11 मुल्कों में सैर कराएगा आपको भारत का ड्राइविंग लाइसेंस

दुनिया में ऐसे 11 मुल्क हैं, जहां भारतीय ड्राइविंग लाइसेंस वैध है और इससे वहां वाहन चलाए जा सकते हैं.

  • Last Updated: November 16, 2018, 3:35 PM IST
  • Share this:
ड्राइविंग की एक अलग दीवानगी होती है. अलग-अलग शहरों में ड्राइव करने का भी अलग मजा है. लेकिन उससे ज्यादा अलग और मजेदार अनुभव दूसरे मुल्क में ड्राइव या राइड करना होगा. सवाल है कि क्या विदेश में वाहन चलाने के लिए अलग ड्राइविंग लाइसेंस की जरूरत होती?

जी हां कई मुल्कों में सैलानियों को वाहन चलाने के लिए इंटरनेशनल ड्राइविंग परमिट (IDP)दिया जाता है. लेकिन दुनिया में ऐसे 11 मुल्क हैं, जहां भारतीय ड्राइविंग लाइसेंस वैध है और इससे वहां वाहन चलाए जा सकते हैं. जानिए उन देशों के बारे में.

 1. जर्मनी
अगर आप जर्मनी की शॉर्ट ट्रिप पर हैं तो आप अपने भारतीय लाइसेंस से भी वहां टू-व्हीलर या कार चला सकते हैं. वहां इंटरनेशनल ड्राइविंग परमिट की अनिवार्यता नहीं है. हालांकि IDP रखने की सलाह दी जाती है ताकि लोकल अथॉरिटी जर्मन भाषा आसानी से समझ पाएं. अगर IDP रखना आपके लिए मुश्किल है तो आप अपने लाइसेंस को किसी जर्मन डिप्लोमेटिक मिशन से स्थानीय भाषा में बदल सकते हैं.
इसरो के PSLV और GSLV लॉन्च व्हीकल में क्या अंतर?



2. ग्रेट बिट्रेन
भारतीय पर्यटकों को इंग्लैंड, स्कॉटलैंड और वेल्स काफी पसंद आते हैं. नियमों के मुताबिक आप एक साल तक अपने वैध लाइसेंस से वहां कार या बाइक चला सकते हैं. लेकिन आप वही वाहन चला पाएंगे जिनका जिक्र आपके लाइसेंस में है.

3. ऑस्ट्रेलिया
भारतीय ड्राइविंग लाइसेंस पर आप ऑस्ट्रेलिया में वाहन चला सकते हैं. ऑस्ट्रेलियाई प्रशासन इसकी अनुमति देता है. बस उसके उत्तरी क्षेत्र में ऐसा करने की इजाज़त नहीं है.

4. न्यूज़ीलैंड
अगर आपका ड्राइविंग लाइसेंस अंग्रेजी में प्रिंटिड है तो न्यूज़ीलैंड का प्रशासन आपको 12 महीने तक वाहन चलाने की अनुमति देता है. अगर आपका लाइसेंस अंग्रेजी भाषा में नहीं है तो आप वाहन नहीं चला सकते.



कैसे काम करता है दुनिया का सबसे बड़ा एयर प्यूरिफायर?

5. स्विटज़रलैंड
राइट लेन ड्राइविंग वाला ये देश किसी स्वर्ग से कम नहीं है. यशराज और करन जौहर की फिल्मों के बाद भारत में उसकी लोकप्रियता में खासा इजाफा हुआ है. यहां के स्विस आल्प्स
वादियों में आप भारतीय लाइसेंस के साथ सफर कर सकते हैं.

6. दक्षिण अफ्रीका
लेफ्ट लेन डाइविंग वाले अफ्रीका का एक बड़ा हिस्सा ड्राइविंग के लिहाज से बेहद खूबसूरत है. यहां भी आप भारतीय लाइसेंस के साथ ड्राइविंग कर सकते हैं, बशर्ते आपका लाइसेंस अंग्रेजी में छपा हुआ हो. साथ ही लाइसेंस पर फोटो और सिग्नेचर जरूरी है. लेकिन कई जगह IDP की मांग की जा सकती है.



7. स्वीडन
स्वीडन में अगर आपके पास अंग्रेजी, जर्मन, फ्रेंच, स्वीडिश, डैनिश और नार्वेजियन भाषा का लाइसेंस नहीं है. तो आप इन भाषाओं में से किसी का भी ट्रांसलेटेड वर्जन अपने साथ रख सकते हैं. लेकिन लाइसेंस पर आपका फोटो और आधिकारिक ID प्रूफ होना चाहिए.

वो मुल्क जहां एक दिन की नौकरी में 55 हजार की कमाई

8. सिंगापुर
भारतीय ड्राइविंग लाइसेंस सिंगापुर में भी कारगर है. जरूरी है कि आपका लाइसेंस अंग्रेजी में लिखा होना चाहिए. अगर ऐसा नहीं है तो इसका ट्रांसलेशन वर्जन साथ होना काफी जरूरी है. लेकिन कई मामलों में IDP की भी जरूरत होती है. इसके लिए आप RTO डिपार्टमेंट से संपर्क कर सकते हैं.

9. हांगकांग
लेफ्ट लेन ड्राइविंग वाले हांगकांग में विदेशी पर्यटकों को ड्राइव करने की सुविधा है. बतौर पर्यटक आप 12 महीने वाहन चला सकते हैं. बस आपका लाइसेंस फोटो सहित अंग्रेजी में होना चाहिए.

10. मलेशिया
अंग्रेजी में नहीं होने पर आप अपने लाइसेंस का अंग्रेजी या मलय भाषा का वर्जन साथ लेकर चलें. ये ट्रांसलेशन भारतीय दूतावास या जारी करने वाली अथॉरिटी से जुड़ा होना चाहिए.

11. अमेरिका
दुनिया के सबसे शक्तिशाली मुल्क संयुक्त राष्ट्र में भी आप भारतीय लाइसेंस के बूते कार चला सकते हैं. लेकिन इससे पहले आपको मोटर व्हीकल डिपार्टमेंट से जानकारी हासिल करनी होती है. हालांकि वहां के कुछ इलाकों में कार किराए पर देने वाली कंपनियां IDP की मांग करती हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading