारिश और वज्रपात की चेतावनी दी है, वहीं 26 और 27 मई के लिए चेतावनी जारी कर कहा कि झारखंड के लगभग सभी जिलों में मौसम खराब रह सकता है. मौसम विभाग ने 26 और 27 मई को सभी जिलों में भारी बारिश और ठनका गिरने की चेतावनी जारी की है. राज्य भर में मौसम में बदलाव के कारण आने वाले दो-तीन दिनों में तापमान में 5 से 8 डिग्री तक गिरावट दर्ज हो सकती है

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज