लाइव टीवी

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव बोले- पद और सत्ता के लोभ में विधायकों ने छोड़ी पार्टी

News18 Jharkhand
Updated: October 23, 2019, 11:34 AM IST
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव बोले- पद और सत्ता के लोभ में विधायकों ने छोड़ी पार्टी
विधायकों के पार्टी छोड़ने के सवाल पर रामेश्वर उरांव ने कहा कि इन नेताओं ने राजनीतिक अवसरवादिता और अनैतिकता का परिचय दिया है. (फाइल फोटो)

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रामेश्वर उरांव (Rameshwar Oraon) ने कहा कि इन्हें कांग्रेस (Congress) में रहते जीत की उम्मीद नहीं थी, इसलिये कांग्रेस को छोड़ने का फैसला लिया. सुखदेव भगत (Sukhdev Bhagat) को पार्टी ने बहुत कुछ दिया.

  • Share this:
चाईबासा. विधानसभा चुनाव (Assembly Election) से पहले झारखंड में कांग्रेस (Congress) को तगड़ा झटका लगा है. पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत (Sukhdev Bhagat) और बरही विधायक मनोज यादव (Manoj Yadav) ने पार्टी को बाय-बाय कह दिया है. ये दोनों आज बीजेपी (BJP) में शामिल हो गये हैं. सुखदेव भगत वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव (Rameshwar Oraon) से नाराज चल रहे थे. विधायकों के पार्टी छोड़ने के सवाल पर रामेश्वर उरांव ने कहा कि इन नेताओं ने राजनीतिक अवसरवादिता और अनैतिकता का परिचय दिया है. पद और सत्ता के लोभ में ये लोग भाजपा में शामिल हो रहे हैं.

नये लोगों को मिलेगा मौका 

प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि इन्हें कांग्रेस में रहते जीत की उम्मीद नहीं थी, इसलिये कांग्रेस को छोड़ने का फैसला लिया. सुखदेव भगत को पार्टी ने बहुत कुछ दिया. लेकिन इनके जाने से पार्टी में नए लोगों को मौका मिलेगा. आने वाले विधान चुनाव में ये मतदाता तय करेंगे कि विपक्ष कमजोर है या मजबूत.

उधर, सुखदेव भगत ने कहा कि उनके कांग्रेस छोड़ने की कोई वजह नहीं है. आज जहां भी खड़ा हूं, कांग्रेस की वजह से हूं. कांग्रेस ने मुझे बहुत कुछ दिया है. मेरी प्रतिबद्धता लोहरदगा के लोगों के साथ है. जिस मंच पर मैं जा रहा हूं. वहां से लोहरदगा के विकास में भूमिका अच्छी तरह से निभा पाऊंगा.

2005 में कांग्रेस में शामिल हुए थे

बता दें कि साल 2005 में राज्य प्रशासनिक सेवा को छोड़कर सुखदेव भगत कांग्रेस में शामिल हुए थे. बाद में उन्हें प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भी बनाया गया. इसी साल संपन्न हुए लोकसभा चुनाव में उन्होंने कांग्रेस के टिकट पर लोहरदगा सीट से चुनाव भी लड़ा, लेकिन हार गये. लोहरदगा से फिलहाल विधायक हैं. ऐसा माना जा रहा है कि नये प्रदेश अध्यक्ष रामेश्वर उरांव को बनाये जाने के कारण सुखदेव भगत ने कांग्रेस को बाय-बाय कहा है. सुखदेव भगत रामेश्वर उरांव के कामकाज के तरीके पर सवाल उठाते हुए आलाकमान से शिकायत भी की थी.

सुखदेव भगत के साथ बरही से कांग्रेस विधायक मनोज यादव ने भी बीजेपी का दामन थामा हैं. मनोज यादव विधानसभा में कांग्रेस विधायक दल के नेता भी रह चुके हैं. पूर्व मंत्री भी रहे हैं. झारखंड में कांग्रेस के कद्दावर नेताओं में शुमार थे.
Loading...

इनपुट- उपेन्द्र गुप्ता

ये भी पढ़ें- पूर्व प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सुखदेव भगत आज बीजेपी में होंगे शामिल, बोले- मैं अभी नई नवेली दुल्हन की तरह

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पश्चिमी सिंहभूम से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 23, 2019, 11:29 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...