कोरोना संक्रमण को देखते हुए सारंडा वन प्रमंडल ने बनाया हर्बल इम्यूनिटी बूस्टर
West-Singhbum News in Hindi

कोरोना संक्रमण को देखते हुए सारंडा वन प्रमंडल ने बनाया हर्बल इम्यूनिटी बूस्टर
कोरोना संक्रमण को देखते हुए सांरडा वन प्रमंडल ने इम्यूनिटी बढ़ाने वाला पेय पदार्थ बनाया है.

सारंडा डीएफओ रजनीश कुमार ने बताया कि इस पेय पदार्थ (Immunity Booster) को अर्जुन पेड़ की छाल, अमरूद, गोलाय, तुलसी के पत्ते, गुड़, काली मिर्च, दालचीनी, हल्दी, अदरख, लौंग और नींबू से तैयार किया गया है.

  • Share this:
चाईबासा. केंद्रीय आयुष मंत्रालय के निर्देश पर सारंडा वन प्रमंडल (Saranda Forest Division) ने हर्बल इम्यूनिटी बूस्टर पेय पदार्थ तैयार किया है. यह न केवल काम करने की क्षमता को बढ़ाता है, बल्कि शरीर की रोग प्रतिरोधकता को भी मजबूत करता है. मौजूदा समय में कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए ये लोगों के लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकता है. वन प्रमंडल के अधिकारियों ने इस बात का दावा किया.

डीसी ने खुद पीकर किया लॉन्च

वन विभाग के अधिकारियों ने बताया कि कोरोना से सीधी जंग लड़ रहे डाक्टर, नर्स, मेडिकल स्टाफ, पुलिस एवं निगमकर्मियों के लिए यह आयुर्वेदिक पेय पदार्थ टॉनिक के रूप में काम करेगा. इसे जिले के डीसी अरवा राजकमल, एसपी इंद्रजीत महथा, डीडीसी आदित्य रंजन, सिविल सर्जन मंजू दुबे और सारंडा डीएफओ रंजनीश कुमार ने खुद पीकर बुधवार को लॉन्च किया. इसे सारंडा के जंगल की कई जड़ी-बूटियों और बाजार में उपलब्ध सामग्रियों से तैयार किया गया है.



इन जड़ी बूटियों से बना है पेय पदार्थ 
सारंडा डीएफओ रजनीश कुमार ने बताया कि अर्जुन पेड़ की छाल, अमरूद, गोलाय, तुलसी के पत्ते, गुड़, काली मिर्च, दालचीनी, हल्दी, अदरख, लौंग, नींबू को मिक्सी में पीसकर पेस्ट बनाया जाता है. उसके बाद उसे डेढ़-दो घंटे कड़ाही में खौलाने के बाद ठंडा होने के लिए रखा जाता है. ठंडा होने के बाद यह पेय पदार्थ पीने लायक हो जाता है. इसको तैयार करने के लिए सारंडा वन समितियों के 120 लोगों को विशेष प्रशिक्षण दिया गया है. फिलहाल इसकी टेस्ट प्रक्रिया चल रही है. जल्द मान्यता लेकर इसे बाजार में उतारा जाएगा.

डीसी अरवा राजकमल ने वन अधिकारियों के प्रयास की सराहना करते कहा कि इससे सारंडा
के लोगों को कोरोना संकट में काम मिलेगा. आगे भी यह उनकी कमाई का जरिया बन जाएगा.

रिपोर्ट- उपेन्द्र गुप्ता

ये भी पढ़ें- मजदूरों और छात्रों को वापस लाने के लिए झारखंड सरकार ने बनाई 15 IAS की टीम
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading