झारखंड के चाईबासा में पुलिस और नक्सलियों के बीच भीषण मुठभेड़, 3 उग्रवादी ढेर 1 घायल
West-Singhbum News in Hindi

झारखंड के चाईबासा में पुलिस और नक्सलियों के बीच भीषण मुठभेड़, 3 उग्रवादी ढेर 1 घायल
चाईबासा में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई, जिसमें तीन नक्सलियों को मार गिराया गया (फाइल फोटो)

Police-Naxal Encounter in Chaibasa: पश्चिमी सिंहभूम के पोड़ाहाट जंगल में पीएलएफआई उग्रवादियों के साथ सुरक्षाबलों (Security Forces) की मुठभेड़ (Encounter) हुई है. जिसमें तीन उग्रवादियों को मार गिराया गया है

  • Share this:
चाईबासा. पश्चिमी सिंहभूम जिले के पोड़ाहाट जंगल में गुरुवार सुबह सुरक्षाबलों (Security Forces) और पीएलएफआई उग्रवादियों के बीच मुठभेड़ (Encounter) हुई. जिसमें सुरक्षाबलों ने तीन उग्रवादी (Naxal) को मार गिराया है, जबकि एक और उग्रवादी को गोली लगी है, जो गंभीर रूप से घायल है. जवानों ने मारे गए उग्रवादियों के शव को अपने कब्जे में ले लिया है. साथ ही घायल उग्रवादी को भी गिरफ्तार कर लिया गया है.

जिले के एसपी इंद्रजीत महथा ने बताया कि पोड़ाहाट जंगल के मनमारू गांव के निकट
पीएलएफआई कमांडर अजय पूर्ति, चंपा और मोदी के दस्ते की होने की सूचना मिली. इस सूचना पर जिला पुलिस और सीआरपीएफ की संयुक्त टीम ने इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया. इसी दौरान सुबह 5 बजे मुठभेड़ शुरू हो गई. इस दौरान दोनों तरफ से जमकर गोलीबारी हुई है. जिसमें तीन उग्रवादी मारे गये हैं और एक बुरी तरह से घायल है. एसपी ने बताया कि अभी भी मुठभेड़ रूक-रूक जारी है.

घायल नक्सली मनोज हेस्‍सा को पैर में गोली लगी है. उसे इलाज के लिए चक्रधरपुर रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया है. जहां से उसे जमशेदपुर भेजने की तैयारी है. वहीं मृतकों की पहचान एरिया कमांडर चंदा, उसकी पत्नी और सेकेंड मोदी के रूप में हुई है. नक्सलियों के खिलाफ जंगल में अभी भी सर्च ऑपरेशन जारी है. जानकारी के मुताबिक पीएलएफआई के जिस दस्‍ते के साथ सुरक्षा बलों की मुठभेड़ हुई, उसमें 13 नक्‍सली शामिल थे. मुठभेड़ के बाद चलाये गए सर्च ऑपरेशन में सुरक्षा बलों को एक एके 47 राइफल, कट्टा व अन्‍य हथियारों सहित बड़ी मात्रा में नक्‍सली सामग्री मिली है.
कोल्‍हान के डीआइजी राजीव रंजन सिंह खुद इस अभियान में शामिल रहे. तीन अलग-अलग टीमों में राजीव रंजन सिंह के अलावा कुंडरगुटू में सीआरपीएफ के डीआइजी ऑपरेशन एचएस रावत, सीआरपीएफ 60 बटालियन के कमांडेंट आनंद जेराई, चाईबासा एसपी इंद्रजीत महथा, सीआरपीएफ के सेकेंड कमांडेंट साधु शरण यादव और डी राजू नायक भी शरीक हुए.



इनपुट- उपेन्द्र गुप्ता 

ये भी पढ़ें- Corona संदिग्‍ध मानकर नहीं किया इलाज, युवक ने तड़प-तड़प कर दम तोड़ा
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज