लाइव टीवी

जानिए विंग कमांडर अभिनंदन के बारे में दस खास बातें

News18Hindi
Updated: March 1, 2019, 5:41 PM IST
जानिए विंग कमांडर अभिनंदन के बारे में दस खास बातें
अभिनंदन के एक बहादुर परिवार से आते हैं. उनकी पत्नी भी भारतीय वायुसेना में स्क्वॉड्रन लीडर रह चुकी हैं. उनके दो बच्चे हैं. जानिए, अ‌‌भिनंदन की जिंदगी से जुड़ी 10 अनसुनी बातें.

अभिनंदन के एक बहादुर परिवार से आते हैं. उनकी पत्नी भी भारतीय वायुसेना में स्क्वॉड्रन लीडर रह चुकी हैं. उनके दो बच्चे हैं. जानिए, अ‌‌भिनंदन की जिंदगी से जुड़ी 10 अनसुनी बातें.

  • Share this:
विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान पाकिस्तान से आजाद होकर भारत लौट आए हैं. उनको लेने के लिए चेन्नई से उनके माता-पिता भी वाघा बॉर्डर पहुंचे. इस मौके पर उनका जोरदार स्वागत है. हम जानते हैं इस वीर सैनिक के बारे में कुछ खास बातें

पाकिस्तानी सेना के कब्जे में कैसे आए विंग कमांडर अभिनंदन
इंडियन एयरफोर्स ने 26 फरवरी को तड़के पाक अधिकृत कश्मीर में जाकर जैश के ट्रेंनिंग कैंप को तबाह कर दिया. भारतीय वायुसेना की इस एयरस्ट्राइक में पाकिस्तान के बालाकोट स्थित जैश को ट्रेनिंग कैंप को भी तबाह किया गया. इससे खफा पाकिस्तान ने अगले दिन यानी 27 फरवरी को अपनी वायुसेना को सबसे घातक लड़ाकू विमान एफ-16 के साथ भारत भेजा.abhinandan

इसी का जवाब देने निकले थे विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान. उन्होंने अपने मिग 21 के साथ बहादुरी दिखाते हुए दुश्मनों पर करारे प्रहार किए. भारतीय वायुसेना और विदेश मंत्रालय की ओर से जारी किए बयान के अनुसार, "जवाबी कार्रवाई में भारतीय वायुसेना के मिग 21 विमान ने पाकिस्तान की ओर से भेजे गए एफ-16 को गिराया. लेकिन दुर्भाग्य से भारत का एक विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया. इसमें हमारा एक पायलट गायब हो गया. पाकिस्तान का दावा है कि उन्होंने हमारे पायलट को हिरासत में लिया."

पाकिस्तानी सेना से विंग कमांडर अभिनंदन की बातचीत की एक झलक
भारतीय वायुसेना विंग कमांडर अभिनंदन को पाकिस्तानी सेना ने हिरासत में ले लिया. पाक सेना ने उनके वीडियो सोशल मीडिया पर जारी किए. इन वीडियो को बाद में एएफपी समेत कई प्रतिष्ठित न्यूज एजेंसियों ने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किए. इसमें अभिनंदन से पूछताछ की जा रही है.

रेडक्रॉस के जरिए क्यों सौंपे जाते हैं युद्धबंदी, पायलट अभिनंदन को भी ऐसे ही रिहा करेगा पाक!सवालः तुम कौन हो?
अभिनंदनः मैं इंडियन एयरफोर्स का एक ऑफिसर हूं. मेरा सर्विस नंबर 27981 है. लेकिन पहले आप बताइए आप कौन हैं? क्या आप पाकिस्तानी सेना हैं?

एक अन्य वीडियो पाक सेना ने जारी किया, इसे भी कई प्रतिष्ठ‌ित न्यूज एजेंसियों ने आधिकारिक तौर पर जारी ‌किए. पाकिस्तानी अखबार डॉन ने भारतीय पायलट से पूछताछ और जवाब के बारे में छापा है, जिसे हम यहां ज्यों का त्यों दे रहे हैं-

पाक सेनाः आपका क्या नाम है?
अभिनंदनः विंग कमांडर अभिनंदन.
पाक सेनाः  आशा करते हैं आप हमारे साथ बेहतर महसूस कर रहे हैं.
अभ‌िनंदनः जी. मैं ठीक महसूस कर रहा हूं. यह बात मैं ऑन रिकार्ड कहना चाहता हूं. अगर मैं अपने देश वापस जा पाता हूं तब भी अपना बयान नहीं बदलूंगा. पाकिस्तानी सेना मेरे साथ अच्छा सलूक किया है. पाकिस्तानी भीड़ से मुझे बचाने से लेकर बाद में अधिकारियों से मुलाकात तक, सभी ने मुझसे अच्छा बर्ताव किया है. मैं अपनी सेना से यही अपेक्षा करता हूं कि ऐसी किसी परिस्थिति में वे भी ऐसा ही बर्ताव करेंगे. मैं पाकिस्तानी सेना से प्रभावित हूं.abhinandan
पाक सेनाः शानदार. तो विंग कमांडर आप भारत के किस जगह से आते हैं?
अभिनंदनः (चाय की चुस्कियां लेते हुए) मेजर, मैं ये कह सकता हूं कि भारत के निचले हिस्से से हूं. दक्षिण भारतीय हूं.
पाक सेना. अच्छा तो आप दक्षिण भारतीय हैं. क्या आपकी शादी हुई है?
अभिनंदनः हां, हुई है.
पाक सेनाः मैं आशा करता हूं आपको चाय अच्छी लगी.
अभिनंदनः (चाय की चुस्कियां लेते हुए व मुस्कुराते हुए) यह शानदार है. धन्यवाद.
पाक सेनाः यह बहुत पेचीदा तो सवाल नहीं है, पर क्या आप बता सकते हैं कि आप कौन सी फ्लाइट उड़ा  रहे थे?
अभिनंदनः मुझे माफ करिएगा मेजर. ये मैं आपको नहीं बता सकता. लेकिन मुझे पूरा विश्वास है कि आपको मलबा‌ मिला होगा.
पाक सेनाः आपका मिशन क्या है?
अभिनंदनः माफ कीजिएगा. मैं आपको यह नहीं बता सकता.
पाक सेनाः धन्यवाद.

एक-दो नहीं बल्कि 48 आतंकी संगठन हैं पाकिस्तान से सक्रिय

पाकिस्तानी सेना के हिरासत में रहते हुए विंग कमांडर अभिनंदन की बातचीत की शैली और उनके आत्मविश्वास को देखकर देश के प्रति उनकी जिम्मेदारियों का एहसास होता है.

आइए अभिनंदन के बारे में 10 बातें जानते हैं, जो कम लोग जानते हैं-

1. विंग कमांडर अभिनंदन 34 साल के हैं. वे नेशनल डिफेंस एकेडमी (NDA) से ग्रेजुएट हैं.
2. अभिनंदन भारत के तमिलनाडु के हैं. उनकी पैतृक जड़ें थिरुपनामूर गांव में हैं. उनके माता-पिता चेन्नई में रहते हैं. इंडियन एयरफोर्स में उनका चयन साल 2004 में एक फाइटर पायलट के तौर पर हुआ था.
3. अपने 15 सालों के कॅरियर में वे दो बार प्रमोट हो चुके हैं. पहले उन्हें एक निपुण सुखोई 30 फाइटर पायलट का खिताब मिला. बाद में उनके युद्ध कौशल को देखते हुए विंग कमांडर के तौर पर प्रमोट किया गया. इसके बाद उन्‍हें मिग 21 बिसन सौंप दिया गया.
4. उनकी एयरफोर्स की ट्रेनिंग भटिंडा और हलवारा में हुई है. वह सूर्य किरण एक्रोबेटिक टीम से हैं.
5. अभिनंदन, जानेमाने पूर्व पायलट एयर मार्शल सिम्हाकुट्टी वर्धमान के बेटे हैं. वे पूर्वी वायु कमान के मुखिया पद से सेवानिवृत्त हुए थे.

वाघा बॉर्डर की तस्वीरें


6. यह एक महज संयोग है कि विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान के पिता, एयर मार्शल एस वर्धमान, मणि रत्नम की फिल्म कात्रु वेलियिदाई में सलाहकार थे. यह फिल्म भारतीय वायुसेना के पाकिस्तान में पकड़े जाने पर ही आधारित है. फिल्म में साल 1999 के कारगिल युद्ध के दौरान भारतीय वायुसेना के स्वाक्ड्रन लीडर वरुण चक्रपाणी दुश्मन के इलाके में पहुंचते हैं और उनके फाइटर जेट को नीचे गिरा दिया जाता है. रावलपिंडी में पाकिस्तानी सेना उन्हें पकड़ लेती है. उन्हें युद्ध कैदी के तौर पर पकड़ा जाता है और यातनाएं दी जाती हैं.

आतंकी संगठन जैश की कहानी, जो अब बना पाकिस्तान के गले की हड्डी

7. अभिनंदन की मां एक डॉक्टर हैं.
8. जानकारी के मुताबिक, अभिनंदन के एक बहादुर परिवार से आते हैं. उनकी पत्नी भी भारतीय वायुसेना में स्क्वॉड्रन लीडर रह चुकी हैं. उनके दो बच्चे हैं.
9. अभिनंदन के भाई भी इंडियन एयरफोर्स को सेवाएं दे रहे हैं.
10. अभिनंदन की शुरुआती पढ़ाई चेन्नई के सैनिक वेलफेयर स्कूल, अमावतीनगर से हुई है.

दोस्तों में पढ़ने और बोलने के लिए हैं मशहूर
साल 2011 में एक टीवी चैनल ने भारतीय वायुसेना पर बनाई गई अपनी एक डॉक्यूटमेंट्री में विंग कमांडर अभिनंदन को शामिल किया था. इसमें वे अपने कुछ दोस्तों के साथ कैमरे पर दिखाई देते हैं. इस दौरान हंसी-मजाक के बीच उनके दोस्त मानते हैं कि अभिनंदन में पढ़ने को लेकर काफी संजीदगी है. वे बहुत पढ़ते हैं. साथ ही उनके दोस्तों ने ये भी माना कि वे एक अच्छे वक्ता भी हैं. वायुसेना के आंतरिक कार्यक्रमों में अभिनंदन को अक्सर बोलने के लिए कहा जाता है.

कौन है मास्टर माइंड आतंकी अजहर मसूद, जिसके होने की बात पाक ने मानी है

उस डॉक्यूमेंट्री में खाने के टेबल पर अभिनंदन कहते हैं, "सेना का काम मेरे जैसे लोगों के लिए है. सेना में सबसे ज्यादा जरूरत सहनशक्ति की होती है. हमें बेहद कठिन माहौल में भी अपने धैर्य को बनाए रखना होता है."

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए पाकिस्तान से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 1, 2019, 12:11 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर