Home /News /jobs /

ब्रेक के बाद कैसे बदलें करियर, बहुत कुछ सिखाता है संदीप का तजुर्बा

ब्रेक के बाद कैसे बदलें करियर, बहुत कुछ सिखाता है संदीप का तजुर्बा

साल के अंत तक, संदीप ने अपने रेज़्यूमे में एक नया स्किल जोड़ा. इस कोर्स के साथ साथ उनमें एक नए फील्ड में प्रवेश करने के लिए आत्मविश्वास आ गया था.

साल के अंत तक, संदीप ने अपने रेज़्यूमे में एक नया स्किल जोड़ा. इस कोर्स के साथ साथ उनमें एक नए फील्ड में प्रवेश करने के लिए आत्मविश्वास आ गया था.

संदीप कहते हैं, मैं ठीक से खाना नहीं खा रहा था. मुझे पता था कि मैं इस नौकरी को जारी नहीं रख सकता. मेरे पास इस्तीफा देने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा था.

    नई दिल्ली. पहली नौकरी के दौरान नकारात्मक प्रभाव महसूस करें तो अच्छा प्रदर्शन करना मुश्किल होता है. लेकिन फ्रेशर्स इसे झेलते रहते हैं और करियर की शरुआत खराब न हो, इस डर से नौकरी छोड़ते या बदलते नहीं. लेकिन लंबे तक प्रेशर में काम करने से जान पर बन आती है. ऐसी ही कहानी है संदीप की. जो हमें बहुत कुछ सिखाती है. जानिए इनकी कहानी.

    अपनी पहली नौकरी में बमुश्किल छह महीने के भीतर ही संदीप कुमार ने अपने स्वास्थ्य पर तनाव के नकारात्मक प्रभावों का अनुभव करना शुरू कर दिया. सप्ताह में लगभग 72 घंटे फील्ड सेल्स में काम करना बेहद थका देने वाला था, बार-बार बुखार और शारीरिक कमजोरी के कारण उसके लिए काम में अच्छा प्रदर्शन करना मुश्किल हो जाता. उन्होंने कुछ समय के लिए दवा ली, लेकिन इससे कोई फायदा नहीं हुआ. थकान के चलते उनका लगभग 15 किलो वजन कम हुआ और बेहद कमजोर हो गए.

    इस्तीफा देने के अलावा कोई विकल्प नहीं
    संदीप कहते हैं, मैं ठीक से खाना नहीं खा रहा था. मुझे पता था कि मैं इस नौकरी को जारी नहीं रख सकता. मेरे पास इस्तीफा देने के अलावा कोई विकल्प नहीं बचा था. संदीप अगस्त 2018 में अपने घर चले गए. उन्हें टाइफाइड हो गया. उन्होंने अपने स्वास्थ्य पर ध्यान देने के लिए काम से ब्रेक लेने का फैसला किया. वह करीब दो महीने पूरी तरह बेड रेस्ट पर थे. फिर धीरे-धीरे ठीक हुए, लेकिन फिर भी फुल टाइम नौकरी के लिए तैयार नहीं था. 2019 की शुरुआत तक, संदीप अपने करियर को फिर से शुरू करने के लिए तैयार थे.

    वे बताते हैं कि “मैं जिस वित्त कंपनी (finance company) के साथ पहले काम कर रहा था, उसने बिक्री टीम में फिर से शामिल होने का अवसर दिया, लेकिन मैंने इसे ठुकरा दिया. उन्होंने अन्य क्षेत्रों में नौकरी की तलाश शुरू कर दी, लेकिन उनकी शिक्षा और पिछले अनुभव के साथ उन्हें समान sales profile में ही नौकरियां मिलती.

    फील्ड बदलने के इरादे से फाइनेंस फर्म में जाने से पहले कोर्स
    संदीप tech-enthusias रहे. उन्होंने 2015 में विग्नन विश्वविद्यालय से इंजीनियरिंग में स्नातक किया था. लेकिन 2018 में फील्ड बदलने के इरादे से फाइनेंस फर्म में जाने से पहले post graduate diploma in management किया था.

    काम से लिए ब्रेक का अधिकतम लाभ
    नए क्षेत्र में नौकरी की तलाश में, उन्हें एडटेक प्लेटफॉर्म ग्रेट लर्निंग पर एक professional training programme मिला. संदीप बताते हैं, “मैंने टेक इंडस्ट्री में एंट्री के लिए काम से लिए ब्रेक का अधिकतम लाभ उठाने का फैसला किया,” वे कहते हैं. उन्होंने 2020 जनवरी में 6 महीने के कोर्स के लिए डेटा विज्ञान कार्यक्रम (data science programme) में दाखिला लिया, जो कि महामारी के कारण एक लंबा ऑनलाइन पाठ्यक्रम बन गया. यह उनके लिए बिल्कुल नया विषय था, लेकिन उन्होंने सीखने की ठानी.

    ब्रेक लिया, करियर बदला
    साल के अंत तक, संदीप ने अपने रेज़्यूमे में एक नया स्किल जोड़ा. इस कोर्स के साथ साथ उनमें एक नए फील्ड में प्रवेश करने के लिए आत्मविश्वास आ गया था. वे कहते हैं, यहां उन्हें अपने जैसे अन्य लोगों के साथ जुड़ने का भी मौका मिला, जिन्होंने ब्रेक लिया था या करियर बदलना चाह रहे थे.

    वे कहते हैं, हमने इंटरव्यू की तैयारी में एक-दूसरे की मदद की लेकिन नौकरी की तलाश आसान नहीं थी. नियोक्ताओं के लिए दो साल के अंतराल को देखना मुश्किल है. वे आमतौर पर अनुभवी उम्मीदवारों की तलाश करते हैं.

    संदीप ने अप्रैल 2021 में हेल्थकेयर सॉल्यूशंस फर्म Indegene में एक डेटा विश्लेषक की नौकरी पाई. उन्हें उम्मीद है कि वह जल्द ही बेंगलुरु कार्यालय से काम करना शुरू कर देंगे. वे कहते हैं, मैं अपने करियर को फिर से शुरू करने के लिए रोमांचित हूं. (संदीप का तजुर्बा
    timesofindia.indiatimes.com के सोर्स से)

    ये भी पढ़ें-
    Sarkari Naukri: 10वीं, 12वीं पास के लिए 2800 से अधिक पदों पर नौकरियां
    Sarkari Naukri : बैंक ऑफ इंडिया में ग्रेजुएट, 10वीं और आठवीं पास के लिए नौकरियां, देखें सैलरी और योग्यता

    Tags: Career Guidance, Job and career

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर