Home /News /jharkhand /

पांचवी जेपीएससी रद्द करने की मांग पर छात्रों ने किया हंगामा

पांचवी जेपीएससी रद्द करने की मांग पर छात्रों ने किया हंगामा

जेपीएससी मुख्यालय के बाहर शुक्रवार को आक्रोशित छात्रों ने जम कर बवाल काटा.

पांचवी जेपीएससी परीक्षा को रद्द करने की मांग लेकर नारे बाजी करते हुए छात्र मोरहाबादी मैदान से सर्कुलर रोड स्थित आयोग कार्यालय तक पैदल पहुंचे. छात्रों ने सर्कुलर रोड पर टायर जलाकर घंटों जाम कर दिया जिससे आवागमन बाधित रहा.

गौरतलब है कि बीते रविवार को रिजल्ट प्रकाशित होते ही जारी हुआ आंदोलन का दौर थमने का नाम नहीं ले रहा है. हालत यह है कि शुक्रवार को भी इसको लेकर सदन से लेकर सड़क तक में बबाल मचा रहा और सदन को आखिरकार सोमवार तक के लिए स्थगित करना पड़ा है.

कभी सीसैट को लेकर विवाद तो कभी परीक्षा परिणाम में आरक्षण की अनदेखी कि जाने के मामले में सुर्खियों में रहा पांचवी जेपीएससी सिविल सेवा परीक्षा परिणाम सरकार के लिए गले की हड्डी बन गई है। नाराज छात्र ने आयोग पर राज्य के बाहर के छात्रों को सफल करने और आरक्षण नियमावली की अनदेखी करने का आरोप लगाया है.

छात्र नेता मनोज कुमार कहते हैं कि आयोग द्वारा प्रकाशित रिजल्ट पर यदि गौर करें तो सफल घोषित किए गए 269 परीक्षार्थियों में अधिकांश परीक्षार्थी झारखंड से बाहर के रहने वाले हैं. विकलांग अभ्यर्थी ज्योति कुमारी ने कहा कि विकलांग कोटे में भी निर्धारित तीन प्रतिशत आरक्षण का मापदंड का कहीं न कहीं अनदेखी की गई है.

इससे पूर्व मुख्य परीक्षा में करीब 618 अभ्यर्थियों की कांपियों को रद्द किया गया था जिसकी सुनवाई हाईकोर्ट में चल रही है. ऐसे में इस परीक्षा में असफल रहे छात्रों का साथ जब सदन में विपक्षी दलों का मिला तो उनका आंदोलन अब और जोर पकड़ने लगा है.

Tags: झारखंड

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर