लापता पति की तलाश में दर-दर भटकने को मजबूर है महिला
Simdega News in Hindi

लापता पति की तलाश में दर-दर भटकने को मजबूर है महिला
पीड़ित महिला

शारदा देवी ने ऑनलाइन एफआईआर दर्ज कराई है. परंतु 25 दिनों के पश्चात भी राम बड़ाइक का पता नहीं चल पाया है.

  • Share this:
झारखंड के सिमडेगा में एक महिला अपने लापता पति की तलाश में दर-दर भटकने को मजबूर है. मामला ठेठईटांगर थाना क्षेत्र के मैटकुपा गांव का है. शारदा देवी अपने लापता पति राम बड़ाइक को ढूंढने के लिए ठेठईटांगर थाने में गुहार लगाई तो उसे ये कहकर लौटा दिया गया कि मामला दूसरे राज्य का है.

शारदा देवी ने ऑनलाइन एफआईआर दर्ज कराई है. परंतु 25 दिनों के पश्चात भी राम बड़ाइक का पता नहीं चल पाया है. दरअसल उसका पति पिछले माह 16 अक्टूबर को रोजी-रोजगार की तलाश में गांव के ही बुधा महतो नामक व्यक्ति के साथ भुवनेश्वर गया था. परंतु दो दिन बाद ही चाचा ससुर के मरने की खबर सुनकर उसने पत्नी से घर लौटने की बात कही. लेकिन तीन दिन के बाद भी पति के घर नहीं पहुंचने पर महिला ने वहां के मैनेजर से जानकारी लेनी चाही, तो मैनेजर ने पुलिस के पास शिकायत करो, कहकर फोन काट दिया.

वहीं राम बड़ाइक को अपने साथ ले जाने वाला बुधा महतो भी पूछने पर उसके घर लौटने की बात कहता है. शारदा देवी का कहना है कि उसकी छोटी-छोटी चार बेटियां हैं और उसके परिवार में एकमात्र कमाऊ सदस्य उसका पति ही है, जो पिछले 25 दिनों से लापता है.



(मुकेश की रिपोर्ट)
ये भी पढ़ें- अलकतरा घोटाला: ईडी ने क्लासिक कोल कंपनी के डायरेक्टर की जमीन जब्त की

ज्वैलरी शॉप से 6.50 लाख के जेवर-नकदी चोरी, व्यापारियों ने रखा बाजार बंद
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading