महिला के नेत्रदान करने वाले परिवार को रिम्स में स्वास्थ्य सचिव ने किया सम्मानित
Ranchi News in Hindi

महिला के नेत्रदान करने वाले परिवार को रिम्स में स्वास्थ्य सचिव ने किया सम्मानित
नेत्रदान करने वाले परिवार को सम्मानित करतीं स्वाथ्य सचिव निधि खरे व निदेशक रिम्स

नेत्रदान से किसी के अधंरे जीवन में रोशनी आ सकती है.इसे प्रोत्साहित करने की जरूरत है.रिम्स में धनबाद की एक फैमिली ने नेत्रदान किया था.शुक्रवार को इसे सम्मानित किया गया.

  • Share this:
नेत्रदान से किसी के अधंरे जीवन में रोशनी आ सकती है.इसे प्रोत्साहित करने की जरूरत है.रिम्स में धनबाद की एक फैमिली ने नेत्रदान किया था.शुक्रवार को इसे सम्मानित किया गया. सम्मान समारोह में कहा गया कि इस प्रयास की सराहना होनी चाहिए.सूचना भवन में यह सम्मान समारोह में स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि नेत्रदान जैसा कोई दान नहीं ,इस परिवार ने बड़ा काम किया है.मृतका सीता देवी के पति अशोक मोदी, पुत्री ज्योति, पुत्र आशीष के अलावा परिवार के अन्य सदस्य मौजूद थे.

बच्चों के इस बड़े काम की प्रेरणा को सभी ने सराहा .समय पर आई बैंक वालों को सूचित कर यह काम संपन्न कराया गया.इस परिवार ने भी खुद को गौरवान्वित महसूस किया क्योंकि धनबाद निवासी अशोक मोदी सब्जी बेचकर परिवार चलाते हैं.अपने परिवार को शिक्षा और अच्छा संस्कार देने में कामयाब रहे हैं.तभी इन बच्चों ने समाज के समक्ष एक ऐसी मिसाल पेश की है

कोई एक पखवाड़ा पहले धनबाद के धनसार का अशोक मोदी परिवार ने समाज के सामने एक ऐसी मिसाल रखी जिसकी प्रशंसा आज सब कर रहे हैं. 40 साल की सीता देवी किडनी रोग से पीड़ित थीं.एक पखवाड़ा पहले उनकी रिम्स में मौत हो गई.उनके परिवार के लोगों ने उनकी आंख को दान करने का निर्णय लिया.सीता देवी के बच्चों ने यह महान निर्णय लिया तो रिम्स ने तत्परता से उन आंखों को ऑपरेट किया. आज सीता की आंखों से दो लोगों को रोशनी मिल रही है.उनके जीवन में रोशनी आई.इस परिवार के मुखिया और बच्चों को रिम्स और स्वास्थ्य विभाग ने सम्मानित किया.



यह भी पढ़ें - बैंक को बीमार बुजुर्ग पर तरस नहीं आई, लाइन में करवाया खड़ा, मौत
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading