• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • Weather on Durga Pooja: नवमी और दशमी के दिन बारिश के आसार, जानें क्‍या कहता है IMD का लेटेस्‍ट अपडेट

Weather on Durga Pooja: नवमी और दशमी के दिन बारिश के आसार, जानें क्‍या कहता है IMD का लेटेस्‍ट अपडेट

Weather on Durga Pooja: दुर्गा पूजा पर बारिश होने का पूर्वानुमान है. (सांकेतिक तस्‍वीर)

Weather on Durga Pooja: दुर्गा पूजा पर बारिश होने का पूर्वानुमान है. (सांकेतिक तस्‍वीर)

Jharkhand Latest Weather Update: रांची मौसम विज्ञान केंद्र ने झारखंड में बारिश को लेकर नया पूर्वानुमान जारी किया है. मौसम विज्ञानियों ने उत्‍तर अंडमान सागर में बदलाव के कारण झारखंड में 14 और 15 अक्‍टूबर को हल्‍की से मध्‍यम स्‍तर की बारिश होने की बात कही है.

  • Share this:

    रांची. झारखंड में इन दिनों हर तरफ दुर्गा पूजा का त्‍योहार धूम-धाम से मनाया जा रहा है. इस बीच, मौसम विभाग ने बारिश को लेकर नया पूर्वानुमान जताया है. मौसम विज्ञानियों की मानें तो नवरात्रि के नवमी और दशमी (14 और 15 अक्‍टूबर) के दिन हल्‍के से मध्‍यम दर्जे की बारिश हो सकती है. दरअसल, उत्‍तरी अंडमान सागर क्षेत्र में मौसम में बदलाव हुआ है, जिसके प्रभाव से झारखंड में बारिश होने के आसार हैं. बता दें कि इस मानसून सीजन में झारखंड में जमकर बारिश हुई है. शुरुआती दौर में प्रदेश्‍ के कई हिस्‍सों में औसम से कम बारिश हुई थी, लेकिन बाद में लगातार मूसलाधार बारिश ने इन कमियों को पूरा कर दिया.

    रांची मौसम विज्ञान केंद्र के विज्ञानियों ने 13 अक्‍टूबर तक मौसम के साफ रहने की बात कही है. वहीं, 14 और 15 अक्‍टूबर को प्रदेश के मध्‍य, उत्‍तर-पूर्वी, और दक्षिणी हिस्‍सों में हल्‍के से मध्‍यम दर्जे की बारिश होने की संभावना जताई गई है. इसके अलावा शनिवार और रविवार (16 और 17 अक्‍टूबर) को पूरे प्रदेश में गरज के साथ हल्‍की बारिश होने का पूर्वानुमान है. सोमवार को सेटेलाइट से मिली तस्‍वीरों में उत्‍तरी अंडमान सागर में चक्रवात की स्थिति बनने का पता चला था. 13 अक्‍टूबर तक इसके कारण पूर्व-मध्‍य बंगाल की खाड़ी में निम्‍न दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है. इसका असर झारखंड में भी देखने को मिलेगा.

    झारखंड में रात 10 से सुबह 6 बजे तक लाउडस्‍पीकर पर पाबंदी, उल्‍लंघन पर खैर नहीं 

    सबसे पहले 15 अक्‍टूबर को इसके दक्षिण ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों से टकराने का अनुमान है. बता दें कि इससे पहले मौसम विज्ञानियों ने झारखंड के अधिकांश हिस्‍सों से मानसून की वापसी की बात कही थी. मौसम विभाग का कहना था कि प्रदेश से दक्षिण-पश्चिम मानूसन की वापसी के लिए अनुकूल माहौल है. आमतौर पर सितंबर के तीसरे सप्‍ताह से मानसून वापसी शुरू हो जाती है. झारखंड से मानूसन की वापसी अक्‍टूबर के पहले सप्‍ताह में शुरू हो जाती है, लेकिन बंगाल की खाड़ी में लगातार दो चक्रवात आने से इस पर मानसून वापसी में देरी हुई है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज