साहेबगंज में अब बेसहारा लोगों के लिए तैयार है सरकार का बनाया आश्रयघर 'स्नेह स्पर्श'
Sahebganj News in Hindi

साहेबगंज में अब बेसहारा लोगों के लिए तैयार है सरकार का बनाया आश्रयघर 'स्नेह स्पर्श'
शहर के फुटपाथ पर एक बेसहारा वृद्ध

अब अपनों से तंग लाचार-बेहाल वृद्धजनों को जिला प्रशासन संभालेगा. वृद्धों की देखरेख के लिए 'स्नेह स्पर्श' वृद्धाश्रम में 24 बेड हैं. इसमें विधवा, अपनों के त्यागे वृद्धों को रखा जाएगा.

  • Share this:
साहेबगंज में अब बेसहारा वृद्धों के लिए को प्रशासन सहारा देगा. परिवारों की आधुनिक जीवन शैली के चलते हाशिए पर आए वृद्धों के लिए आश्रयघर बनकर तैयार है. 'स्नेह स्पर्श' नाम से वृद्धाश्रम की शुरुआत की गई है. इसमे बेघर, लाचार, परेशान वृद्धों को पनाह मिलेगी. यहां प्रशासन की ओर से तमाम व्यवस्थाएं की गई है जिससे उनके जीवन के बचे दिनों में बहार लाई जा सके.

अब अपनों से तंग लाचार-बेहाल वृद्धजनों को साहेबगंज जिला प्रशासन संभालेगा. वृद्धों की देखरेख के लिए 'स्नेह स्पर्श' वृद्धाश्रम में 24 बेड हैं. इसमें विधवा, अपनों के त्यागे वृद्धों को रखा जाएगा. वृद्धजनों के लिए यहां सभी तरह की व्यवस्थाएं की गई है. उनके कपड़ों की साफ-सफाई के लिए वाशरमैन से लेकर खाने पीने के लिए रसोईए का यहां इंतजाम है.

समाज कल्याण विभाग को ऐसे लोगों का इंतजार है जो जीवन के बचे कुछ दिन सड़कों, रेलवे और प्लेटफार्मों पर काट रहे हैं. ऐसे लाचार वृद्धजनों के लिए अब उनका नया घर इंतजार है. प्रशासन ने आम जनता से भी कहा है कि यदि उनकी जानकारी में कोई बेसहारा, लाचार, परिवार का सताया वृद्ध-वृद्धा हों, उनको इस आश्रयघर तक पहुंचाएं.



यह भी पढ़ें - चारा घोटाला: देवघर मामले में लालू की बढ़ सकती हैं मुश्किलें, हाईकोर्ट के सक्षम बेंच में केस ट्रांसफर
यह भी पढ़ें - झारखंड विधानसभा का बजट सत्र समाप्त, सत्तापक्ष का वार- चुनाव के कारण विपक्ष ने चलने दिया सदन
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading