लाइव टीवी

राहुल गांधी बोले- बीजेपी धर्म और संस्कृति के नाम पर लोगों को कुचलती है, झारखंड में ऐसा नहीं होने देंगे

Naween Jha | News18 Jharkhand
Updated: December 2, 2019, 4:38 PM IST
राहुल गांधी बोले- बीजेपी धर्म और संस्कृति के नाम पर लोगों को कुचलती है, झारखंड में ऐसा नहीं होने देंगे
राहुल गांधी ने कहा कि बीजेपी का लक्ष्य एक ही है कि झारखंड से पैसा, जमीन और बिजली छीनकर इन बड़े उद्योगपतियों को दो.

राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कहा कि केन्द्र से लेकर कई प्रदेशों में बीजेपी (BJP) की सरकार है, लेकिन कहीं भी इन्होंने किसानों का कर्जा माफ नहीं किया. लेकिन जहां भी कांग्रेस सरकार बनी किसानों का कर्जा माफ किया.

  • Share this:
सिमडेगा. झारखंड विधानसभा चुनाव (Jharkhand Assembly Election) को लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Rahul Gandhi)  ने सिमडेगा में पहली सभा को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि झारखंड में जल, जंगल और जमीन की कमी नहीं है. मगर यहां के धन का फायदा आदिवासियों और गरीबों को नहीं मिल रहा है. लैंड बैंक या फिर धर्म के नाम पर लोगों को कुचलने की बात जैसे यहां हो रहा है, वैसे पहले छत्तीसगढ़ में हो रहा था. लेकिन एक साल में कांग्रेस ने छत्तीसगढ़ का चेहरा बदल दिया है. राहुल गांधी ने कहा कि देश में पहली बार टाटा कंपनी से जमीन वापस लेकर आदिवासियों को लौटाया गया. कांग्रेस के जमीन अधिग्रहण बिल का लक्ष्य किसानों, गरीबों और आदिवासियों की जमीन की रक्षा करना था. छत्तीसगढ़ में बीजेपी सरकार ने आदिवासियों से जमीन छीनकर उद्योगपतियों को दे रखा था. लेकिन कांग्रेस सरकार ने टाटा से जमीन लेकर आदिवासियों को लौटाया. जहां भी बीजेपी की सरकार है, उद्योगपतियों को जमीन मिल जाती है, लेकिन किसानों को फसल का सही दाम नहीं मिलता.

अमीरों का कर्जा माफ किया, मगर किसानों का नहीं

राहुल गांधी ने कहा कि केन्द्र से लेकर कई प्रदेशों में बीजेपी की सरकार है, लेकिन कहीं भी इन्होंने किसानों का कर्जा माफ नहीं किया. लेकिन जहां भी कांग्रेस सरकार बनी किसानों का कर्जा माफ किया. जैसे छत्तीसगढ़ में किया,वैसे ही झारखंड में गठबंधन की सरकार बनी, तो किसानों का कर्जा माफ होगा, आदिवासियों की जमीन की रक्षा होगी और बेरोजगारी दूर करने के लिए काम होगा. पीएम पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी जहां भी जाते हैं, रोजगार की बातें करते हैं. लेकिन 6 साल में झारखंड के एक युवा को रोजगार नहीं मिला. नोटबंदी के दौरान मोदी सरकार ने गरीबों, किसानों और युवाओं को बैंक के सामने खड़ाकर उनके जेब से पैसा निकाला, लेकिन एक भी उद्योगपति लाइन में खड़ा नहीं था. गरीबों से पैसे छीनकर सरकार ने उद्योगपतियों को दिया. लाखों करोड़ रुपये देश के 15 अमीर लोगों का कर्जा माफ किया. मगर किसानों का कर्जा माफ नहीं किया. नोटबंदी ने मध्यम और छोटे कारोबारी को बर्बाद कर दिया. जीएसटी से भी दुकानदारों को नुकसान हुआ है. लेकिन इसका फायदा सिर्फ पीएम मोदी के 10-15 मित्रों को हुआ.

 बीजेपी धर्म और संस्कृति के नाम पर लोगों को कुचलती है

कांग्रेस नेता ने कहा कि बीजेपी का लक्ष्य एक ही है कि झारखंड से पैसा, जमीन और बिजली छीनकर इन बड़े उद्योगपतियों को दो. इसलिए झारखंड में ऐसी सरकार नहीं चाहिए. बीजेपी धर्म और संस्कृति के नाम पर लोगों को कुचलती है. लेकिन कांग्रेस सरकार में ऐसा नहीं होने देंगे. सीएनटी-एसपीटी एक्ट को नहीं बदलने देंगे. कानून बनाकर आदिवासियों की जल, जंगल और जमीन की रक्षा करेंगे. बेरोजगारी दूर करने के लिए किसानों, गरीबों के जेब में पैसा डालना पड़ेगा. लेकिन पीएम मोदी इस बात को नहीं समझते. उन्होंने आपके जेब से पैसा निकाला और उद्योगपतियों के जेब में डाल दिया. ये मोदी की सरकार नहीं है अंबानी और अदानी की सरकार है. पहले 35 और आज 5 किलो अनाज गरीबों को मिलता है. ये 30 किलो का पैसे इन्हीं 15-20 लोगों के जेब में गया है. दिल्ली में सरकार अगली बार बन जाएगी, लेकिन झारखंड में गठबंधन की सरकार बनानी ही पड़ेगी. कांग्रेस सभी को साथ लेकर चलने वाली पार्टी है. धर्म, जाति के कारण किसी पर हमला नहीं करती है.

ये भी पढ़ें- अमित शाह का राहुल गांधी को चैलेंज, बोले- 55 बनाम 5 साल का हिसाब लेकर आएं मैदान में

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सिमडेगा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 2, 2019, 4:32 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर