लाइव टीवी
Elec-widget

कांग्रेस-NCP पर तीखे बयान देते थे बाल ठाकरे, अब उद्धव दोनों के सपोर्ट से बनेंगे CM

News18Hindi
Updated: November 27, 2019, 3:37 PM IST
कांग्रेस-NCP पर तीखे बयान देते थे बाल ठाकरे, अब उद्धव दोनों के सपोर्ट से बनेंगे CM
बाल ठाकरे कांग्रेस और एनसीपी के बड़े आलोचकों में से थे.

शरद पवार (Sharad Pawar) के अलावा कई कांग्रेसी नेताओं (Congress Leaders) से बाल ठाकरे (Bal Thackeray) के निजी संबंध तो मधुर रहे लेकिन जब भी बात राजनीतिक संबंधों की आई तो उन्होंने सीधा निशाना साधने से कभी परहेज नहीं किया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 27, 2019, 3:37 PM IST
  • Share this:
मुंबई. उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में महाराष्ट्र (Maharashtra) में बेहद दिलचस्प गठबंधन की सरकार बनने वाली है. राजनीतिक तौर पर लंबे समय से एक-दूसरे के आमने-सामने रहने वाले शिवसेना (Shiv Sena) और कांग्रेस-एनसीपी (Congress-NCP) अब एक साथ आ गए हैं. कांग्रेस और एनसीपी हमेशा से शिवसेना सुप्रीमो रहे बाला साहब ठाकरे के निशाने पर रहते थे. सोनिया गांधी और राहुल गांधी पर भी उन्होंने कई बार कटाक्ष किया था. सपाट बातें और अपने तीखे अंदाज के लिए पहचाने वाले बाल ठाकरे को महाराष्ट्र की राजनीति में शरद पवार के सबसे बडे़ राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी के रूप में देखा जाता था. हालांकि दोनों की व्यक्तिगत दोस्ती बेहद गहरी थी, लेकिन राजनीतिक तौर पर दोनों एक-दूसरे पर निशाना साधने से पीछे नहीं हटते थे.

ठाकरे के साथ अपने संबंधों के बारे में शरद पवार ने अपनी आत्मकथा 'ऑन माई टर्म्स' में भी जिक्र किया है. किताब के मुताबिक जब सुप्रिया सुले राज्यसभा का चुनाव लड़ने जा रही थीं तो इसकी जानकारी मिलते ही बाल ठाकरे ने शरद पवार को फोन किया था. उन्होंने पवार से पूछा कि तुमने सुप्रिया के चुनाव लड़ने के बारे में मुझे क्यों नहीं बताया? इस पर शरद पवार ने कहा कि आपका गठबंधन बीजेपी के साथ है तो आपको क्या कष्ट देना! इस पर बाल ठाकरे ने कहा था कि सुप्रिया के खिलाफ शिवसेना का कोई उम्मीदवार नहीं खड़ा होगा. शरद के अलावा कई कांग्रेसी नेताओं से भी बाल ठाकरे के निजी संबंध तो मधुर रहे, लेकिन जब भी बात राजनीतिक संबंधों की आई तो उन्होंने सीधा निशाना साधने से कभी परहेज नहीं किया.

शरद पवार के खिलाफ क्या बोले
1999 में एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के साथ गठबंधन को लेकर बाल ठाकरे ने कहा था कि मैं कैसे किसी स्काउंड्रल (दुष्ट) के साथ जा सकता हूं. मैं किसी भी दुष्ट व्यक्ति के साथ नहीं जा सकता, चाहे वो जो भी हो. एक आदमी जिसका हाथ वाजपेयी जी की सरकार गिराने में रहा हो मैं उसके साथ हाथ कैसे मिला सकता हूं? दुश्मन तो दुश्मन ही होता है. बाल ठाकरे का इशारा शरद पवार की तरफ था.

 सोनिया गांधी को लेकर बाल ठाकरे ने कई बार तीखी बयानबाजी की थी.

सोनिया गांधी को लेकर बाल ठाकरे ने कई बार तीखी बयानबाजी की थी.


सोनिया गांधी को बताया विदेशी
Loading...

बाल ठाकरे ने सोनिया गांधी पर कई बार निशाना साधा था. उन्होंने सोनिया गांधी के बारे में कहा था-'आखिर उन्हें इस देश से प्यार क्यों होगा? उनका इस देश के लिए योगदान क्या है?' दरअसल उस समय तत्कालीन सेनाध्यक्ष जनरल वीके सिंह की उम्र को लेकर विवाद चल रहा था. मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया था. इस पर बाल ठाकरे ने कहा था-देखिए देश में क्या चल रहा है? सेनाध्यक्ष की उम्र को लेकर विवाद हो रहा है, मामला कोर्ट में है. आखिर किसकी प्रतिष्ठा पर सवाल है? सोनिया गांधी की प्रतिष्ठा का सवाल तो नहीं है क्योंकि वो तो विदेशी हैं.

राहुल गांधी का उड़ाया था मजाक
बाल ठाकरे ने राहुल गांधी का भी मजाक उड़ाया था. साल 2012 में जब राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाने को लेकर अटकलें चल रही थीं. तब बाल ठाकरे ने कहा था कि राहुल गांधी कल पैदा हुए और आज प्रधानमंत्री बनना चाहते हैं.



बाल ठाकरे से प्रणब की मुलाकात पर गुस्साई थीं सोनिया
साल 2012 में प्रणब मुखर्जी राष्ट्रपति चुनाव में उम्मीदवार थे. तब बाल ठाकरे ने उन्हें समर्थन दिया था. चुनाव के दौरान समर्थन जुटाने के लिए प्रणब मुखर्जी महाराष्ट्र के दौरे पर थे. इसी दौरान उनकी मुलाकात बाल ठाकरे से हुई थी. प्रणब मुखर्जी ने अपनी किताब में लिखा है कि इस मुलाकात को लेकर सोनिया गांधी उनसे गुस्सा थीं. वो चाहती थीं प्रणब मुखर्जी बाल ठाकरे से न मिलें.

ये भी पढ़ें:

जानें शरद पवार के कितने भतीजे, कितने भाई और कितना बड़ा परिवार
Opinion : सियासी दलों के लिए यूं ही अहम नहीं है महाराष्ट्र
संविधान दिवस: जानिए कौन है वो विद्वान जिसने पहली बार लिखा था भारत का संविधान
कौन हैं सदानंद सुले जिन्होंने अजित पवार की कराई घरवापसी

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए नॉलेज से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 27, 2019, 3:03 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...