बेरोजगारों को हुनरमंद बना रोजगार देने के प्रयास में प्रशासन

बेरोजगारों को प्रशिक्षण देने के लिए उनसे आवेदन लिए जा रहे हैं. साथ ही स्वंयसेवकों के माध्यम से बेरोजागारों को कौशल विकास का प्रशिक्षण लेने के लिए प्रेरित किया जा रहा है.

Vikas Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 14, 2018, 2:26 PM IST
बेरोजगारों को हुनरमंद बना रोजगार देने के प्रयास में प्रशासन
कौशल विकास के तहत प्रशिक्षण देने के लिए बेरोजगारों से लिए जा रहे आवेदन
Vikas Kumar | ETV Bihar/Jharkhand
Updated: March 14, 2018, 2:26 PM IST
सरायकेला जिला प्रशासन जिले के बेरोजगारों का कौशल विकास कर उन्हें रोजगार देने के लिए प्रयासरत है. जिले के चार कौशल विकास केंद्रों के माध्यम से विभिन्न ट्रेडों में अब तक करीब 4600 बेरोजगारों को प्रशिक्षण दिया जा चुका है. प्रशासन जिले के हर बेरोजगार को हुनरमंद बनाने के प्रयास में है. इसके मद्देनजर जिला प्रशासन विभिन्न पंचायतों में कार्यरत स्वंयसेवकों के माध्यम बेरोजगार लोगों का सर्वे करवा रहा है. सर्वे के जरिए बेरोजगारों की शैक्षणिक योग्यता के साथ अन्य जानकारियां एकत्र की जा रही हैं. साथ ही प्रखंड स्तर पर कैंप लगाकर इच्छुक बेरोजगारों से कौशल विकास के प्रशिक्षण के लिए आवेदन लिया जा रहा है.

इस बारे में जानकारी देते हुए जिला कौशल विकास पदाधिकारी सुरेश कुमार राय ने कहा कि जिले के सभी बेरोजगारों को हुनरमंद बनाकर उन्हें रोजगार मुहैया कराने की दिशा में जिला प्रशासन प्रयासरत है. इसके लिए व्यापक स्तर पर प्रचार प्रसार किया जा रहा है. बेरोजगारों को प्रशिक्षण देने के लिए उनसे आवेदन लिए जा रहे हैं. साथ ही स्वंयसेवकों के माध्यम से बेरोजागारों को कौशल विकास का प्रशिक्षण लेने के लिए प्रेरित किया जा रहा है.

बता दें कि जिले के गम्हरिया प्रखंड में तीन और चांडिल में एक कौशल विकास प्रशिक्षण केंद्र कार्यरत है. साथ ही कौशल विकास का प्रशिक्षण ले चुके लोगों को आदित्यपुर स्थित सैकड़ों की संख्या में संचालित विभिन्न कंपनियों में उन्हें रोजगार भी मुहैया कराया जा रहा है.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर