Assembly Banner 2021

रांची में CNG भरवाना बना सजा, 5 घंटे लाइन में लगने के बाद खुखरी पेट्रोल पंप पर मिलती है गैस

रांची के सीएनजी फिलिंग स्टेशन पर कतार में खड़ी ऑटो और अपनी बारी का इंजातार करते चालक.

रांची के सीएनजी फिलिंग स्टेशन पर कतार में खड़ी ऑटो और अपनी बारी का इंजातार करते चालक.

रांची में सीएनजी (CNG) से चलने वाले ऑटो को लगातार परमिट दी जा रही है. लेकिन, राजधानी में सीएनजी रिफिलिंग स्टेशन (CNG Station) की कमी के कारण ऑटो चालकों (Auto Drivers) को पांच -पांच घंटे तक एक बार रिफिलिंग के लिए लाइन में खड़ा होना पड़ रहा है.

  • Share this:
रांची. झारखंड (Jharkhand) की राजधानी रांची (Ranchi) में पर्यावरण संतुलन को बनाए रखने सस्ते ईंधन के लिए सीएनजी (CNG) से चलने वाले वाहनों को प्राथमिकता दी जा रही है. इसी दिशा में कदम आगे बढ़ाते हुए राजधानी में सीएनजी से चलने वाले ऑटो को ही यहां परमिट दिया जा रहा है. लेकिन, राजधानी में सीएनजी फिलिंग व्यवस्था सही नहीं है. इसके कारण ऑटो वालों को एक बार सीएनजी गैस लेने के लिए पांच- पांच घंटे तक लाइन में लगना पड़ रहा है.

रांची में अब तक 11 सौ से ज्यादा सीएनजी ऑटो को परमिट दिया जा चुका है. वहीं दूसरी ओर सीएनजी रीफिलिंग स्टेशन रांची में केलव चार हैं, जो ना के बराबर हैं. इनमें भी एक दो स्टेशन बंद रहते हैं, जिसके कारण आम जनता और ऑटो वालों को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ता है. कुछ स्टेशनों में इतनी लंबी लाइन लगती है कि ऑटो में सीएनजी भरवाना सजा बन जाती है. घंटों लाइन में लगने पर ऑटो चालकों को CNG मिल पाता है.

झारखंड विधानसभा: हंगामे के बीच 7323 करोड़ का अनुपूरक बजट पेश, सत्ताधारी विधायकों ने OBC के लिए मांगा 27% आरक्षण

क्या कहते हैं सीएनजी ऑटो चालक


राजेन्द्र चौक से बिरसा चौक तक की रूट पर ऑटो चलाने वाले अशोक झा को चार घंटे लाइन में लगने के बाद खुखरी पेट्रोल पंप पर सीएनजी मिली. उन्होंने Hindinews18.com से कहा कि हर तीसरे दिन सीएनजी भरवाने में तीन से चार घंटा उनको लाइन में लगना पड़ता है. इससे उनका समय भी खराब होता है और आमदनी भी उस दिन बहुत कम हो जाती है.



इसी तरह अरगोड़ा चौक से बिग बाजार तक ऑटो चलाने वाले मोहम्मद हैदर खान ने बताया कि खुखरी में सही मात्रा में सीएनजी मिलता है, इसलिए यहां भीड़ ज्यादा होती है. अन्य जगहों पर तो कई शिकायत हैं इसलिए हम लोग उधर नहीं जाते. हैदर कहते हैं कि हर दिन ऑटो मालिक को पैसा देना होता है, ऐसे में जब सीएनजी के लिए ही घंटों लाइन लगना पड़े तो उसके जैसे ड्राइवर के लिए मुश्किल होता है.

क्या कहते हैं राज्य के मंत्री


राज्य के वित्त सह खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता मामलों के मंत्री रामेश्वर उरांव ने कहा कि सीएनजी स्टेशन की कमी से हो रही परेशानियों से वह अवगत हैं. उन्होंने राजधानी के सभी पेट्रोल पंप पर सीएनजी स्टेशन शुरू करने के लिए केंद्रीय एजेंसी से बात की है. कई पेट्रोल पंपों के पास जगह की कमी आ रही है, जिसके चलते एक्सटेंशन नहीं हो रहा है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज