विश्व आदिवासी दिवस: CM हेमंत सोरेन का ऐलान- झारखंड में होगा राजकीय अवकाश
Ranchi News in Hindi

विश्व आदिवासी दिवस: CM हेमंत सोरेन का ऐलान- झारखंड में होगा राजकीय अवकाश
विश्व आदिवासी दिवस शहीद नीलाम्बर-पीताम्बर को नमन करते सीएम हेमंत सोरेन

सीएम हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने कहा कि कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की वजह से इस मौके पर कार्यक्रम का आयोजन भव्य रूप से नहीं हो पाया, लेकिन आगे से आदिवासी दिवस (World Tribal Day) पर राज्य में राजकीय अवकाश रहेगा.

  • Share this:
रांची. आज विश्व आदिवासी दिवस (World Tribal Day) है. इस मौके पर राज्‍य के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (Hemant Soren) आदिवासियों की पारंपरिक वेशभूषा में नजर आए. उन्होंने कहा कि हम विश्व आदिवासी दिवस जरूर मना रहे हैं. लेकिन अब भी आदिवासी समाज में कई ऐसे सवाल हैं, जिन पर चिंता करने की जरूरत है.

आदिवासी दिवस के मौके मुख्यमंत्री रांची स्थित नीलाम्बर-पीताम्बर पार्क पहुंचे थे. यहां उन्होंने साल और करम के पौधे लगाये. और मांडर भी बजाए. मुख्यमंत्री ने आदिवासी समाज के लोगों को आदिवासी दिवस की शुभकामनाएं दीं. उन्होंने कहा कि आदिवासी समाज प्रकृति के बीच रहता है. और प्रकृति और संस्कृति को संजोने का काम करता है. आदिवासी दिवस उनके लिए गौरव की बात है.

कोरोना के चलते नहीं हुआ भव्य कार्यक्रम



सीएम ने कहा कि कोरोना संक्रमण की वजह से इस मौके पर कार्यक्रम का आयोजन भव्य रूप से नहीं हो पाया. लेकिन आगे से आदिवासी दिवस पर राज्य में राजकीय अवकाश होगा. बतौर सीएम आदिवासी समाज में कई ऐसे सवाल हैं, जिन पर अब चिंतन करने की जरूरत है.
कोरोना महामारी पर सरकार की पैनी नजर 

राज्य में बढ़ते कोरोना के मामलों को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मसले पर सरकार की पैनी नजर है. इस महामारी से जंग जारी है. भारत सरकार ने पूरे देश में अनलॉक की घोषणा करीब-करीब कर दी है. कुछ एक को छोड़ दें तो ज्यादातर व्यवसाय शुरू कर दिए गए हैं. लेकिन झारखंड में अब भी कई व्यवसाय बंद हैं. कोरोना महामारी एक चुनौती है और इसके मद्देनजर जो बेहतर विकल्प होगा. उस पर निर्णय लिया जाएगा.

कांग्रेस ने बीजेपी पर बोला हमला 

प्रदेश कांग्रेस के नेताओं ने भी आदिवासी दिवस मनाया. इस दौरान आदिवासियों की समस्याओं को लेकर कांग्रेस ने बीजेपी पर जोरदार हमला बोला. इस दौरान उत्कृष्ट कार्य करने वालों को सम्मानित भी किया गया. इनमें  समाज सेविका दयामनी बारला, प्रोफेसर केसी टुडू, प्रोफेसर संतोष कीरो सहित आदिवासियों के उत्थान के लिए कार्य करने वाले कई समाजसेवी शामिल थे. कार्यक्रम में वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव, कृषि मंत्री बादल पत्रलेख और मंत्री आलमगीर आलम सहित प्रदेश कांग्रेस के तमाम बड़े नेता शामिल हुए.

कृषि मंत्री बादलपत्र लेख ने कहा कि आदिवासियों के उत्थान के लिए कांग्रेस शुरू से ही काम करती रही है. पूर्व पीएम इन्दिरा गांधी ने आदिवासी समुदाय के विकास में अहम योगदान निभाया था. भारत की संस्कृति और सभ्यता को बचाने के लिए कांग्रेस शुरू से ही कटिबद्ध है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज