झारखंड: Mother's day पर महिला ने बेटे और पति की हत्या की, पत्नी के चरित्र पर हस्बेंड
Ranchi News in Hindi

झारखंड: Mother's day पर महिला ने बेटे और पति की हत्या की, पत्नी के चरित्र पर हस्बेंड
महिला ने अपने बेटे और पति को साबल और टांगी से काट डाला

मदर्स डे (Mothers Day)के मौके पर राजधानी रांची में एक महिला ने अपने बेटे और पति को मौत के घाट उतार दिया. यह बताया जा रहा है कि पति अपनी पत्नी के चरित्र पर शक करता था.

  • Share this:
रांची. मदर्स डे (Mothers day) के मौके पर राजधानी रांची (Ranchi) में एक मां की हैवानियत ने हर किसी को सकते में डाल दिया है. जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र में सुषमा नामक महिला ने अपने पति और बेटे की हत्या (Murdered Son And Husband) कर दी और मौके से फरार हो गयी. यह जानकारी मिलने पर जगन्नाथपुर पुलिस घटनास्थल पर पहुंची. घटनास्थल पर पहुंचकर पुलिस ने देखा कि पति की सांस चल रही थी, जिसके बाद उसे तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन अस्पताल पहुंचकर उसकी मौत हो गयी.

जगन्नाथपुर थाना क्षेत्र के नई कॉलोनी इलाके में सुषमा गुड़िया ने अपने पति लुकस गुड़िया और 4 वर्षीय बच्चे अमित गुड़िया की हत्या कर दी. लॉक डाउन के दौरान पति और पत्नी के बीच हुए विवाद के बाद इस पूरी घटना को अंजाम दिया गया. सुषमा पर जुनून इस कदर सवार था कि घर मे रखे साबल और टांगी से अपने पति और बच्चे पर लगातार कई बार वार किए. इसके चलते बच्चे की मौत घर पर ही हो गयी जबकि पति की मौत अस्पताल में हुई.

पति, पत्नी पर करता था शक



इस मामले की जानकारी देते हुए जगन्नाथपुर थाना प्रभारी अभय कुमार सिंह ने बताया कि घरेलू विवाद इस पूरी घटना की वजह था. उन्होंने बताया कि लुकस राज मिस्त्री का काम करता था.
वहीं दी गई जानकारी के मुताबिक पति पत्नी के बीच अक्सर विवाद होता था और विवाद की वजह पति का पत्नी पर शक था जिसे लेकर दोनो के बीच अक्सर लड़ाई होती थी.

पत्नी ने की थी आत्महत्या की कोशिश

इस मामले की जानकारी देते हुए वार्ड पार्षद आनंद मूर्ति सिंह ने बताया कि कुछ दिनों पहले सुषमा ने अपने बच्चे के साथ कुएं में कूदकर जान देने का भी प्रयास किया था. उस समय दोनों को बचा लिया गया था. इलाके के लोगों के अनुसार सुषमा की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी. बहरहाल इस घटना से इलाके के लोग सकते में हैं और पुलिस मामले की जांच कर रही है.

ये भी पढ़ें: धनबाद में मिले दो नए पॉजिटिव केस, झारखंड में 156 हुई कोरोना मरीजों की संख्या

खेती में नुकसान, बैंक लोन की चिंता, डिप्रेशन में युवा किसान ने दे दी जान 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज