सरायकेला में दो रेलवे कर्मचारियों की करंट लगने से मौत
Saraikela-Kharsawan News in Hindi

सरायकेला में दो रेलवे कर्मचारियों की करंट लगने से मौत
करंट से मौत के बाद पोस्टमार्टम के लिए ले जाए जाते दोनों के शव

सरायकेला थाना के सीनी ओपी अंतर्गत आज सुबह ड्यूटी खत्म कर घर लौट रहे मोटरसाईकिल सवाल दो रेलवे के चतुर्थ वर्गीय कर्मचारियों की बिजली की नंगी तार के चपेट में आने से मौत हो गई. मृतक 40 वर्षीय भोला महतो तथा 28 वर्षीय ईश्वर महतो दोनों सहोदर भाई थे.

  • Share this:
सरायकेला थाना के सीनी ओपी अंतर्गत आज सुबह ड्यूटी खत्म कर घर लौट रहे मोटरसाईकिल सवाल दो रेलवे के चतुर्थ वर्गीय कर्मचारियों की एचटी लाइन के तार के चपेट में आने से मौत हो गई. मृतक 40 वर्षीय भोला महतो तथा 28 वर्षीय ईश्वर महतो दोनों सहोदर भाई थे. भोला महतो सीनी रेलवे के पीडब्ल्यूआई इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट में चतुर्थ वर्गीय कर्मचारी था जबकि ईश्वर महतो सीनी रेलवे के सिग्नल एंड टेलिकाम विभाग में हेल्पर के पद कार्यरत था. बुधवार को सुबह करीबन पांच बजे दोनों अपना ड्यूटी खत्म कर मोटरसाईकिल से अपने घर उलीडीह लौट रहे थे तभी सिंदरी गांव के पास नंगी लटकी बिजली के तार के चपेट में आ गए.

बीती रात ट्रैक सर्किट में खराबी आ गई थी जिस कारण रेलवे ट्रैक पर आवागमन बाधित होने की संभावना थी.अस स्थिति में रेलवे द्वारा दोनों भाईयों समेत कई कर्मचारियों को ट्रैक सर्किट को ठीक करने बुलाया गया था. जब यह दोनों काम खत्म कर लौट रहे थे, तब ही हादसे का शिकार हो गए. इस घटना की सूचना पाकर मृतक के परिजनों के अलावे रेलवे के अधिकारी व कर्मचारी तथा खरसांवा विधायक दशरथ गागराई सदर अस्पताल पहुंच मामले की जानकारी ली.इस मार्मिक घटना पर सभी ने दुख प्रकट किया.

रेलवे अधिकारियों ने भरोसा जताया है कि रेलवे के प्रावधानों के अनुरुप मृतक के परिजनों को सभी लाभ दिए जाएंगे.वहीं मृत कर्मचारियों के दाह संस्कार व अन्य कार्य के लिए रेलवे वेलफेयर एशोसिएशन ने बीस हजार रुपये तथा इंडियन रेलवे सिग्नल व टेलिकाम विभाग की ओर से पांच हजार की तत्काल आर्थिक सहायता दी गई.दोनों शवों का पोस्टमार्टम कराया गया. गया. उधर बिजली की नंगी तार सड़क किनारे झुलने तथा इस घटना के होने से लोगों का बिजली विभाग के खिलाफ गहरा आक्रोश देखा जा रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading