• Home
  • »
  • News
  • »
  • jobs
  • »
  • RAJASTHAN POLICE CONSTABLE SI SPORTS QUOTA RECRUITMENT SELECTED CANDIDATES FOR TRIALS LIST RELEASE

Rajasthan Police Constable, SI Recruitment: सीधी भर्ती-2019 में ट्रायल के लिए देखें पूरी सूची, जानें कैसे होगा सेलेक्शन

एसआई और प्लाटून कमांडर पद पर ट्रायल के लिए 567 अभ्यर्थियों का चयन किया गया है.

Rajasthan Police Constable SI Recruitment : राजस्थान पुलिस ने स्पोर्ट्स कोटा के तहत कांस्टेबल, एसआई और प्लाटून कमांडर पदों पर चल रही भर्ती प्रक्रिया में ट्रायल के लिए चयनित अभ्यर्थियों की सूची जारी कर दी है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. राजस्थान पुलिस ने कांस्टेबल, सब इंस्पेक्टर और प्लाटून कमांडर (स्पोर्ट्स कोटा) सीधी भर्ती-2019 के ट्रायल के लिए चयनित अभ्यर्थियों की प्रोविजनल लिस्ट जारी कर दी है. अभ्यर्थी अपना नाम राजस्थान पुलिस की वेबसाइट police.rajasthan.gov.in पर चेक कर सकते हैं. एसआई और प्लाटून कमांडर भर्ती के लिए ऑनलाइन आवेदन 23 जनवरी 2020 से 21 फरवरी 2020 के बीच हुए थे. इस सीधी भर्ती के तहत एसआई व प्लाटून कमांडर के कुल 68 पदों के लिए अभ्यर्थियों का चयन किया जाना था.

    एसआई और प्लाटून कमांडर पद पर ट्रायल के लिए 567 अभ्यर्थियों का चयन किया गया है. जबकि कांस्टेबल पद के लिए 605 अभ्यर्थियों का चयन किया गया है.

    यहां क्लिक करके देखें कांस्टेबल भर्ती प्रक्रिया में ट्रायल के लिए चयनित अभ्यर्थियों की सूची
    एसआई भर्ती प्रक्रिया में ट्रायल के लिए चयनित अभ्यर्थियों की सूची 

    ट्रायल का पैटर्न
    खेल प्रमाण पत्रों के मूल्यांकन में पास हुए अभ्यर्थियों को अब संबंधित खेल का ट्रायल देना होगा. यह अधिकतम 30 अंक का होगा. तीसरे स्थान से नीचे आने वाले प्रत्येक स्थान के लिए दो अंक कम दिए जाएंगे.

    चयन प्रक्रिया के तीनों चरणों का टेस्ट कुल 100 अंकों का होता है. जिसमें से कम से कम 40 अंक हासिल करना अनिवार्य है. वहीं, अभ्यर्थी को व्यक्तिगत स्पर्धा/टीम स्पर्धा में ट्रायल के लिए निर्धारित 30 अंकों में से कम से कम 15 अंक हासिल करने होंगे.

    व्यक्तिगत स्पर्धाओं के ट्रायल में खिलाड़ियों को अंक इस तरह प्रदान किए जाएंगे.
    प्रथम- 30 अंक
    द्वितीय स्थान- 28
    तृतीय स्थान- 26

    टीम स्पर्धा - ऐसे अभ्यर्थियों का ट्रायल कमेटी की मदद से संबंधित खेल के नेशनल स्पोर्ट्स फेडरेशन के मापदंडों के अनुसार लिया जाएगा.

    बता दें कि ट्रायल में सफल अभ्यर्थियों को मेडिकल टेस्ट से गुजरना होगा. यदि इसमें अनफिट पाया जाता है तो अभ्यर्थी के अपली पर द्वितीय मेडिकल बोर्ड भी गठित किया जाएगा. इसमें सफल होने के बाद प्रमाण पत्रों की जांच और चरित्र सत्यापन होता है. इन सब के बाद मेरिट सूची बनाई जाती है.

    ये भी पढ़ें-
    इंजीनियरिंग के लिए फिजिक्स, केमिस्ट्री और मैथ्स महत्वपूर्ण, AICTE के चेयरमैन ने कही ये बात
    SSB Interview: कपूरथला में होने वाले दो बैच का इंटरव्यू शेड्यूल बदला, जानिए क्या है नई तिथि
    Published by:Praveen Singh
    First published: