2 Asteroid के नमूने लेकर लौटेंगे 2 अंतरिक्ष यान, रोचक है इनका इतिहास

2 Asteroid के नमूने लेकर लौटेंगे 2 अंतरिक्ष यान, रोचक है इनका इतिहास
ये दोनों क्षुद्रग्रह पृथ्वी के पास हैं, लेकिन इनमें काफी समानता है. (प्रतीकात्मक फोटो)

दो अलग अंतरिक्ष यान (Space crafts) दो एक से क्षुद्रग्रह (Asteroids) के नमूने लेकर धरती पर आएंगे. अभी तक मिली जानकारी इनका रोचक इतिहास बता रही है.

  • Share this:
नई दिल्ली:  अंतरिक्ष (Space) से कई बार हमें चौंकाने वाली जानकारियां मिलती हैं तो कई जानकारियां हमें चौकन्ना भी करती हैं. क्षुद्रग्रह (Asteroid) अंतरिक्ष का ऐसा पिंड है जिसकी चर्चा होते ही लोगों के मन में यही सवाल आता है कि कहीं यह पृथ्वी (Earth) से टकराने तो नहीं जा रहा है.  पृथ्वी की पास गुजरने वाले दो क्षुद्रग्रह के बारे में हमें खास जानकारी मिली है. और जल्दी ही उनके बारे में बहुत सी जानकारी और मिलेगी क्योंकि दो अलग अंतरिक्ष यान इनके नमूने पृथ्वी पर लाने वाले हैं.

कौन से क्षुद्रग्रह हैं ये दो
इन दो क्षुद्रग्रहों के नाम रेयुगु और बेन्नू हैं. ये पृथ्वी के पास से गुजरने वाले क्षुद्रग्रह हैं. इस शोध से पता चला है कि इस बात की पूरी संभावना है कि ये क्षुद्रग्रह कभी एक बड़े क्षुद्रग्रह का हिस्सा हुआ करते थे. पिछले कुछ सालों में एक अंतरिक्ष यान ने इन दोनों में से एक क्षुद्रग्रह की यात्रा की है जबकि एक इसकी यात्रा करने वाला है.

कौन से दो अंतरिक्ष अभियान है इनके लिए



इन दोनों क्षुद्रग्रहों के अध्ययन से पता चला है कि ये एक से दिखाई देते हैं और इनका आकार एक घूमते हुए लट्टू की तरह है. जापान के हायाबूसा 2 अंतरिक्ष यान ने रेयुगु की यात्रा की और वहां  के कुछ नमूने जमा किए. अब यह यान इस समय धरती की ओर लौट रहा है. नासा का ओसिरिस आरएक्स OSIRIS-Rx अभियान बेन्नू की परिक्रमा दिसंबर 2018 से कर रहा है और वह इस साल के अंत में उसके कुछ नमूने एकत्र कर पृथ्वी पर लौटेगा.



शोधकर्ताओं में है इनके लिए उत्साह
पेरिस स्थित फ्रेंच नेशनल सेंटर फॉर साइंटिफिक रिसर्च के शोध निदेशक और इस अध्ययन के सहलेखक पैट्रिक माइकल ने कहा, “हम इस मौके को लेकर बहुत उत्साहित हैं कि दो अंतरिक्ष अभियान दो पुराने पृथ्वी के पास वाले क्षुद्रग्रहों से होकर लगभग एक ही समय में आ रहे हैं इससे हमें दो नई छोटी दुनियाओं के बारे में पता चल सकेगा.”

Asteroid-1998-OR2
क्षुद्रग्रह आम तौर पर मंगल और ग्रुह के बीच पाए जाते हैं.


दोनों क्षुद्रग्रहों में है बड़ी समानता
ये दोनों अंतरिक्ष अभियान इन दो क्षुद्रग्रहों पर प्रकाश डालेंगे जिनका पृथ्वी पर से अलोकन करना संभव नहीं हैं. नेचर कम्यूनिकेशन में प्रकाशित हुए इस शोध के अनुसार दोनों ही अंतरिक्ष यानों ने इन क्षुद्रग्रहों के पास से गुजरने के बाद यह पाया है कि इनमें बहुत ज्यादा समानता है. दोनों में कार्बन पदार्थों की प्रचुरता है. दोनों एक पिंड न होकर बहुत सी चट्टानों को गुरुत्व से साथ बांधे हुए हैं. और दोनों के विषुवत रेखाओं (Equators) पर बड़े क्रेटर के निशान हैं.

किसी बड़े क्षुद्रग्रह परिवार का हिस्सा रहे होंगे ये दोनों
एरीजोना की लूनार एंड प्लैनेटरी लैब और शोध के लेखक रोनाल्ड बालोउज  को लगता है कि इतनी और ऐसी समानताओं से यही लगता है कि ये दोनो क्षुद्रग्रह एक बड़े क्षुद्रग्रह का हिस्सा रहे होंगे. करोड़ों साल पहले या तो ये पृथ्वी से टकराए होंगे या फिर पृथ्वी के गुरुत्वाकर्षण प्रभाव के कारण ये सूर्य की ओर चले गए होंगे. इस तरह के पृथ्वी के पास क्षुद्रग्रह की संख्या बड़े क्षुद्रग्रहों के टुकड़ों से बढ़ी है जो मंगल और गुरू ग्रहों के बीच स्थित थे.

Asteroid
इन क्षुद्रग्रहों में बहुत ज्यादा समानताएं हैं. (प्रतीकात्मक फोटो)


इन टुकड़ों में एक अलग बात भी है. रेयुगु बेन्नु के मुकाबले कहीं ज्यादा सूखा क्षुद्रग्रह है. इससे सवाल तो उठा कि क्या ये दोनों अलग ही क्षुद्रग्रह परिवार से हैं ,लेकिन शोधकर्ताओं को लगता है कि इसके बावजूद भी इन दोनों के क्षुद्रग्रह के एक ही परिवार से होने की पूरी संभावना है.

यह भी पढ़ें:

एक अरब साल ज्यादा पुरानी हैं पृथ्वी की Tectonic Plates, जानिए क्या बदलेगा इससे

वैज्ञानिकों ने देखा अब तक का सबसे चमकीला, तेज FBOT, जानिए क्या है यह

बहुत फायदेमंद है तेजी से चार्ज होने वाली नई बैटरी, जानिए कैसे करती है यह काम

वैज्ञानिकों ने ढूंढ लिया दिमाग का वह हिस्सा, जो ‘खत्म’ कर देता है दर्द

खगोलविदों ने देखा अजूबा, प्रकाश से भी तेज गति से पदार्थ फेंक रहा है ब्लैक होल
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading