62 साल के सनी देओल कहां से लड़ेंगे चुनाव? जानें उनकी सियासी पारी के बारे में सबकुछ

Sanjay Srivastava | News18Hindi
Updated: April 23, 2019, 5:05 PM IST
62 साल के सनी देओल कहां से लड़ेंगे चुनाव? जानें उनकी सियासी पारी के बारे में सबकुछ
सनी देयोल

सनी देओल के बीजेपी ज्वाइन करते ही चर्चाएं जोर पकड़ने लगी हैं कि उनका अगला कदम क्या होगा. देओल परिवार में वो बीजेपी में आने वाले तीसरे शख्स हैं

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 23, 2019, 5:05 PM IST
  • Share this:
देओल परिवार का तीसरा शख्स अब भारतीय जनता पार्टी की ओर से अपनी सियासी पारी शुरू कर रहा है. वो शख्स सनी देओल हैं. पिता धर्मेंद्र और सौतेली मां हेमा मालिनी के बाद वो अब बीजेपी की ओर से चुनाव लड़ सकते हैं.

23 अप्रैल को जैसे ही सनी देओल ने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ली, ये चर्चाएं जोर पकड़ने लगी कि वो कहां से चुनाव लड़ सकते हैं. सियासी जानकार कहते हैं कि वो या तो गुरदासपुर से चुनाव मैदान में खड़े हो सकते हैं या फिर राजस्थान की किसी ऐसी सीट की ओर रुख करेंगे, जो जाट बहुत होगी. ठीक चुनावों के बीच में जिस तरह उन्होंने बीजेपी की सदस्यता ली है, उसे सियासी पंडित इसी रूप में देखते हैं कि एक दो दिनों में उनके चुनाव लड़ने की घोषणा हो जाएगी.

62 साल के युवा
आमतौर पर सियासत और मीडिया से दूर अपनी जिंदगी को नितांत व्यक्तिगत रखने वाले सनी जब सियासत में ताल ठोंक रहे हैं, तो उनकी उम्र 62 साल हो चुकी है. उनकी फिटनेस, तरोताजगी और लुक लोगों को हैरान कर सकता है कि वो 62 साल के कैसे हो सकते हैं, क्योंकि अब भी वो देखने में 40 प्लस सरीखे ही लगते हैं.

ये भी पढ़ें: 10 फ़्लॉप फ़िल्मों के बाद अब सनी देओल ने थामा बीजेपी का दामन

दो साल पहले एक अंग्रेजी अखबार को उन्होंने कहा कि बेशक मेरी उम्र बढ़ रही है, लेकिन मैं दूसरे फिल्मी सितारों की तरह कभी अपनी उम्र नहीं छिपाता. लेकिन इतना हमेशा कहूंगा कि मैं खुद को बहुत युवा महसूस करता हूं. उम्र का असर खुद पर मुझको चढ़ता हुआ अब तक नहीं दिखा है.

सनी आमतौर पर प्रचार और मीडिया से दूर रहते हैं लेकिन अब सियासी दुनिया में उन्हें ये दोनों काम करने होंगे

Loading...

कम बोलने वाले शख्स
वो कम बोलने वाले शख्स हैं. अब उन्हें जनसभा में लंबे लंबे भाषण देने होंगे. हालांकि, ये बात उनके फेवर में गुरदासपुर की सीट जाट और पंजाबी बहुल है और उनके गांव के करीब भी. अपने गांव से उनका नाता लगातार बना रहा है. राजनीति को उन्होंने करीब से इसलिए भी देखा है, क्योंकि उनके पिता ना केवल सांसद रहे बल्कि वो लगातार चुनाव प्रचार में जाते रहे हैं.

