• Home
  • »
  • News
  • »
  • jobs
  • »
  • Army Bharti 2021: कौन होते हैं कॉन्‍स्‍टेबल ‘ट्रेड्समैन’ और क्‍या होता है उनका काम, जानें डिटेल

Army Bharti 2021: कौन होते हैं कॉन्‍स्‍टेबल ‘ट्रेड्समैन’ और क्‍या होता है उनका काम, जानें डिटेल

कॉन्‍स्‍टेबल ट्रेड्समैन पद के लिए न्‍यूनतम शै‍क्ष‍िणिक 10वीं कक्षा है.

कॉन्‍स्‍टेबल ट्रेड्समैन पद के लिए न्‍यूनतम शै‍क्ष‍िणिक 10वीं कक्षा है.

Indian Army Recruitment 2021: कॉन्‍स्‍टेबल ट्रेड्समैन के अंतर्गत तकरीबन 35 ट्रेड आते हैं. हर सुरक्षाबल अपनी आवश्‍यकता अनुसार टे्ड्स का निर्धारण करता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

नई दिल्‍ली. Indian Army Recruitment 2021: सशस्‍त्र सुरक्षा बलों में कॉन्‍स्‍टेबल की भर्ती के दौरान दो तरह के पदों की बात होती है. पहला पद कॉन्‍स्‍टेबल (जीडी) का होता है, जबकि दूसरा पद कॉन्‍स्‍टेबल (ट्रेड्समैन) का होता है. कॉन्‍स्‍टेबल (जीडी) यानी जनरल ड्यूटी पर तैनात होने वाले जवान और उनके दायित्‍वों के बारे में हम सभी को पता है, लेकिन कॉन्‍स्‍टेबल (ट्रेड्समैन) की ड्यूटी और दायित्‍वों की बात करें, तो ज्‍यादातर लोग इससे अनभिज्ञ हैं. आइए आज हम आपको बताते हैं कि कॉन्‍स्‍टेबल (ट्रेड्समैन) कौन होते हैं और सशस्‍त्र सुरक्षा बल में उनके क्‍या दायित्‍व होते हैं?

सशस्‍त्र सुरक्षाबल से जुड़े वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, कॉन्‍स्‍टेबल (ट्रेड्समैन) के अंतर्गत करीब 35 पद आते हैं. सशस्‍त्र सुरक्षा बल अपनी आवश्‍यकता के अनुसार, इन पदों की संख्‍या को कम या ज्‍यादा कर लेते हैं. उदाहरण के तौर पर, भारतीय सेना में कॉन्‍स्‍टेबल (ट्रेड्समैन) के अंतर्गत करीब 15 ट्रेड्स आते हैं, वहीं हम असम राइफल्‍स की बात करें तो वहां ट्रेड्स की संख्‍या बढ़कर करीब 35 हो जाती है. इस तरह, सुरक्षा बल अपनी जरूरत के अनुसार, ट्रेड्स की संख्‍या में कमी या बढ़ोत्‍तरी कर सकते हैं. दायित्‍व की बात करें तो कॉन्‍स्‍टेबल (ट्रेड्समैन) की ड्यूटीज कॉन्‍स्‍टेबल (जीडी) से बिल्‍कुल अलग होती हैं.

कॉन्‍स्‍टेबल (ट्रेड्समैन) के अंतर्गत आने वाले मुख्‍य ट्रेड

बावर्ची : जवानों को तीन बार का भोजन उपलब्ध कराने के लिए योग्‍य रसोइयों की भर्ती सेना सहित अन्‍य सुरक्षा बलों में की जाती है.

ड्रेसर/ नाई : सेना सहित सशस्‍त्र सुरक्षा बलों के जवानों और अधिकारियों के बालों की देखभाल के लिए ड्रेसर/नाई की भर्ती की जाती है.

पशु स्टोर धारक : घोड़ों और कुत्तों की देखभाल के लिए आवश्यक उपकरण, राशन, हार्नेस, कपड़े, दवाएं और घास आदि की व्‍यवस्‍था करना पशु स्‍टोर धराक की ड्यूटी है.

फेरियर:  इस पद पर ऐसे आवेदकों की भर्ती की जाती है जो घोड़ों और उनके खुरों की विशेष देखभाल के साथ संबंधित कार्य की जानकारी रखते हों और उसमें निपुण हों.

स्‍टीवर्ड : इस पद पर चयनित कॉन्‍स्‍टेबल (ट्रेड्समैन) का कार्य मेस के सहायक और अधिकारियों को स्वच्छ और सलीके से भोजन परोसना होता है.

कारपेंटर: बढ़ई के काम का ज्ञान और विशेषज्ञता रखने वाले आवेदकों की भर्ती की जाती है. इस पद पर भर्ती के लिए आईटीआई योग्यता या पारंपरिक ज्ञान वाले उम्मीदवारों को प्राथमिकता दी जाती है.

