बीते 15 दिनों से कचरा उठाव कार्य बंद, लोगों का जीना हुआ मुहाल
Saraikela-Kharsawan News in Hindi

बीते 15 दिनों से कचरा उठाव कार्य बंद, लोगों का जीना हुआ मुहाल
बीते 15 दिनों से कचरा उठाव कार्य बंद, लोगों का जीना हुआ मुहाल

सरायकेला नगर पंचायत उपाध्यक्ष ने कहा कि कचरा उठाव बंद होने से स्थिति काफी खराब है तथा अब संक्रमण का भी खतरा बढ़ गया है. उन्होंने उम्मीद जतायी कि जल्द कचरा उठाव का कार्य शुरु हो पाएगा.

  • Share this:
बीते 15 दिनों से कचरा उठाव बंद होने से जिला मुख्यालय स्थित सरायकेला नगर पंचायत क्षेत्र की स्थिति नारकीय हो गयी है. बारिश के मौसम के बीच जगह जगह कचरा इक्टठा होने से तथा बजबजाती नालियों के कारण लोगों का जीना मुहाल हो रहा है. दरअसल बीते सात महीने से कचरा उठाव का कार्य कर रही एमएसडब्ल्यु प्राईवेट लिमिटेड कंपनी द्वारा नदी किनारे इसे डंप किया जा रहा था. इसका स्थानीय लोगों ने विरोध किया. जिसके बाद से बीते 15 दिनों से कचरा उठाव बंद है.

कचरा उठाव नहीं होने के कारण शहर में लगे गंदगी के अंबार से निजात दिलाने हेतु नगर पंचायत विभाग, जनप्रतिनिधि व आम जनता ने तात्कालीक तौर पर कचरा डंप करने के एरिया चयन को लेकर बैठक किया है ताकि कचरा उठाव सुनिश्चित हो सके. बैठक में श्मशान के पास वाले इलाके में कचरा डंप करने की सहमति बनी है. जिसको लेकर नगर पंचायत द्वारा स्थानीय लोगों से बातचीत कर कचरा उठाव का कार्य किया जाएगा.

इस बारे में जानकारी देते हुए सरायकेला नगर पंचायत उपाध्यक्ष मनोज कुमार चौधरी ने कहा कि कचरा उठाव बंद होने से स्थिति काफी खराब है तथा अब संक्रमण का भी खतरा बढ़ गया है. हालांकि उन्होंने उम्मीद जतायी कि जल्द कचरा उठाव का कार्य शुरु हो पाएगा.



मालूम हो कि बीते 26 जनवरी से एमएसडब्ल्यु प्राईवेट लिमिटेड कंपनी द्वारा शहर का कचरा उठाव किया जा रहा है. उन्हें कचरा निस्तारण का प्लांट लगाना था तथा कचरा वहीं डंप कर उसका सदुपयोग करना था. इस बावत जिला प्रशासन द्वारा बुंडू में प्लांट लगाने हेतु जमीन भी चिन्हित किया गया. मगर स्थानीय ग्रामीणों के विरोध के कारण यह प्लांट नहीं लग पाया है. जिस कारण कंपनी द्वारा शहर का कचरा उठाकर नदी किनारे के खाली जगह पर डंप किया जा रहा था. जिसका स्थानीय लोगों ने विरोध किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading