• Home
  • »
  • News
  • »
  • jobs
  • »
  • DFC रेल लाइनों के लिए उत्‍तर रेलवे ने अपने कुछ ट्रैक्‍स अलग किए, रिकॉर्ड टाइम में किया ऐसा

DFC रेल लाइनों के लिए उत्‍तर रेलवे ने अपने कुछ ट्रैक्‍स अलग किए, रिकॉर्ड टाइम में किया ऐसा

डेडिकेटिड फ्रेट कॉरिडोर कॉरपोरेशन द्वारा बिछाई जाने वाले रेल लाइनों को रास्‍ता देने के लिए ऐसा किया गया है.

डेडिकेटिड फ्रेट कॉरिडोर कॉरपोरेशन द्वारा बिछाई जाने वाले रेल लाइनों को रास्‍ता देने के लिए ऐसा किया गया है.

उत्‍तर रेलवे (Northern Railways) के अम्‍बाला मंडल (Ambala Division) ने डेडिकेटिड फ्रेट कॉरिडोर कॉरपोरेशन (DFCCIL) द्वारा बिछाई जाने वाली रेल लाइनों की सुविधा के लिए अपनी अप और डाउन रेल लाइनों के कुछ हिस्‍से को स्‍थाई रूप से अलग कर दिया है.

  • Share this:
नई दिल्‍ली : तेज गति की मालभाड़ा रेलगाड़ियों के परिचालन के लिए अलग से तैयार किए जा रहे गलियारे के काम को जल्‍द पूरा करने दिशा में भारतीय रेलवे (Indian Railways) की ओर से अहम कदम उठाए जा रहे हैं. इसी दिशा में उत्‍तर रेलवे (Northern Railways) के अम्‍बाला मंडल (Ambala Division) ने डेडिकेटिड फ्रेट कॉरिडोर कॉरपोरेशन (DFCCIL) द्वारा बिछाई जाने वाली रेल लाइनों की सुविधा के लिए अपनी अप और डाउन रेल लाइनों के कुछ हिस्‍से को स्‍थाई रूप से अलग कर दिया है.

2Km तक रेलवे लाइन को अलग किया
उत्‍तर रेलवे के महाप्रबंधक आशुतोष गंगल ने बताया कि दो किलोमीटर रेल लाइन के हिस्‍से को उसके मूल स्‍थान से हटाकर अंबाला-सहारनपुर सेक्‍शन के मुस्‍तफाबाद-दराजपुर स्‍टेशनों के बीच एक नए स्‍थान पर ले जाया गया है. डेडिकेटिड फ्रेट कॉरिडोर कॉरपोरेशन द्वारा बिछाई जाने वाले रेल लाइनों को रास्‍ता देने के लिए ऐसा किया गया है.

दो बड़े नए पुल भी बनाए गए 
नई अप और डाउन कट कनेक्‍शन लाइनें रिकॉर्ड वक्‍त में बिछा दी गई हैं. इस सेक्‍शन पर दो बड़े नए पुल भी बनाए गए हैं. सेफ्टी इंस्‍पेक्‍शन के बाद इस लाइन को रेलगाड़ियों के आवागमन के लिए खोल दिया गया है.

DFC रेल इंफ्रास्ट्रक्चर की बड़ी परियोजनाओं में से एक
दरअसल, डेडिकेटिड फ्रेट कॉरिडोर कॉरपोरेशन (Dedicated Freight Corridor Corporation) के ट्रैक के पूरा हो जाने के बाद  ईस्‍टर्न डेडिकेटिड फ्रेट कॉरिडोर पर तेज गति की मालभाड़ा रेलगाड़ियों का परिचालन किया जाएगा. डीएफसी भारत सरकार की ओर से शुरू की गई रेल इंफ्रास्ट्रक्चर की बड़ी परियोजनाओं में से एक है. इसकी कुल लागत 81,459 करोड़ रुपये बताई गई है. डीएफसीसीआईएल पहले चरण में पश्चिमी डीएफसी (1504 किमी) और पूर्वी डीएफसी (1856 किमी) को बना रहा है. इनकी कुल लंबाई 3360 किमी है.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज