सरायकेला के पालुबेड़ा जंगल में एक हाथी की मौत

एक हाथी की मौत हुई है. मौत के कारणों का पता नहीं चल पाया है. फोरेंसिक जांच व पोस्टमार्टम के बाद ही कुछ कहा जा सकता है.

Vikas Kumar | News18 Jharkhand
Updated: August 11, 2018, 6:52 PM IST
सरायकेला के पालुबेड़ा जंगल में एक हाथी की मौत
सरायकेला - हाथी की मौत से वन विभाग चिंतित
Vikas Kumar | News18 Jharkhand
Updated: August 11, 2018, 6:52 PM IST
सरायकेला वन प्रक्षेत्र के पालुबेड़ा जंगल में एक नर हाथी की मौत हो गई. सुबह ग्रामीणों ने हाथी के शव को देखा और वन विभाग को इसकी सूचना दी. वन विभाग के पदाधिकारी व कर्मचारी मौके पर पहुंच हाथी की मौत के कारणों की पड़ताल में जुटे हैं. साथ ही हाथी के शव के पोस्टमार्टम के लिए पशु चिकित्सक को बुलाया गया है. हाथी की मौत की सूचना मिलने के बाद रांची से फोरेंसिक टीम भी घटनास्थल के लिए रवाना हो गई है. फोरेंसिक टीम के आने के बाद ही हाथी के शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा.

इस बारे में जानकारी देते हुए सरायकेला वन प्रक्षेत्र के फॉरेस्टर दिलीप मिश्रा ने बताया कि शनिवार सुबह स्थानीय ग्रामीणों द्वारा हाथी की मौत की सूचना मिली. मौके पर पहुंचने पर पता चला कि एक नर हाथी की मौत हुई है. अभी मौत के कारणों का पता नहीं चल पाया है. उन्होंने कहा कि फोरेंसिक जांच व पोस्टमार्टम के बाद ही कुछ कहा जा सकता है.

बता दें कि हाथियों की लगातार हो रही मौत से वन विभाग चिंतित है. मालूम हो कि बीते 1 अगस्त की सुबह भी सरायकेला वन प्रक्षेत्र के गिद्दीबेड़ा जंगल में एक हथिनी की मौत हो गई थी. वहीं 17 जुलाई को चांडिल के दलमा वन अभ्यारण्य में दो हाथियों के भिड़ंत के दौरान एक हाथी के बच्चे की मौत हुई थी. बीते छह महीनों में यह तीसरा मौका है जब सरायकेला वन प्रक्षेत्र में हाथी की मौत हुई है. वहीं पूरे जिले की बात करें तो खरसावां वन प्रक्षेत्र में भी कुछ महीने पूर्व एक हाथिनी की मौत हुई थी.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर