होम /न्यूज /झारखंड /सिंहभूम सीट पर महागठबंधन में ऑल इज नॉट वेल!

सिंहभूम सीट पर महागठबंधन में ऑल इज नॉट वेल!

जेएमएम जिला कार्यसमिति की बैठक

जेएमएम जिला कार्यसमिति की बैठक

झामुमो के पूर्व विधायक सुखराम उरांव ने कहा कि सिंहभूम सीट कांग्रेस के खाते में जाने के बाद एक बार भी कांग्रेस ने महागठब ...अधिक पढ़ें

    सिंहभूम सीट पर महागठबंधन में अब भी सबकुछ ठीक नहीं है. खासतौर पर झामुमो
    के नेता- कार्यकर्ता अब भी कांग्रेस से नाराज चल रहे हैं. दावेदारी के बावजूद यह सीट झामुमो से छिटक कर कांग्रेस के खाते में चली गई. इसको लेकर झामुमो के नेता- कार्यकर्ता अपनी पीड़ा को छुपा नहीं पा रहे.

    महागठबंधन में सिंहभूम सीट कांग्रेस के खाते में जाने और प्रत्याशियों की घोषणा के बाद बुधवार को पहली बार झामुमो जिला कार्यसमिति की बैठक चाईबासा में हुई. इसमें कोल्हान के तमाम झामुमो विधायक और नेता शामिल हुए. सभी का एक ही दर्द था और वह कांग्रेस के रवैये को लेकर था. झामुमो के पूर्व विधायक सुखराम उरांव ने कहा कि महागठबंधन में सिंहभूम सीट कांग्रेस के खाते में जाने के बाद एक बार भी कांग्रेस ने महागठबंधन दलों के साथ बैठक नहीं की. ना ही किसी विधायक या जिला कमेटी के पदाधिकारियों के साथ संपर्क कर चुनाव पर चर्चा की.

    दूसरी तरफ कांग्रेस प्रत्याशी गीता कोड़ा ने सफाई दी कि उन्हें अब प्रत्याशी घोषित किया
    गया है. पार्टी आलाकमान से सिंहभूम सीट पर घटक दलों के साथ मिलकर चुनाव संचालन समिति बनाने का निर्देश मिला है. जल्द ही यह समिति गठित की जाएगी. इसमें सभी घटक दलों के नेता और कार्यकर्ता होंगे. गीता कोड़ा ने दावा किया कि झामुमो के सभी विधायकों के साथ बात कर वह जल्द विवाद को दूर कर लेंगी. उन्होंने भरोसा दिलाया कि झामुमो के सभी विधायक भाजपा को हराने में उनका साथ देंगे.

    रिपोर्ट- उपेन्द्र गुप्ता

    ये भी पढ़ें- जमशेदपुर से टिकट मिलने के बाद बोले चंपई सोरेन- महागठबंधन से डर गई है बीजेपी

    जेएमएम ने झारखंड की 4 सीटों पर उतारे उम्मीदवार, शिबू सोरेन को दुमका से टिकट

     

     

    Tags: Jharkhand Lok Sabha Elections 2019, Lok Sabha Election 2019, Singhbhum S27p10

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें