Home /News /knowledge /

Black Hole सब कुछ निगलने वाली चीज ही नहीं होते, तारे बनाने में भी करते हैं मदद

Black Hole सब कुछ निगलने वाली चीज ही नहीं होते, तारे बनाने में भी करते हैं मदद

हेनीज गैलेक्सी (Galaxy) के वह मध्य क्षेत्र जहां से 230 प्रकाशवर्ष लंबी गर्म गैस की बहाव है जो गेलेक्सी के विशाल ब्लैक होल को तारों के निर्माण क्षेत्र से जोड़ रहा है. (तस्वीर:  NASA, ESA, Zachary Schutte (XGI), Amy Reines (XGI); Image Processing: Alyssa Pagan STScI)

हेनीज गैलेक्सी (Galaxy) के वह मध्य क्षेत्र जहां से 230 प्रकाशवर्ष लंबी गर्म गैस की बहाव है जो गेलेक्सी के विशाल ब्लैक होल को तारों के निर्माण क्षेत्र से जोड़ रहा है. (तस्वीर: NASA, ESA, Zachary Schutte (XGI), Amy Reines (XGI); Image Processing: Alyssa Pagan STScI)

NASA और ESA के हबल स्पेस टेलीस्कोप (HST) ने ब्लैक होल (Black Hole) की तस्वीरों में ऐसे विस्तृत प्रमाण पाए है जो उसक नई भूमिका के बारे में बता रहे हैं. इन तस्वीरों में हेनीज2-10 गैलेक्सी में ऐसा गैसीय प्रवाह दिखाई दे रहा है जो एक ब्लैक होल से तारों के निर्माण के क्षेत्र को जोड़ रहा है. यह पहली बार है जब तारों के निर्माण में किसी ब्लैक होल की इतनी स्पष्ट भूमिका दिखाई दी है.

अधिक पढ़ें ...

    आमतौर पर ब्लैक होल (Black Hole) का नाम सुनते ही ब्रह्माण्ड (Universe) की एक ऐसी भयानक वस्तु का ध्यान आता है जो सब कुछ, यहां तक कि प्रकाश तक निगल लेता है. ब्लैक होल की धारणा के साथ यह धारणा भी काफी लंबे समय तक रही. ऐसा तब तक माना जाता रहा, जबकि विशेष परिस्थितियों में ब्लैक होल की मैग्नेटिक फील्ड की वजह से होने वाले उत्सर्जन का पता नहीं चला, लेकिन इसके बाद भी इसे निगलने वाले दानव के रूप में देखा जाता रहा है. हाल ही में नासा के हबल स्पेस टेलीस्कोप (Hubble Space Telescope) एक ऐसे ब्लैक होल की तस्वीरें ली है जो एक ड्वार्फ गैलेक्सी में तारों के निर्माण प्रक्रिया में भागीदारी कर रहा है.

    तारों की निर्माण प्रक्रिया का पोषण
    यह पहली बार है जब किसी ब्लैक होल को तारों की निर्माण प्रक्रिया का पोषण करते देखा गयाहै . यह प्रक्रिया बौनी गैलेक्सी हेनिज 2-10 में हो रही है जिसमें ब्लैक होल से निकलने वाली गैस का प्रवाह सीधे तारे के निर्माण वाले चमकीले इलाकों को जोड़ रहा है.  जैसे कोई तार पहले से घने बादलो को तारों का पुंज बनाने की प्रक्रिया शुरू कर रहा हो.

    ब्लैक की उत्पत्ति की गुत्थी
    खगोलविदों में इस बात की पहले भी बहस होती रही है कि क्या ड्वार्फ गैलेक्सी में भी विशाल गैलेक्सी की तरह सुपरमासिव  ब्लैक होल के जैसा ब्लैक होल हो सकता है. वहीं ड्वार्फ गैलेक्सी का अध्ययन सुपरमासिव ब्लैक होल की उत्पत्ति और विकास कैसे हुआ.

    धीमी गति का प्रवाह
    यह ब्लैक होल दक्षिणी तारामंडल पिक्सिस में 3 करोड़ प्रकाशवर्ष दूर स्थित हेनीज 2-10 गैलेक्सी  के केंद्र में स्थित है. इस  ब्लैक होल और तारों के निर्माण के क्षेत्र के बीच की दूरी 230 प्रकाश वर्ष है. और तारों का निर्माण क्षेत्र पहले से ही गैस का घना क्षेत्र है जहां 10 लाख मील प्रति घंटा की धीमी गति से  ब्लैक होल का यह गैसीय प्रवाह पहुंचा है.

    Space, Black Hole, NASA, ESA, Galaxy, Dwarf Galaxy, Stars, Star formation, Hubble Space Telescope

    सामान्यतया ब्लैक होल (Black Hole) पदार्थों को निगलने वाला माना जाता है, जो तारों के निर्माण को रोकते हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर: Pixabay)

    दस साल पहले खोजा गया था ब्लैक होल
    हेनीज 2-10 गैलेक्सी में तारों की संख्या मिल्की वे के तारों के संख्या की दस प्रतिशत है. दस साल पहले यहां ब्लैक होल मिलने के बाद से हालिया अध्ययन इसी सप्ताह नेचर में प्रकाशित हुआ है. लेकिन दस साल पहले ही सुपरमासिव ब्लैक होल की उत्पत्ति की गुत्थी सुलझने की गुत्थी जाग गई थी.

    यह भी पढ़ें:   जानिए मिनी सुपरमासिव ब्लैक होल के बारे में, अब तक का सबसे छोटा है ये

    विशाल गैलेक्सी से उलट प्रभाव
    यह उस प्रभाव के बिलकुल उलट है जो विशाल गैलेक्सी में देखा जाता है, जहां ब्लैक होल में गिर रहे पदार्थ उसकी मैग्नेटिक फील्ड के प्रभाव से प्लाज्मा के जेट के रूप में प्रकाश की गति से बाहर निकलते हैं. इस जेट प्रवाह में आने वाले गैस के बादल इतने ज्यादा गर्म हो जाते है कि उनसे तारों का निर्माण नहीं हो सकता. लेकिन हेनिज 2-10 में यह प्रवाह धीमी गति से हो रहा है जिससे नए तारों का निर्माण हो रहा है.

    Space, Black Hole, NASA, ESA, Galaxy, Dwarf Galaxy, Stars, Star formation, Hubble Space Telescope

    विशाल गैलेक्सी (Galaxy) की सुपरमासिव ब्लैक होल में इस तरह का बर्ताव देखने को नहीं मिलता है. (प्रतीकात्मक तस्वीर: shutterstock)

    और भी होगा अध्ययन
    हेनीज 2-10 के केवल 3 करोड़ प्रकाशवर्ष दूर ही होने के कारण हबल ब्लैक होल के प्रवाह की तस्वीरों के साथ स्पैक्ट्रोस्कोपिक प्रमाण दोनों हासिल कर सका. इसमें हैरानी की बात यह थी कि तारों के निर्माण को रोकने की जगह यह प्रवाह उसमें मददगार हो रहा है. उम्मीद की जा रही है कि भविष्य में इस गैलेक्सी और उसके ब्लैक होल पर और अध्ययन होगा.

    यह भी पढ़ें:    मिल्की वे गैलेक्सी से हुए थे ‘हाल’ ही में बड़े टकराव, और भी होंगे

    शोधकर्ताओं को उम्मीद है कि गैलेक्सी और ब्लैक होल के भार के बीच का संबंध और ज्यादा जानकारी दे सकता है. इस ब्लैक होल का भार दस लाख सौर भार है. विशाल गैलेक्सी में ब्लैक होल का भार एक अरब सौर भार तक हो सकता है. यहां ज्यादा भारी गैलेक्सी होने पर ब्लैक होल का भार भी ज्यादा होता है. ड्वार्फ गैलेक्सी ब्लैक की उत्पत्ति के संकेत अपने छिपाए रख सकती हैं.

    Tags: Black hole, Galaxy, Nasa, Research, Science, Space

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर