झारखंड में दो बच्चियों ने आम के झगड़े में 6 साल की बच्ची को मार डाला

कॉंसेप्ट इमेज

कॉंसेप्ट इमेज

Crime in Jharkhand : सिर्फ 6 साल की उम्र में क्या यह समझ होती है कि पेड़ पर लगे आम किसके होते हैं, किसके नहीं? इस नन्ही सी बच्ची को आम के लिए जान गंवाना पड़ी. और, आरोपी बच्चियां टीनेजर भी नहीं हैं. यह आम बात नहीं है.

  • Share this:

पश्चिम सिंहभूम. एक बच्ची की आम खाने की हसरत उसकी मौत का कारण बन गई, वो भी उम्र में ज़रा ही बड़ी दो बच्चियों के हाथों! जी हां, झारखंड के पश्चिम सिंहभूम ज़िले में यह घटना हुई. जानकारी के मुताबिक 9 और 12 साल की दो बहनों ने पड़ोस में ही रहने वाली 6 साल की नन्ही सी बच्ची की जान मामूली झगड़े के चलते ले ली. पकुआ बेड़ा गांव में यह घटना बीते गुरुवार की है, जब 6 वर्षीय नादान बच्ची उस बगीचे से आम तोड़ना चाह रही थी, जो आरोपी बच्चियों के परिवार का था.

खबरों की मानें तो बीते गुरुवार को एक ही इलाके में रहने वाली बच्चियों के बीच झगड़ा तब शुरू हुआ, जब छोटी बच्ची ने आम के बगीचे से फल लेने की कोशिश की. दो बहनों ने उसे इसलिए रोका क्योंकि वह बगीचा उनके परिवार का था. कहासुनी और बच्चों का झगड़ा एकदम से इतना बढ़ गया कि दो बहनों ने बच्ची का गला घोंट दिया. कुछ देर तक गला घोंटने से बच्ची की मौत होना बताया गया.

ये भी पढ़ें : प्रेमी के साथ पत्नी ने की पति की हत्या, आशिक को गिरफ्तार कर ले गई दिल्ली पुलिस

jharkhand news, jharkhand samachar, jharkhand murder case, jharkhand crime news, झारखंड न्यूज़, झारखंड समाचार, झारखंड हत्याकांड, झारखंड क्राइम न्यूज़
पुलिस ने आरोपी बच्चियों को रिमांड होम भेजा.

इस चौंकाने वाली घटना की सूचना के बाद जब पुलिस मौके पर पहुंची तो आरोपी बच्चियों को हिरासत में लेकर उन्हें रिमांड होम भेज दिया गया. इन पर आईपीसी की धारा 302 के तहत हत्या और धारा 201 के तहत जुर्म के सबूत नष्ट करने के आरोप लगाकर मुकदमा दर्ज किया गया है. खबरों में पुलिस के मुताबिक कहा गया कि 'प्राथमिक जांच में यह स्पष्ट नहीं हो सका कि जब दो बहनों ने बच्ची पर हमला किया, तब वह बगीचे से आम तोड़ रही थी कि नहीं.'

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज