होम /न्यूज /नौकरियां /खुशखबरी! मध्य प्रदेश में अतिथि शिक्षक भी ले सकेंगे गृह जनपद में तबादला, उच्च शिक्षा विभाग का आदेश जारी

खुशखबरी! मध्य प्रदेश में अतिथि शिक्षक भी ले सकेंगे गृह जनपद में तबादला, उच्च शिक्षा विभाग का आदेश जारी


MP Education : साप्ताहिक च्वाइस फिलिंग प्रक्रिया भी शुरू होगी.

MP Education : साप्ताहिक च्वाइस फिलिंग प्रक्रिया भी शुरू होगी.

MP Education : मध्य प्रदेश में अब नियमित शिक्षकों की भांति अतिथि शिक्षक भी मनचाही जगह पर ट्रांसफर करा सकेंगे. उच्च शिक् ...अधिक पढ़ें

भोपाल. MP Education : मध्य प्रदेश उच्च शिक्षा विभाग ने अतिथि शिक्षकों के लिए एक अच्छी खबर दी है. मध्य प्रदेश में अब नियमित शिक्षकों की तरह अतिथि शिक्षक भी ट्रांसफर ले सकेंगे. अतिथि शिक्षकों को ट्रांसफर लेने की सुविधा शैक्षिक सत्र में एक बार मिलेगी. नियम के मुताबिक सरकारी कॉलेजो के प्रिंसिपल को भी इस आदेश को पालन करना होगा. नियमित शिक्षकों की तरह ही अतिथि शिक्षकों के ट्रांसफर की भी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी. अतिथि शिक्षक ट्रांसफर के लिए उच्च शिक्षा विभाग के पोर्टल पर रिक्त पद देख सकेंगे. इसके बाद ही आवेदन कर सकेंगे. ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद आवेदकों की सूची जारी की जाएगी. जिसके बाद मेरिट लिस्ट जारी कर जहां भीअ खाली पद होंगे, वहां पर अतिथि शिक्षकों को पदस्थापना दी जाएगी.

उच्च शिक्षा विभाग के इस फैसले से दूर दराज के अतिथि शिक्षकों को थोड़ी राहत मिलेगी. वे अपने गृह जनपद में शिक्षण कार्य कर सकेंगे. नोटिस के अनुसार, साप्ताहिक च्वाइस फिलिंग प्रक्रिया जो किसी कारण रुकी हुई थी वो भी प्रक्रिया शुरू होगी. इससे पिछले 2 वर्षो से फालेन आउट अतिथि विद्वानों को जॉइनिंग में आसानी होगी.

नियमितीकरण का मामला अभी भी पेंडिंग

हालांकि, मध्य प्रदेश में अतिथि शिक्षकों को नियमित करने का मामला अभी भी लंबित है. अतिथि शिक्षक लंबे समय से सरकार से नियमित करने की मांग कर रहे हैं. नियमितीकरण को लेकर अतिथि शिक्षक प्रदेश भर में आंदोलन भी कर चुके हैं. कमलनाथ सरकार ने अतिथि शिक्षकों को नियमित करने प्रस्ताव भी तैयार किया था. आश्वासन तो शिवराज सरकार ने भी दिया था. लेकिन अभी तक इस पर कोई कार्य नहीं हुआ.

ये भी पढ़ें 

CGPEB Recruitment 2021 : छत्तीसगढ़ व्यापम ने निकाली 12वीं पास के लिए स्टेनोग्राफर की वैकेंसी

UPSC Exam: कैसे बनते हैं IAS, IPS या IFS ऑफिसर? इन फैक्टर्स से समझें प्रोसेस

Tags: Contract teachers, Guest Faculty, MP education department

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें