अपना शहर चुनें

States

अब भी नहीं जगे तो मिट जाएगा झारखंड का वजूद- हेमंत सोरेन

विधानसभा चुनाव के मद्देनजर जेएमएम की बदलाव यात्रा साहेबगंज से शुरू
विधानसभा चुनाव के मद्देनजर जेएमएम की बदलाव यात्रा साहेबगंज से शुरू

जेएमएम की बदलाव यात्रा साहेबगंज से शुरू होकर हर जिला मुख्यालय में जाएगी. 19 अक्टूबर को यह रांची में संपन्न होगी.

  • Share this:
विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Election) के मद्देनजर झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) (JMM) की बदलाव यात्रा (Badlaw Yatra) साहेबगंज से शुरू हो गई. पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन (Hemant Soren) ने वहां शहीद सिदो- कान्हो और चांद-भैरव को नमन कर इसकी शुरुआत की. इस मौके पर उन्होंने रेलवे जेनरल इंस्टीट्यूट मैदान में जनसभा को भी संबोधित किया. अपने संबोधन में पूर्व सीएम ने रघुवर सरकार पर जमकर निशाना साधा. और युवाओं से लेकर किसानों से कई वादे भी किये.

जेएमएम की चुनावी घोषणाएं

हेमंत सोरेन ने कहा, 'मैं साहेबगंज की धरती से राज्य की सवा तीन करोड़ जनता को यह विश्वास दिलाता हूं कि मेरी सरकार बनते ही सभी को उसका हक मिलेगा. राज्य के आदिवासी को 28 प्रतिशत, ओबीसी को 27 प्रतिशत और अनुसूचित जाति को 12 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा'



जेएमएम नेता ने कहा कि अगर जेएमएम की सरकार बनी तो गरीब परिवारों को सभी सुविधा के साथ-साथ आवास के लिए 3 लाख रुपए दिये जाएंगे. युवाओं को पहले साल 5 लाख नौकरियां और जब तक रोजगार नहीं मिलेगा, तबतक बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा. निजी क्षेत्र में स्थानीय युवाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान किया जाएगा.
पूर्व सीएम ने कहा कि किसानों को बिचौलियों, महाजनों और साहूकारों से मुक्ति दिलाने के लिए हर गांव में किसान बैंक की स्थापना की जाएगी. यहां उचित मूल्य पर अपने गांव में ही किसान अपना उत्पाद बेच पाएंगे. खासमहल में रहने वालों को डर के साये में नहीं जीना पड़ेगा.

रघुवर सरकार पर निशाना

वर्तमान सरकार पर निशाना साधते हुए हेमंत सोरेन ने कहा कि पिछले पांच साल में रघुवर सरकार ने राज्य को तहस-नहस कर दिया. अगर अब भी सियासी चेतना नहीं जगी, तो झारखंड का अस्तित्व खत्म हो जाएगा. सरकारी कंपनियां बंद हो रही हैं. ऐसे में आरक्षण भी खत्म हो जाएगा. बीजेपी शुरू से ही इसके पक्ष में रही है.

हेमंत के मुताबिक जो लोग यहां पर पांच फीसदी भी नहीं हैं, उनको 10 फीसदी का आरक्षण दिया गया. जबकि जिनकी आबादी 50 फीसदी है, उसको कुछ भी नहीं. पांच साल हुए घोटालों की फेहरिस्त काफी लंबी है. छत्तीसगढ़, हरियाणा और पंजाब के लोगों को यहां नौकरी दी गई. ये आगे नहीं चलेगा.

जेएमएम की ये बदलाव यात्रा जिला मुख्यालयों से होकर 19 अक्टूबर को रांची में संपन्न होगी.

ये भी पढ़ें- 30 अगस्त को झारखंड आएंगे जेपी नड्डा, रांची- लोहरदगा में कार्यक्रम

झारखंड में नहीं चलेगा नीतीश का 'तीर', विस चुनाव के पहले EC ने फ्रीज किया JDU का सिंबल

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज