नशे में टल्ली होकर पहुंचते हैं टीचर्स, बच्चों ने स्कूल को कहा बाय-बाय

स्कूल प्रबंधन समिति के सदस्य चूड़ामणि बड़ाइक कहते हैं कि यहां कौन अपना बच्चा भेजेगा. बच्चों का भविष्य कौन खराब करना चाहेगा, अध्यापकों का वेतन रोका गया

News18 Jharkhand
Updated: July 15, 2019, 3:17 PM IST
नशे में टल्ली होकर पहुंचते हैं टीचर्स, बच्चों ने स्कूल को कहा बाय-बाय
हेडमास्टर भी नशे में मिले, दूर के स्कूल में जा कर पढ़ रहे हैं बच्चे
News18 Jharkhand
Updated: July 15, 2019, 3:17 PM IST
राज्य में स्कूली शिक्षा को दुरुस्त करने के लिए सरकार हर संभव कोशिश कर रही है. लेकिन सिमडेगा के एक स्कूल में शिक्षकों के चलते शिक्षा व्यवस्था चौपट हो गई है. दरअसल यहां के शिक्षक नशे में धुत होकर स्कूल आते हैं. ऐसे में अपने बच्चों के भविष्य को देखते हुए अभिभावकों ने उन्हें स्कूल भेजना बंद कर दिया. इस स्कूल में 42 बच्चे थे, जो अब 5 किलोमीटर दूर प्राइवेट स्कूल में जाकर पढ़ते हैं.

टीचर हमेशा रहते हैं टल्ली 

केरसई प्रखंड के बाघडेगा पंचायत के राजकीय प्राथमिक विद्यालय पहारसारा में अब सन्नाटा पसरा रहता है. बच्चों ने स्कूल आना बंद कर दिया, तो मवेशियों ने इसे अपना पनाहगार बना लिया है. जब स्कूल के प्रिंसिपल मनोहर एक्का के पास न्यूज-18 की टीम पहुंची, तो उस वक्त भी वह नशे में ही थे. न्यूज-18 की टीम ने जब उनसे स्कूल की दुर्दशा के बारे में पूछा, तो उन्होंने कहा कि अधिकारी यहां दूसरे शिक्षक को भेज दें, तो बच्चे फिर से स्कूल में आ सकते हैं.

मवेशियों का पनाहगार बना स्कूल


शिक्षक बदलने को लेकर गुहार 

स्कूल प्रबंधन समिति के सदस्य चूड़ामणि बड़ाइक कहते हैं कि यहां कौन अपना बच्चा भेजेगा. बच्चों का भविष्य कौन खराब करना चाहेगा. शिक्षकों को बदलने के लिए अधिकारी को लिखा गया है.

गांव की मुखिया सावित्री देवी कहती हैं कि नशेड़ी शिक्षकों के चलते बच्चों ने स्कूल आना छोड़ दिया. प्रिंसिपल हमेशा शराब के नशे में घुत रहते हैं.
Loading...

बच्चों का कहना है कि स्कूल में पढ़ाई नहीं होती थी. इसलिये दूसरे स्कूल में दाखिला लिया. स्कूल में दो शिक्षक हैं, लेकिन दोनों हमेशा नशे में रहते थे.

शिक्षकों के वेतन पर रोक

ऐसा नहीं है कि इस स्कूल की कहानी से अधिकारी अनभिज्ञ हैं. प्रखण्ड शिक्षा अधिकारी भृगुनाथ राम ने कहा कि शिक्षकों के खिलाफ ऊपर लिखा गया है. अप्रैल माह से इनके वेतन पर रोक भी लगा दिया गया है.

रिपोर्ट- श्रीराम 

ये भी पढ़ें- सरायकेला में फिर मॉब लिंचिंग, चोरी के आरोप में युवक की जमकर पिटाई

जमशेदपुर : बच्चा चोरी के शक में युवक की पिटाई, थाने पर किया पथराव
First published: July 15, 2019, 2:37 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...