अपना शहर चुनें

States

भूमि विवाद में दो गुटों में हिंसक झड़प, चार घायलों को अस्पताल में कराया भर्ती

जमीनी विवाद को लेकर दो पक्षों में जमकर मारपीट हुई है.
जमीनी विवाद को लेकर दो पक्षों में जमकर मारपीट हुई है.

प्रतापपुर (Pratappur) थाना क्षेत्र के महुंगाई गांव में भूमि विवाद (Land dispute) को ले दोकर गुटों में जमकर मारपीट हुई. घटना में घायल (Injured) चार लोगों को इलाज के लिए अस्पताल (Hospital) में भर्ती कराया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 26, 2020, 12:34 AM IST
  • Share this:
प्रतापपुर. प्रतापपुर (Pratappur) थाना क्षेत्र के महुंगाई गांव में भूमि विवाद (Land dispute) को ले दोकर गुटों में जमकर मारपीट हुई, जिसमें दोनों पक्षों के चार लोग घायल (Injured) हो गये हैं. सभी घायलों को पुलिस (Police) ने उपचार के लिये सामुदायिक स्वास्थ्य उपकेंद्र प्रतापपुर में भर्ती कराया है.

यह पूरा विवाद जमीन की नाप और उसके बाद खेत में मेढ़ बनाने को लेकर हुआ है. इस बाबत घायल महुंगाई गांव निवासी उपेन्द्र कुमार यादव ने थाना मे आवेदन देकर गांव के ही अंतु यादव और उनके परिजनों के विरुद्ध मारपीट करने की प्राथमिकी दर्ज कराई है. घायल ने आवेदन में कहा है कि वह गुरिया निवासी ललन साव से पूर्व मे 36 डिस्मिल जमीन रजिस्ट्री करवाया था, जिसके बाद पुनः साढ़े 11 डिस्मिल जमीन खरीद को ले.

अग्रिम पैसा देकर संबंधित जमीन की मापी करवाते हुए मेड़बंदी करवा रहा था. इसी दौरान गांव के ही अंतु यादव अपने परिवार के अन्य सदस्यों के साथ मौके पर पहुंचा और मारपीट करने लगा. पीड़ित ने पुलिस के समक्ष इंसाफ की गुहार लगाई है. इधर पुलिस ने मामले में प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू कर दी है.



देवघर में 12 शातिर साइबर अपराधी गिरफ्तार, बैंक पासबुक-ATM समेत कई सामान बरामद


आर्थिक तंगी से परेशान ट्रक मालिक ने जहर खाकर की खुदकुशी
चतरा जिले के टंडवा आम्रपाली विंगलात गांव के एक ट्रक मालिक जुगेश्वर कुमार ने जहर खाकर खुदखुशी कर ली. 25 साल के जुगेश्वर कुमार जीवन यापन के लिए एक ट्रक खरीदकर आम्रपाली कोल परियोजना में चलाता था. लेकिन कई ट्रांसपोर्ट कंपनियों ने उसे ट्रक का किराया समय पर नहीं दिया. जिसके कारण जुगेश्वर को ट्रक की किश्त देना मुश्किल पड़ रहा था.

जुगेश्वर ने ट्रक फाइनेंस कराई थी. करीब तीन दिन पहले किश्त नहीं पटाने पर पूर्व फानेंसर ने गाड़ी सीज कर दी. इसके बाद जुगेश्वर कुमार मानसिक रूप से परेशान रहने लगा. अवसाद में आकर उसने सोमवार को जहर खाकर खुदकुशी कर ली. जुगेश्वर के निधन से परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है. ग्रामीणों ने मामले की जानकारी स्थानीय पुलिस को दे दी है. वहीं हाईवा एशोसिएशन ने इस मामले में ट्रांसपोर्टरों के खिलाफ आंदोलन की चेतावनी दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज