• Home
  • »
  • News
  • »
  • jharkhand
  • »
  • Conversion in Jharkhand: यहां बाहरी लोग प्रलोभन देकर कराते हैं धर्मांतरण, ग्रामीणों का दावा- 11 परिवार का बदला गया धर्म

Conversion in Jharkhand: यहां बाहरी लोग प्रलोभन देकर कराते हैं धर्मांतरण, ग्रामीणों का दावा- 11 परिवार का बदला गया धर्म

West Singhbhum News: धर्मांतरण के बाद हो जनजाति समुदाय के कब्र में शव दफनाने को लेकर विवाद हो गया. (न्‍यूज 18)

West Singhbhum News: धर्मांतरण के बाद हो जनजाति समुदाय के कब्र में शव दफनाने को लेकर विवाद हो गया. (न्‍यूज 18)

Conversion in Jharkhand: पश्चिम सिंहभूम जिला के टोंटो थाना क्षेत्र के ग्रामीणों ने बाहरी लोगों द्वारा धर्मांतरण कराने का आरोप लगाया है. ग्रामीणों ने इस बाबत पुलिस में शिकायत भी दी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    शुभम गुप्‍ता

    पश्चिम सिंहभूम. झारखंड के पश्चिम सिंहभूम से जबरन और प्रलोभन देकर धर्मांतरण कराने का नया मामला सामने आया है. जिले के टोंटो थाना क्षेत्र के एक गांव के ग्रामीणों ने बाहरियों पर लोगों को भड़का कर और प्रलोभन देकर उनका धर्मांतरण करांराने का आरोप लगाया है. इस बाबत ग्रामीणों ने थाना प्रभारी से शिकायत भी की है.

    पश्चिम सिंहभूम के टोंटो थाना क्षेत्र के ग्राम दुरूला में ग्रामीणों ने थाना प्रभारी से शिकायत की है कि गांव में लगभग 11 परिवार का धर्मांतरण कराया गया है. अक्सर बाहर के लोगों द्वारा गांवव में आकर लोगों को भड़काया जाता है और उन्‍हें प्रलोभन दिया जाता है. पुलिस-प्रशासन का भय दिखा कर धर्मांतरण कराने का प्रयास किया जाता ह. बीते रविवार को ईसाई धर्म कबूल करने वाले एक परिवार द्वारा हो समाज के रीति-रिवाज के अनुसार समाज के ससन दिरी (कब्रिस्तान) में शव दफनाने की कोशिश का मामला प्रकाश में आया था. इस पर गांव में तनाव फैल गया.

    21वीं सदी के भारत का एक ऐसा गांव जहां पानी पीने के लिए एक हैंडपंप तक नहीं, बीमार पड़े तो 2 KM चलना पड़ता है पैदल

     हो समुदाय के लोगों का कहना है कि धर्मांतरण मामले की शिकायत पहले भी थाने में जाकर की गई है. धार्मिक मुद्दों को लेकर कई दौर की पंचायत भी हुई है और गांव के लोगो ने धर्म बदलने वाले परिवारों का सामाजिक बहिष्कार भी किया है. इसपर थाना प्रभारी ने दोनों पक्षो को समझा-बुझाकर बांव में शांति के साथ रहने की सलाह देकर मामले को शांत कराया था.

    जानकारी के मुताबिक, धर्मांतरित परिवार के 50 वर्षीय अमृत लाल बोयपाई पिता कृष्णा बोयपाई का शनिवार रात में निधन हो गया था. हो समुदाय की वंशागत ससन दिरी (कब्रिस्तान) में रविवार सुबह चुपचाप शव दफनाने के लिए गड्ढा खोदा गया तो इस मामले ने एक बार फिर से तूल पकड़ लिया. ग्रामीण एवं हो समाज के लोगों ने इसको अपनी धार्मिक आस्थाओं पर चोट बताते हुए शव को दफनाने नहीं दिया था.

    इसके बाद थाना प्रभारी ने दल-बल के साथ पहुंच कर मामले को शांत कराया था. पुलिस ने ग्रामीणों के तेवर को शांत कराते हुए बाहर से आकर गांव वालों को न भड़काने और गांव की शांति-व्यवस्था को न बिगाड़ने के लिए धर्म प्रचारकों को कड़ी चेतावनी दी थी. इसके बावजूद भी धर्मांतरण का सिलसिला जारी है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज