लाइव टीवी

हॉकी में इन बेटियों ने राज्य को दिलाए कई पदक पर सरकार ने नहीं रखा इनका मान
Simdega News in Hindi

News18 Jharkhand
Updated: March 30, 2019, 1:58 PM IST
हॉकी में इन बेटियों ने राज्य को दिलाए कई पदक पर सरकार ने नहीं रखा इनका मान
हॉकी को लेकर सरकार उदासीन

राज्य हॉकी के उपाध्यक्ष मनोज कोनबेगी ने दुख जाहिर करते हुए कहा कि सरकार खेल को लेकर उदासीन है. ऐसे कई बच्चे हैं जिन्होंने राज्य को कई पदक दिलाए, लेकिन सीएम के इनाम की घोषणा के बाद भी उन्हें आज तक इनाम नहीं मिला.

  • Share this:
झारखंड में हॉकी इंडिया ने सिमडेगा की 6 खिलाड़ियों का चयन जूनियर इंडियन टीम के कैंप के लिए किया है. इन 6 खिलाड़ियों में से पांच एक ही स्कूल प्राथमिक विद्यालय करंगागुड़ी की छात्रा हैं. रेशमा सोरेंग, संगीता कुमारी, सुषमा कुमारी, ब्यूटी डुंगडुंग और पिंकी एक्का का चयन हुआ है.

चयनित खिलाड़ी ब्यूटी के पिता आमुश डुंगडुंग ने बताया कि बेटी की सफलता से खुशी तो मिली है लेकिन इसे भेजने के लिए उधार करना पड़ता है. बेटी देश के लिए खेले इससे खुशी की बात क्या होगी. वहीं सिमडेगा जिला हॉकी संघ के सचिव सह राज्य हॉकी के उपाध्यक्ष मनोज कोनबेगी ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि एक स्कूल से 5 खिलाड़ियाों का चयन बहुत बड़ी बात है. वहीं डे-बोर्डिंग में कोई सुविधा नहीं होने पर दुख भी जताया. उन्होंने कहा कि जिले में चल रहे अन्य डे-बोर्डिंग की स्थिति कमोबेश ऐसी ही है.

राज्य हॉकी के उपाध्यक्ष मनोज कोनबेगी ने दुख जाहिर करते हुए कहा कि सरकार खेल को लेकर उदासीन है. ऐसे कई बच्चे हैं जिन्होंने राज्य को कई पदक दिलाए, लेकिन सीएम के इनाम की घोषणा के बाद भी उन्हें आज तक इनाम नहीं मिला. सरकार को चाहिए की इस दिशा में काम करे ना कि सिर्फ पदक दिलाने की लालशा रखे. खिलाड़ियों को फीट रखने का काम सरकार का नैतिक धर्म है. वहीं कोच प्रतिमा बारवा ने सरकार से मांग की है कि खिलाड़ियों को जल्द फिजियो दे ताकि बच्चों को चोट से राहत मिल सके.

(सिमडेगा से श्रीराम पुरी की रिपोर्ट)



ये भी पढ़ें - हॉकी इंडिया की जूनियर टीम में झारखंड की छह बेटियों का चयन, पांच एक ही स्कूल से

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए सिमडेगा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 30, 2019, 1:54 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर