Weather update of Jharkhand : 31 मई तक जारी रहेगा धूप, छांव और बारिश का खेल

रांची में बारिश से धुले आकाश का एक लुभावना नजारा.

रांची में बारिश से धुले आकाश का एक लुभावना नजारा.

मौसम वैज्ञानिक अभिषेक आनंद ने बताया कि 29 और 30 मई को राज्य के उत्तर और मध्य यानी रांची व अन्य जिलों में बारिश के साथ वज्रपात की संभावना है. इस दौरान 30 से 40 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है.

  • Share this:

रांची. चक्रवाती तूफान यास (Cyclone YAAS) का असर खत्म होने के बाद भी रांची सहित झारखंड के कई हिस्सों में सुबह में बादल छाए रहे. दोपहर में हल्की धूप निकली. ऐसा ही मौसम रांची में भी दिखा. दिनभर कभी धूप खिली तो, कभी काले बादल, लेकिन रांची में बारिश नहीं हुई. भारतीय मौसम विज्ञान केंद्र रांची के वैज्ञानिक अभिषेक आनंद ने बताया कि झारखंड में यास का असर खत्म हो गया है. अब यास बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश की ओर बढ़ गया है.

चार दिनों में अधिकतम तापमान में होगी वृद्धि

अभिषेक आनंद ने कहा कि हल्की गरज के साथ बारिश होने की संभावना है. मगर चक्रवात का असर खत्म होने के कारण अगले चार दिनों में राजधानी के अधिकतम तापमान में पांच डिग्री की बढ़ोत्तरी की संभावना है. हालांकि न्यूनतम तापमान में कोई ज्यादा परिवर्तन होने की संभावना नहीं है.

सबसे ज्यादा बारिश हुई राजमल में
पिछले 24 घंटों के दौरान राज्य में कहीं-कहीं भारी बारिश से लेकर मध्यम दर्जे की बारिश रिकॉर्ड की गई. राज्य में सबसे ज्यादा बारिश साहिबगंज के राजमहल में 228.6 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई. राज्य में सबसे ज्यादा अधिकतम तापमान बोकारो में 29.1 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. वहीं सबसे कम न्यूनतम तापमान चाईबासा में 21 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया.

29-30 मई को बारिश और वज्रपात की आशंका

मौसम वैज्ञानिक अभिषेक आनंद ने बताया कि 29 और 30 मई को राज्य के उत्तर और मध्य यानी रांची व अन्य जिलों में बारिश के साथ वज्रपात की संभावना है. इस दौरान 30 से 40 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से हवा चल सकती है. 1 और 2 जून को उतर-पूर्वी, मध्य और दक्षिणी हिस्से में बारिश की संभावना है. इसके साथ ही वज्रपात की भी आशंका है. मौसम विभाग के अनुसार, लो प्रेशर के रूप में तूफान के सक्रिय रहने से 31 मई तक धूप छांव के बीच बारिश की संभावना बनी रहेगी.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज