Job in Gorakhpur Fertilizer Factory: पूर्वांचल के युवाओं को गोरखपुर खाद कारखाने में मिलेंगी 10000 नौकरियां

हिंदुस्तान उर्वरक एवं रसायन लिमिटेड 10,000 से अधिक पदों भर्ती प्रक्रिया शुरू

खाद कारखाने में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से 10 हजार से ज्यादा लोगों को रोजगार मिलेगा. रोजगार वितरण के दौरान पूर्वांचल के युवाओं को वरीयता दी जाएगी.

  • Share this:
    नई दिल्ली. Job in Gorakhpur Fertilizer Factory: गोरखपुर में हिंदुस्तान उर्वरक एवं रसायन लिमिटेड (एचयूआरएल) के खाद कारखाने की शुरुआत जल्द ही होने वाली है. ब्वायलर की टेस्टिंग के साथ गैस पाइप लाइन को ठीक करने का काम तेजी से चल रहा है. खाद कारखाना में रेल बिछाने का काम भी आखिरी दौर में है.

    मिलेगा 10000 से ज्यादा लोगों को रोजगार
    काम पूरा होने के बाद खाद कारखाना, कार्यालय और खाद बिक्री के नेटवर्क में प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से 10 हजार से ज्यादा लोगों को रोजगार मिलेगा. रोजगार वितरण के दौरान पूर्वांचल के युवाओं को वरीयता दी जाएगी.

    एचयूआरएल के वरिष्‍ठ प्रबंधक सुबोध दीक्षित के अनुसार पूर्वांचल के साथ ही प्रदेश और देश की आर्थिक समृद्धि और रोजगार देने में यह खाद कारखाना बहुत उपयोगी होगा. साथ ही यहाँ की नीम कोटेड यूरिया छोटे दाने की और सर्वश्रेष्ठ होगी.

    खाद कारखाने के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी 
    शिलान्यास: जुलाई 2016
    शिलान्यास किया: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने किया था
    कार्यदायी संस्था: टोक्यो जापान
    कुल बजट: 7085 करोड़
    यूरिया प्रकार: नीम कोटेड
    प्रीलिंग टावर: 149.5 मीटर ऊंचा
    शुरू होने की तिथि: जुलाई 2021
    रबर डैम का बजट: 28 करोड़
    रोजगार प्रत्यक्ष/अप्रत्यक्ष: लगभग 10 हजार से ज्यादा

    इन स्थाई पदों पर निकलने वाली है भर्ती
    असिस्टेंट मैनेजर, इंजीनियर, वाइस प्रेसीडेंट, चीफ मैनेजर, मैनेजर, आफिसर के स्थाई पदों पर भर्तियां निकली हैं. इसके लिए एचयूआरएल की वेबसाइट पर आवेदन मांगे गए हैं.

    भविष्य में साथ ही इंजीनियरिंग सर्विस, आफसाइट व यूटिलिटीज, यूरिया प्रोडक्ट हैंडङ्क्षलग, मैकेनिकल, सिविल, एन्वायरमेंट एंड सेफ्टी, आइटी, एन्वायरमेंट एंड क्वालिटी कंट्रोल, क्वालिटी एश्योरेंस एंड इंस्पेक्शन, एचआर, फाइनेंस, कंपनी सेक्रेटरी, कांट्रेक्ट्स मैटेरियल और मार्केटिंग पदों पर भर्ती होगी. इसके अलावा यह भी योजना बनाई जा रही है कि अस्थाई पदों पर स्थानीय लोगों की भर्ती की जाए.

    बिक्री नेटवर्क के जरिए मिलेगा हजारों रोजगार
    एचयूआरएल में मार्केटिंंग का काम देख रहे उमाकांत त्रिपाठी ने जागरण को बताया कि खाद बिक्री के लिए पूर्वांचल में 14 डीलर बनाए जा चुके हैं. हर डीलर के अधीन तकरीबन दो सौ रिटेलर बने हैं. गोरखपुर निर्मित यूरिया की आपूर्ति पूरे उत्तर प्रदेश के साथ बिहार में भी की जाएगी. इस काम में हजारों लोगों को रोजगार मिलेगा.

    ये भी पढ़ें
    Sarkari Naukri: 8वीं पास के लिए सिंचाई विभाग में निकली भर्तियां, सैलरी 56000 तक
    Sarkari naukri : यूपी में इस सप्ताह आएगी शिक्षकों की 19 हजार से ज्यादा वैकेंसी, देखें डिटेल

    28 सौ मीट्रिक टन यूरिया की हो चुकी है बिक्री
    पूर्वांचल के किसानों में खाद की पैठ बनाने के लिए खाद कारखाना प्रबंधन ने पिछले साल मुंबई से उज्जवला नाम का 28 सौ मीट्रिक टन यूरिया मंगाया था. इस खाद को गोरखपुर कारखाने के नाम से रिटेलरों को ₹260 प्रति 45 किलोग्राम बोरा बेचा गया जिसे किसानो नें हाथो-हाथ खरीद लिया.

    अनुमान के हिसाब से खाद कारखाने में रोजाना 3850 मीट्रिक टन यूरिया का उत्पादन होना है. एचयूआरएल ने किसानों को खाद कारखाने से जोड़ने के लिए है टोल फ्री नंबर 18002586807 भी जारी किया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.