अप्राकृतिक यौनाचार के बाद मासूम की हत्या कर शव को जलाया गया

एसपी चंदन झा ने कहा कि प्रथम दृष्टया जांच में इस बात का खुलासा हुआ है कि छात्र के साथ अप्राकृतिक यौनाचार किया गया. उसके बाद उसकी बेहरमी से हत्या की गई.

News18 Jharkhand
Updated: December 7, 2018, 2:00 PM IST
अप्राकृतिक यौनाचार के बाद मासूम की हत्या कर शव को जलाया गया
एसपी चंदन झा
News18 Jharkhand
Updated: December 7, 2018, 2:00 PM IST
पश्चिमी सिंहभूम के चक्रधरपुर में तीसरी कक्षा के छात्र शुभम महतो की मौत का मामला तूल पकड़ता जा रहा है. घटना की जानकारी मिलने के बाद राज्य बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष आरती कुजूर ने स्कूल का दौरा किया और छात्र की मौत के लिए स्कूल प्रबंधन को जिम्मेदार ठहरा. वहीं एसपी चंदन झा ने नया खुलासा करते हुए कहा कि छात्र की हत्या से पहले उसके साथ अप्राकृतिक यौनाचार किया गया था.

इस घटना से स्कूल के छोटे-छोटे बच्चे काफी डरे-सहमे हुए हैं और घर जाने के लिए अभिभावकों से जिद कर रहे हैं. वहीं चक्रधरपुर के लोगों ने हत्या के विरोध गुरुवार शाम को कैंडल मार्च निकालकर पुलिस से जल्द कार्रवाई की मांग की. हत्या के इस मामले में अभी तक पोस्टमार्ट रिपोर्ट नहीं आया है.

एसपी चंदन झा ने कहा कि प्रथम दृष्टया जांच में इस बात का खुलासा हुआ है कि छात्र के साथ अप्राकृतिक यौनाचार किया गया. उसके बाद उसकी बेहरमी से हत्या की गई. हत्या के बाद शव को जलाकर सुनसान जगह पर फेंक दिया गया. इस कांड को स्कूल के  भीतर ही अंजाम दिया गया.

मृतक छात्र एक दिसंबर से स्कूल के छात्रावास से गायब था. इसकी जानकारी स्कूल और छात्रावास प्रबंधन को थी. लेकिन पुलिस और परिवारवालों को एक दिन बाद इसकी जानकारी दी गयी. तीन दिन तक खोजबीन के बाद छात्र का शव मिला.

बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष आरती कुजूर ने स्कूल में छानबीन के बाद कहा कि छात्र की मौत के लिए स्कूल प्रबंधन सीधे तौर पर जिम्मेवार है. स्कूल और छात्रावास में सीसीटीवी नहीं हैं, चाहरदिवारी नहीं है. बच्चों की सुरक्षा का कोई इंतजाम नहीं है.

उपेन्द्र गुप्ता की रिपोर्ट

ये भी पढ़ें- झगड़ा के बाद सीनियर छात्रों ने दी थी धमकी, अब मिली छात्र की लाश
Loading...

मां-बाप ने 3 हजार रुपये के लिए बेच दी अपनी दो बेटियां

 
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
-->