पेंटर:  इस पर तैनात जवान की ड्यूटी निर्देशों के अनुसार उपकरणों चिह्नित और क्रमांकित करना होता है. इस पद के लिए पेंटिंग कौशल और विशेषज्ञता वाले उम्मीदवारों की आवश्यकता होती है.

दर्जी: इस पर तैनात जवान की ड्यूटी निर्धारित मानकों के अनुसार, जवानों की वर्दी की देखभाल, मरम्मत करने की जिम्‍मेदारी मिलती है. इस पद के लिए पारंपरिक कौशल या आईटीआई प्रशिक्षण वाले उम्मीदवारों की भर्ती की जाती है. आवश्यकता होती है.

लोहार : पारंपरिक कौशल वाले या आईटीआई से योग्यता रखने वाले उम्मीदवारों को लोहार के रूप में तैनात किया जा है.

संगीतकार: संगीत इंस्‍ट्रूमेंट बजाने में निपुण और संगीत का पारंपरिक ज्ञान रखने वाले वाले उम्मीदवारों इस पद के लिए भर्ती किया जाता है.

मोची: सैनिकों और अधिकारियों के जूतों और उपकरणों को सेवा योग्य स्थिति में बनाए रखने की जिम्‍मेदारी मोची की होती है. नौकरी के लिए पारंपरिक कौशल या प्रशिक्षण वाले उम्मीदवारों की आवश्यकता होती है.

केनेल मैन: गार्ड ड्यूटी, स्निफर और ट्रैकर्स के लिए सशस्‍त्र बलों में मौजूद विशेषज्ञ कुत्ते के हैंडलिंग और देखभाल की ड्यूअी केनेल मैन की होती है.

धोबी: सैनिकों और अधिकारियों की वर्दी को उच्च स्तर पर बनाए रखने के लिए धोबी की तैनाती होती है. धोबी के रूप में सेवा करने के लिए पारंपरिक कौशल या अनुभव वाले उम्मीदवारों की आवश्यकता होती है.

मैस कीपर / समालची: मेस में रसोइया की दैनिक कार्यों में सहायता करने और प्रतिदिन बर्तन और रसोई की सफाई करने के लिए मैस कीपर की आवश्‍यकता होती है. कुछ सुरक्षाबलों में इस पद को मसालची के नाम से जाना जाता है.

हाउस कीपर: इकाई क्षेत्र, लाइनों, शौचालयों, कार्यालयों, सड़कों की प्रतिदिन सफाई और रखरखाव के लिए हाउस कीपिंग स्‍टाफ की भर्ती की जाती है. इस पद के लिए ज्ञान और कौशल के साथ समर्पित उम्मीदवारों की आवश्यकता होती है.

कॉन्‍स्‍टेबल (ट्रेड्समैन) के अंतर्गत आने वाले मुख्‍य ट्रेड
कॉन्‍स्‍टेबल (ट्रेड्समैन) पद के अंतर्गत पुल और सड़क में सहायक, क्लर्क, निजी सहायक, विद्युत फिटर सिग्नल, लाइनमैन, उपकरण मैकेनिक, मैकेनिक वाहन (इलेक्ट्रीशियन), वाहन मैकेनिक, इलेक्ट्रीशियन, प्‍लंबर, फार्मेसिस्ट, एक्स-रे सहायक, पशु चिकित्सा सहायक, सफाई कर्मी, वॉटर मैन, राजमिस्‍त्री और माली के ट्रेड्स शामिल है. सेना या अर्धसैनिक बलों में भर्ती के बाद कॉन्‍स्‍टेबल (ट्रेड्समैन) को उनके ट्रेड्स का आवश्‍यकता अनुसार प्रशिक्षण भी दिया जाता है. साथ ही, कॉन्‍स्‍टेबल (ट्रेड्समैन) को सामान्‍य सैनिक के रूप में भी प्रशिक्षित किया जाता है, जिससे जरूरत पड़ने पर वह सैनिक की भूमिका को बिना किसी बाधा के पूरा कर सकें.

शैक्षिणिक योग्‍यता
कॉन्‍स्‍टेबल (ट्रेड्समैन) पद के लिए आवेदक की शिक्षा दसवीं पास या समकक्ष होनी चाहिए. तकनीकी क्षेत्र वाले ट्रेड्स में आईटीआई प्रशिक्षित आवेदकों को प्राथमिकता दी जाती है.

यह भी पढ़ें:
Know Your Army Heroes: जब पाकिस्‍तानी चौकी पर भारतीय तिरंगा फहरा कर अचेत हुए ‘छेत्री’ और फिर…
Know Your Army Pride: दुश्‍मनों पर मौत बनकर टूटे ‘रूसी’, पाक की सरजमीं में लहराया तिरंगा

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज