280 km/h की स्पीड का रिकॉर्ड, कैसी साइकिल से कैसे बना?

Bhavesh Saxena | News18Hindi
Updated: August 21, 2019, 5:00 PM IST
280 km/h की स्पीड का रिकॉर्ड, कैसी साइकिल से कैसे बना?
रिकॉर्ड बनाने वाले साइकिलिस्ट नील कैंपबेल.

174 मील प्रतिघंटे की रफ्तार हासिल कर कैंपबेल (Neil Campbell) दुनिया के सबसे तेज़ साइकिल धावक (Fastest Cyclist) बने. लेकिन दिलचस्प ये है कि इतनी रफ्तार किस साइकिल से और कैसे हासिल की गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 21, 2019, 5:00 PM IST
  • Share this:
लगन हो तो क्या नहीं हो सकता! यह बात साबित की ब्रिटेन में कभी आर्किटेक्ट (British architect) रह चुके नील कैंपबेल ने, जब तीन दिन पहले उन्होंने साइकिल की रफ्तार का एक रिकॉर्ड (Cycle Speed Record) कायम किया. साइकिल चलाने की उच्चतम औसत रफ्तार रही 280 किलोमीटर प्रतिघंटा! जी हां, ये रफ्तार एक कस्टम की हुई साइकिल पर पैडल मारकर कैंपबेल ने रफ्तार का ये रिकॉर्ड बनाकर दुनिया में सबसे तेज़ साइकिल चलाने वाले आदमी (Fastest Male Cyclist) होने की उपलब्धि हासिल की. अब इस कहानी में कुछ सवालों के जवाब हम आपको बताते हैं जैसे ये रिकॉर्ड कैसे मुमकिन हुआ, किस तरह की साइकिल से बना और क्या यही साइकिल स्पीड का वर्ल्ड रिकॉर्ड है.

ये भी पढ़ें : नासा के 'सूर्ययान' के पीछे रहा एक भारतीय वैज्ञानिक का अहम रोल

कैसे, कब और कहां बना ये रिकॉर्ड?
साइकिल की सबसे तेज़ रफ्तार निकालने वाले पुरुष थे फ्रेड रॉम्पेलबर्ग (Fred Rompelberg), जिन्होंने 1995 में 268.8 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से साइकिल चलाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड (World Record) बनाया था. तीन दिन पहले ही कैंपबेल ने इंग्लैंड के यॉर्कशायर (Yorkshire, England) के एक हवाई पट्टी पर साइकिल चलाई और एक पोर्शे कार (Porsche Car) की कवचनुमा मदद लेकर नया रिकॉर्ड बनाया. फ्रेड के रिकॉर्ड के साथ ही अपने पिछले रिकॉर्ड को तोड़ने के लिए 45 वर्षीय कैंपबेल नौकरी छोड़कर कई सालों से साइकिलिंग में जुटे हैं.

ज़रूरी जानकारियों, सूचनाओं और दिलचस्प सवालों के जवाब देती और खबरों के लिए क्लिक करें नॉलेज@न्यूज़18 हिंदी

पोर्शे की मदद क्यों और कैसे ली गई?
साइकिल जब इतनी तेज़ रफ्तार से चलती है तो वह हवा का दबाव पूरी तरह झेल सके, धावक को सांस लेने के लिए शुद्ध हवा मिल सके और साइकल धावक को शुरूआती एक्सलरेशन यानी त्वरित गति मिल सके, इन तमाम कारणों से साइकिलिंग के इस ​तरह के रिकॉर्ड बनाने के लिए एक कवर के रूप में कार का इस्तेमाल किया जाता है. कैंपबेल ने पोर्शे को चुना और इसकी मदद से उन्हें साफ हवा समेत ये भी मदद मिली कि शुरूआती वेग मिला और हवा का दबाव स्थिर रखा जा सका. एक तय गति के बाद कैंपबेल की साइकिल पोर्शे से अलग होकर दौड़ी और फिर पैडल मारकर कैंपबेल ने अपना रिकॉर्ड कायम किया.
Loading...

cycle speed record, fastest cyclist, cycle speed world record, fastest cycle, cycle sport, साइकिल स्पीड रिकॉर्ड, साइकिल धावक, मशहूर साइकिलिस्ट, सबसे तेज़ साइकिल, साइकिल स्पोर्ट
कैंपबेल ने हवाई पट्टी पर साइकिल चलाई और पोर्शे कार की कवचनुमा मदद लेकर नया रिकॉर्ड बनाया. प्रतीकात्मक तस्वीर.


कितनी खास है ये साइकिल?
जिस साइकिल की मदद से कैंपबेल ने रिकॉर्ड बनाया, वो बनी बनाई नहीं मिलती बल्कि उसे खुद अपने हिसाब से कस्टमाइज़ किया जाता है. इसमें कैंपबेल ने 3डी प्रिंटेड पार्ट्स लगवाए. पहियों का रीम छोटा रखा गया और टायर बड़े ताकि ग्रिप और स्थिरता बेहतर रहे. स्पीड के लिए पैडल पैनल के पीछे एक गियर पैनल था. कार्बन फाइबर चेन रिंग्स इस साइकिल में लगवाई गईं. खुद कैंपबेल ने बाइक हैलमेट और लैदर की ड्रेस पहनी और साइकिल में एक पैराशूट का इंतज़ाम भी किया गया, जो तेज़ गति के दौरान साइकिल को नियंत्रित करने में मददगार था. कुल मिलाकर इस साइकिल यानी मॉस बाइक की कीमत 18 हज़ार डॉलर यानी करीब 13 लाख रुपये की रही.

अब क्या है अगला टारगेट?
174 मील प्रति घंटे का ये रिकॉर्ड कायम करने के बाद कैंपबेल बेहद उत्साहित हैं और अपने इस रिकॉर्ड को गिनीज़ बुक के लिए भेजने की कवायद कर रहे हैं. उनका कहना है कि वह अगले साल अपना ये रिकॉर्ड तोड़ने की कोशिश करेंगे और उनकी नज़र 200 मील यानी 321 किमी प्रतिघंटे की स्पीड पाने की रहेगी. ऐसा हुआ तो ये वर्ल्ड रिकॉर्ड बनेगा. जी हां, कैंपबेल ने 280 किमी प्रतिघंटे की साइकिल रफ्तार का जो रिकॉर्ड कायम किया है, वह अभी वर्ल्ड रिकॉर्ड नहीं है लेकिन कैंपबेल सबसे तेज़ साइकिल चलाने वाले पुरुष ज़रूर बन गए हैं.

cycle speed record, fastest cyclist, cycle speed world record, fastest cycle, cycle sport, साइकिल स्पीड रिकॉर्ड, साइकिल धावक, मशहूर साइकिलिस्ट, सबसे तेज़ साइकिल, साइकिल स्पोर्ट
अमेरिकी साइकिलिस्ट डेनिस म्यूलर कोरेनेक ने 296 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से साइकिल चलाई थी.


महिला के नाम है वर्ल्ड रिकॉर्ड
साइकिल की सबसे ज़्यादा स्पीड का वर्ल्ड रिकॉर्ड फिलहाल अमेरिकी साइकिलिस्ट डेनिस म्यूलर कोरेनेक के नाम है, जिन्होंने पिछले साल अमेरिका के उटा में 183.9 मील यानी करीब 296 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से साइकिल चलाई थी. तीन बच्चों की मां और बिज़नेसवूमन रहीं डेनिस ने अपने काम से एक तरह से संन्यास लेकर साइकिलिंग के जुनून को पूरा समय दिया और अपनी लगन के बलबूते 1995 का फ्रेड का रिकॉर्ड तोड़ा था.

ऐसा रहा है साइकिल स्पीड का इतिहास
हवा से बातें करती हुई सा​इकिल चलाने का इतिहास 120 साल पुराना है. 1899 में पहली बार चार्ल्स मर्फी ने 60 मील प्रतिघंटे की रफ्तार से साइकिल चलाने का रिकॉर्ड बनाकर दुनिया में हंगामा मचा दिया था. इसके बाद ये रिकॉर्ड चार दशक बाद टूट सका जब 1941 में अल्फ्रेड लैटरनर ने 108.92 मील प्रति घंटे की रफ्तार से साइकिल चलाई. 1973 में डॉ. एलन अबॉट ने 140 मील प्रतिघंटे तो 1985 में जॉन होवार्ड ने 152.2 मील प्रतिघंटे की रफ्तार का रिकॉर्ड बनाया.

ये भी पढ़ें:
दुनिया में सबसे ज़्यादा भारत की गाड़ियां और चिमनियां उगलती हैं ये ज़हर
बॉर्डर पर बसे इस शहर के हिंदू घरों, मंदिरों पर लहरा रहा है पाकिस्तानी झंडा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए अन्य खेल से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 21, 2019, 5:00 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...