बीजेपी के लिए प्रचार करते रहे हैं
सनी पिछले सालों में भी भारतीय जनता पार्टी के प्रचार में उतरते रहे हैं. जब उनके पिता धर्मेंद्र राजस्थान से चुनाव लड़ रहे थे तो सनी उनके प्रचार में गए. उसके बाद पिछले चुनाव में भी उनके बीजेपी के फेवर में प्रचार की बातें सामने आईं थीं. हालांकि, ये बड़ा सवाल है कि बेहद शर्मीले सनी सियासी चोले को कैसे निभाएंगे. वो तो ऐसे शख्स भी रहे हैं, जिन्हें अपने फिल्म की मार्केटिंग भी बड़ी चुनौती लगती रही हैं.

ये भी पढ़ें: तीसरे चरण के प्रत्याशियों में 320 का रिकॉर्ड दागदार, सबसे ज्यादा कांग्रेस में दागी

वो दौर देखा जब पिता स्टार नहीं बने थे

वो पंजाब के सहनेवाल गांव में पैदा हुए. ये 1956 की बात है. उनकी मां प्रकाश कौर गांवों में रहती थीं. पिता धर्मेंद्र के मन में बॉलीवुड जाने के सपने तैरते रहते थे. आप कह सकते हैं कि जब वो पैदा हुए और बड़े हो रहे थे, तब तक उनकी जिंदगी साधारण थी. पिता बॉलीवुड स्टार नहीं बने थे. कह सकते हैं कि उनकी किशोरवय गांव में बीती. ये वो समय था जब पिता मुंबई जाकर पहचान बनाने में जुटे थे. घर पर उनका आना कम होता था.

सनी पंजाब के गांव सनेहवाल में तब पैदा हुए थे, जब उनके पिता ने बॉलीवुड की ओर रुख भी नहीं किया था


मुश्किल भरा समय भी आया
ये समय सनी वाकई मुश्किल था. पिता घर पर होते नहीं थे. मां की अपनी मुश्किलें थीं. क्योंकि पिता के बॉलीवुड जाने के कुछ समय बाद ही उनके मीना कुमारी से रोमांस की खबरें आने लगीं. इसके बाद पिता का नाम दूसरे अभिनेत्रियों से भी जुड़ा. हां, जब 70 के दशक में धर्मेंद्र स्टार बन गए तो कुछ बरसों के लिए उन्होंने अपने परिवार को इंग्लैंड में शिफ्ट कर दिया. लंदन से ही सनी ने एक्टिंग का कोर्स भी किया.

कभी नहीं चढ़ा स्टारडम का नशा
सनी के बारे में बहुत ज्यादा जानने का दावा कोई नहीं करता. वो अंतर्मुखी हैं. गुस्सैल भी. लेकिन कुछ लोगों की नजरों में वो बहुत शिष्ट और शर्मीले व्यक्ति हैं. जो हमेशा अपनी हदों में रहते हैं. उन पर कभी स्टारडम का नशा नहीं चढ़ा. उन्होंने कभी ऐसा कुछ नहीं किया, जैसी उल्टीसीधी हरकतें आमतौर पर बॉलीवुड के सितारें अक्सर सुर्खियों पाते हैं.

कभी पब्लिसिटी के लिए उल्टी सीधी हरकतें नहीं
ना ही कभी उन्होंने सस्ती पब्लिसिटी पाने के लिए कुछ किया. आमतौर पर वो उनके निर्माता निर्देशकों के उनसे खुश रहने की खबरें भी आती रही हैं, क्योंकि वो ऐसे सितारे भी रहे, जो सेट पर आते ही खुद को निर्देशक के हवाले कर देता है.

पारिवारिक व्यक्ति
सनी आमतौर पर पारिवारिक व्यक्ति हैं. अब उनका बेटा भी जवान हो चुका है. पिछले दिनों उसके कोई फिल्म में लांच होने की खबर भी आई थी. कभी ऐसी फिल्में नहीं कीं, जिसे कोई आपत्तिजनक माने.

ये भी पढ़ें: लगातार सातवीं बार हैप्पीनेस इंडेक्स में टॉप तीन में डेनमार्क, ये है इस देश की खुशी का कारण

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए गुरदासपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 23, 2019, 2:52 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...