रोजगार का आश्वासन देकर किसानों जमीन हथियाई, लेकिन नौकरी देने से किया इंकार
Saraikela-Kharsawan News in Hindi

रोजगार का आश्वासन देकर किसानों जमीन हथियाई, लेकिन नौकरी देने से किया इंकार
किसानों से उनकी शिकायत के बारे में जानकारी ली जिला उद्योग विभाग के अधिकारियों ने

कंपनी प्रबंधकों व मालिकों ने कहा कि उनकी ओर से ऐसा कोई वादा नहीं किया गया. दुखी किसानों ने यह मामला मुख्यमंत्री के जन संवाद केंद्र तक पहुंचाया. वहां से आदेश मिलने पर जिला उद्योग विभाग के अधिकारी ने मामले की जांच की.

  • Share this:
सरायकेला जिला के बीरबांस गांव के गरीब किसानों की जमीन भू माफियाओं ने कभी इस आश्वासन पर ली थी कि उनकी जमीनों पर जो भी कल कारखाने लगेंगे, उनमें उन्हें नौकरियां दी जाएंगी. औद्योगिक क्षेत्र के विकसित होने और यहां उद्योगों की स्थापना के बाद जब यह किसान उन फैक्ट्रियों में काम मांगने गए तो उनको धक्के ही मिले. कंपनी प्रबंधकों व मालिकों ने कहा कि उनकी ओर से ऐसा कोई वादा नहीं किया गया. दुखी किसानों ने यह मामला मुख्यमंत्री के जन संवाद केंद्र तक पहुंचाया. वहां से आदेश मिलने पर जिला उद्योग विभाग के अधिकारी ने मामले की जांच की.

आरोप है कि इंफिनिटी इंडस्ट्रियल पार्क के नाम से कुछ भू माफियाओं ने लगभग 50 एकड़ से भी अधिक जमीन भूमाफिया और दलालों ने ली थी. इनफिटी इंडस्ट्रियल पार्क ने किसानों की जमीन ब्रिक्स इंडिया, श्याम इंडस्ट्रीज, मल्टीटेक ऑटो लिमिटेड, श्री उन्नत आदि कंपनियों को मोटी रकम लेकर बेच दी. यह गरीब किसानों की जमीन बिकने से वह खेती से गए और ना उनको कोई रोजगार ही मिला.

झूठे आश्वासन देकर किसानों की जगह पर उद्योग लगाने के नाम पर जमीन लेने के मामले की जांच को जिला उद्योग विभाग के अधिकारी बीरबांस गांव पहुंचे. ग्रामीणों से पूरे मामले की पूछताछ की. अधिकारियों ने फर्जी इंड्रस्ट्रीयल पार्क और कंपनी प्रबंधन से भी बात करने का प्रयास किया लेकिन उनका कोई भी प्रतिनिधि अधिकारियों के समक्ष नहीं आया. उद्योग विभाग के अधिकारियों ने पूरे मामले की रिपोर्ट जल्द सरकार को सौंपे जाने की बात कही है.



यह भी पढ़ें - झारखंड महागठबंधन: 'पांच' के पेंच में फंसा सीट शेयरिंग का फॉर्मूला
यह भी पढ़ें - पुलिस ने रोका बाल विवाह, लड़की की मां व भाई सहित चार गिरफ्तार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading