टिकट के लिए लालू यादव से मिलने रांची पहुंचे RJD नेता, केली बंगले के बाहर 300 नेताओं का लगा जमावड़ा

रिम्स में केली बंगले के बाहर राजद नेताओं की उमड़ी भीड़.
रिम्स में केली बंगले के बाहर राजद नेताओं की उमड़ी भीड़.

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) में तेजस्वी यादव से निराश नेता अब रांची के रिम्स अस्पताल के केली बंगले पर राजद (RJD) प्रमुख लालू यादव (Lalu Yadav) से मिलन पहुंच रहे हैं. मंगलवार को केली बंगले के बाहर करीब 300 नेताओं की भीड़ जुट गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 22, 2020, 11:03 PM IST
  • Share this:
रांची. बिहार विधानसभा चुनाव (Assembly elections) की डेडलाइन जैसे-जैसे नजदीक आ रही है राजद नेताओं का सब्र टूट रहा है. रिम्स के केली बंगले के बाहर रिकार्ड संख्या में मंगलवार को बिहार (Bihar) से राजद नेता लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) से मिलने की उम्मीद को लेकर यहां पहुंचे. करीब 300 से ज्यादा की संख्या में पहुंचे राजद नेता केली बंगले के गेट के पास सुरक्षाकर्मियों के साथ बातचीत कर जुगाड़ बैठाते नजर आए. लेकिन जब उनकी दाल नहीं गली तो नेताओं ने न्यूज़ 18 के सामने टिकट को लेकर अपनी दावेदारी पेश की.

दरअसल पटना में तेजस्वी यादव के सामने अपनी दावेदारी फेल होने के बाद निराश नेता अब रिम्स के केली बंगले में लालू प्रसाद से मिलकर अपना टिकट सुनिश्चित करने की कोशिश में जुटे हैं. सुपौल विधानसभा से पहुंचे दिनेश प्रसाद यादव ने कहा कि क्षेत्र में उनका दावा काफी मजबूत है. उन्होंने लंबे समय तक पार्टी की सेवा की है. साथ ही लोकसभा का चुनाव भी उन्होंने लड़ा था और महज कुछ सौ वोटों से उनकी हार हुई थी. वहीं सुपौल के छातापुर विधानसभा से पहुंचे इंजीनियर रामसुंदर निषाद ने भी पार्टी को लंबे समय तक दी गई अपनी सेवा का जिक्र किया और लालू प्रसाद को अपना मसीहा और नेल्सन मंडेला तक बता डाला.

Bihar Assembly Election: चुनाव तारीखों के एलान से ठीक पहले नीतीश कुमार ने कार्यकर्ताओं को बुलाया




औरंगाबाद के रफीगंज सीट के लिए अपनी दावेदारी को लेकर पहुंचे डॉ. संजय कुमार यादव ने कहा कि वह टिकट को लेकर पटना में तेजस्वी यादव के पास भी जा सकते थे, लेकिन उन्होंने हाईकोर्ट में जाने के बजाए सीधे सुप्रीम कोर्ट में ही अपना दावा पेश करना ज्यादा उचित समझा. दरअसल कुछ दिन पहले तक केली बंगले पर 40 से 50 नेता हर दिन पहुंचते थे, लेकिन आज मंगलवार को 300 से ज्यादा नेताओं की भीड़ उमड़ना इस बात को साबित करती है कि पटना में तेजस्वी से निराश और हताश होकर लोग सीधे लालू प्रसाद से मिलने केली बंगले में आ रहे हैं.

दो-तीन दिन में हो सकता है विधानसभा चुनावों का ऐलान
अगले महीने 29 नवंबर तक बिहार में नई विधानसभा का गठन किया जाना है. इसको देखते हुए चुनाव आयोग अपनी तैयारियों में जुट गया है. सारी तैयारियां होने के बाद आयोग जल्द ही चुनाव की तारीखों का ऐलान कर सकता है. ऐसी जानकारी मिल रही है कि आयोग मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा की अगुवाई में चुनाव आयोग की टीम अगले एक-दो दिन में बिहार यात्रा कर सकती है और इसके बाद कभी भी चुनाव की तारीखों की घोषणा कर सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज